ENGLISH HINDI Thursday, September 24, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल में सरकार ने पूर्व मंत्री से सरकारी गाड़ी वापस ली

May 21, 2019 01:23 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा) हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार ने पूर्व मंत्री अनिल शर्मा से सरकारी गाड़ी वापस ले ली। मंत्री पद से इस्तीफा देने के करीब डेढ़ महीने बाद अनिल शर्मा से सरकारी गाड़ी वापस ली गई है। प्रदेश सरकार के जी.ए.डी. विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पूर्व मंत्री अनिल शर्मा ने हाल ही में ट्योटा फॉर्चूनर गाड़ी सरकार को वापस लौटा दी है। इसके साथ प्रदेश सरकार ने सचिवालय में एक मंत्री के बैठने की व्यवस्था में भी बदलाव किया है। सचिवालय में कमरा नंबर 229 जहां पर पूर्व मंत्री अनिल शर्मा का कार्यालय था उसे अब सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. राजीव सहजल को दे दिया है। यहां उनके नाम की पटिका भी लग चुकी है।
प्रदेश सरकार ने अनिल शर्मा से वाहन तो वापस ले लिया लेकिन मंत्री आवास नहीं ले पाई है। जी.ए.डी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश सरकार ने बैनमोर स्थित सरकारी आवास को खाली करने के लिए एक बार फिर से नोटिस जारी किया है जो अभी तक पूर्व मंत्री को नहीं मिला है। हालांकि नियमों के मुताबिक मंत्री पद छोडऩे के 15 दिन बाद सरकारी आवास खाली करना होता है लेकिन अनिल शर्मा अपने हाथों में नोटिस आने के बाद ही उसे खाली करना चाहते हैं।
उल्लेखनीय है कि श्री शर्मा ने गत 12 अप्रैल को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उसके एक सप्ताह बाद सरकार के जी.ए.डी. विभाग ने सरकारी आवास खाली करने बारे नोटिस भी जारी किया था। उसके बाद मतदान के बाद यानी सोमवार को भी अनिल शर्मा को दूसरा नोटिस जारी कर एक सप्ताह में मंत्री आवास खाली करने को कहा है। पूर्व मंत्री अनिल शर्मा ने कहा कि मैंने जयराम सरकार की गाड़ी लौटा दी है, जहां तक मंत्री आवास की बात है तो अभी तक कोई नोटिस नहीं मिला। जल्द ही खाली कर दूंगा।

 

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
छात्रवृति योजनाओं की ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवम्बर साईकलिंग को बनायें स्वस्थ जीवन का हिस्सा आपदा स्थिति में त्वरित राहत एवं बचाव कार्यों से किया जा सकता है जानमाल की क्षति को कम ग्रामीण विकास कार्यों की रफतार बढ़ाने पर दें जोर: एडीसी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आई, हो रही है अब फसली नुकसान की भरपाई खांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षण वाले व्यक्ति हेल्पलाईन नम्बर 104 या 1077 पर करें सम्पर्क 12 रूटों पर रात्रि बस सेवा आरम्भ की जाएंगी ट्रूनाट और रैपिड एंटीजेन टेस्ट तकनीक कोविड-19 की लड़ाई में बनी गेम चेंजर: सीएमओ कोविड-19 मरीजों का ईलाज कर रहे चिकित्सकों व पैरा-मेडिकल स्टाफ की सुरक्षा भी सुनिश्चित होः मुख्यमंत्री आवश्यक वस्तुओं के परचून विक्रय मूल्य किए निर्धारित