ENGLISH HINDI Sunday, August 25, 2019
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

होटलो ने अपनाया रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

May 14, 2019 06:52 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा) दक्षिणी एशिया की सबसे बड़ी तथा दुनिया में होटल्स, होम्स एवं लिविंग स्पेसेज़ की सबसे तेज़ी से विकसित होती चेन ओयो होटल्स एण्ड होम्स शिमला में व्यापक वर्षा जल संचयन प्रणाली (रेन वाटर हार्वेटिस्टंग सिस्टम्स) को लागू करने में सबसे अग्रणी स्थिति पर है। इस पहाड़ी शहर में जल संरक्षण को बढ़ावा देने वाली स्थायी पर्यटन प्रथाओं को प्रोत्साहित करना तथा शिमला के होटल मालिकों और यात्रियों को अनूठा अनुभव प्रदान करना इस पहल का मुख्य उद्देश्य है। अपने सीएसआर असिस्टेन्स प्रोग्राम, ओयो रीच के माध्यम से कंपनी ने शिमला में ओयो होटलों को वर्षा जल संचयन की तकनीकों एवं प्रणाली को अपनाने के लिए ज़रूरी तकनीकी और आर्थिक सहयोग प्रदान किया है। इसके साथ शिमला में मौजूद ओयो की 83 फीसदी प्रापर्टीज़ वर्षा जल संचयन के अनुरूप हो गई हैं। इस तकनीक को लागू करने से होटलों में 81,000 लीटर पानी की संभावी बचत हो सकेगी।
आदित्य घोष, सीईओ, भारत और दक्षिणी एशिया, ओयो होटल्स एण्ड होम्स ने कहा, ‘‘शिमला पिछले कुछ सालों से पानी की कमी के गंभीर संकट से जूझ रहा है और हम इस समस्या को हल करने में योगदान देना चाहते हैं। पुनीत चैपड़ा, प्रापर्टी मालिक, होटल अल्पाईन हेरिटेज होटल, जो ओयो में इस तकनीक को सबसे पहले अपनाने वाले होटल मालिकों में से हैं, उन्होंने कहा, ‘‘गर्मियों में हर साल शिमला को भारी जल संकट से जूझना पड़ता है, पिछले साल तो हालात इतने बिगड़ गऐ कि इसका असर पर्यटकों की संख्या पर पड़ने लगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
चार साल पहले गिरे पुल दोबारा नहीं बने तो ग्रामीणों ने अंदोलन की ठानी हिमाचल के दबंग एसपी को लेकर कांग्रेस के रवैये से लोग हैरान हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र शुरू आर्किमिडीज, न्यूटन और आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती उड़ीसा विधान सभा समिति देखेगी 22 को हिमाचल विधानसभा में मानसून सत्र की कार्यवाही बारिश का कहर, 6 जिलों में ये अलर्ट जारी मनाली में अटल की स्मृतियां संजोये गी सरकार प्रदेश में हर्षोल्लास व उत्साह के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस छैला-सोलन सड़क बड़े वाहनों के लिए भी खोली गई: भारद्वाज केन्द्र सरकार देश के छः अल्पसंख्यक समुदायों के पिछड़े मेधावियों को देगी छात्रवृत्ति