ENGLISH HINDI Sunday, August 25, 2019
Follow us on
 
राष्ट्रीय

ऋषिकेश एम्स में उच्च रक्तचाप पर दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित

May 17, 2019 09:03 PM

ऋषिकेश (ओम रतूड़ी) अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में शुक्रवार को विश्व उच्चरक्तचाप दिवस पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस अवसर पर स्लोगन लेखन प्रतियोगिता व विभिन्न वर्गों की मैराथन प्रतियोगिता आयोजित की गई। एम्स के कम्यूनिटी एंड फेमिली मेडिसिन विभाग की ओर से विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया। शुक्रवार सुबह उच्च रक्तचाप के प्रति जनजागरूकता के लिए आयोजित मैराथन दौड़ को संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर निदेशक एम्स ने उच्च रक्तचाप से बचने के लिए नियमित तौर पर शारीरिक श्रम बढ़ाने व व्यायाम पर जोर दिया। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने बताया कि संतुलित आहार उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने का सबसे कारगर उपाय है।साथ ही बताया कि मेडिटेशन द्वारा भी स्ट्रेस को कंट्रोल किया जा सकता है। निदेशक एम्स प्रो.रवि कांत ने हाईपरटेंशन पर कारगर नियंत्रण के लिए बचपन से ही स्वस्थ जीवनशैली अपनाने पर जोर दिया। इस अवसर पर आयोजित विभिन्न वर्गों की मैराथन में अंडर ग्रेजुएट में दीपांशु व काश्वी और पीजी ग्रुप में जतिन व अनुशिखा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। जबकि फैकल्टी ग्रुप में डा.मीनाक्षी खापरे व डा.पुनीत कुमार गुप्ता ने बाजी मारी। इसके अलावा स्लोगन लेखन प्रतियोगिता में एमबीबीएस 2016 व 17 बैच के 37 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। जिसमें 2017 बैच की काश्वी प्रथम, कीर्ति नारंग द्वितीय व काजल ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर एम्स में फैमिली मेडिसिन ओपीडी के अलावा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रायवाला व पीएचसी थानों में रोगियों के उच्च रक्तचाप की जांच की गई। जबकि फैमिली मेडिसिन विभाग में संस्थान के सिक्योरिटी व सैनेट्री स्टाफ मैंबर्स का उच्च रक्तचाप संबंधी परीक्षण किया गया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें