ENGLISH HINDI Wednesday, November 13, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
अमृत कैंसर फाउंडेशन और एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स और एजी ऑडिट पंजाब ने महिला स्टाफ़ के लिए लगाया कैंसर अवेयरनेस एंड डिटेक्शन कैम्पकैन बायोसिस ने पराली से होने वाले प्रदुषण के समाधान के लिए पेश किया स्पीड कम्पोस्टरोजाना एक हज़ार बार "धन गुरु नानक" लिख रहें हैं मंजीत शाह सिंहपुत्रमोह मे फँसे भारतीय राजनेता एवं राजनीति, गर्त मे भी जाने को तैयारअज्ञात बुजुर्ग का शव मिलाहोटल भी अवैध, एसटीपी भी नहीं, कौन दे रहा लोगों की सेहत से खिलवाड़ की इजाजतमंदिर बनाने के हक में देर से आया सुप्रीम कोर्ट का दरूसत फैसला- सतिगुरू दलीप सिंह जीपूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन ने गुरु नानक देव के 550वें प्रकटोत्सव के उपलक्ष्य में छठ पूजा स्थल पर दीपमाला
हरियाणा

रोहतक के डेंटल कॉलेज को उत्कृष्ट व्यवस्था पर तीसरा स्थान प्राप्त

May 27, 2019 07:44 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंडित भगवत दयाल शर्मा आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, रोहतक के डेंटल कॉलेज को उत्कृष्ट शैक्षणिक व्यवस्था संचालित करने, अव्वल आधारभूत संरचना, कैरियर निर्माण तथा प्लेसमैंट सुविधाएं उपलब्ध करवाने हेतु देश में तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा पीजीआईएमएस रोहतक को भी भारत के शीर्ष 40 मेडिकल कॉलेजों में स्थान दिया गया है।
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन एवं संस्थान प्रबन्धन को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इससे पीजीआईएम, रोहतक की देशभर में साख बनी है, जिसको भविष्य में भी बनाए रखना है। एक मीडिया हाऊस द्वारा किए गए सर्वेक्षण में मरीजों को दी जा रही सुविधाओं में संस्थान को बेहतर पाया गया है।
संस्थान के प्राचार्य डॉ. संजय तिवारी ने कहा कि पीजीआईडीएस, रोहतक उत्कृष्ट आधारभूत संरचना और आधुनिक बुनियादी सुविधाओं से युक्त है। संस्थान में अति आधुनिक डेंटल चेयर, 2 डेंटल ऑपरेटिंग माइक्रोस्कोप, 1 सिरेमिक भ_ी, 2 धातु सिरेमिक भ_ी, 11 रेडियो-विजियोग्राफिक यूनिट, 3 इंप्लांट यूनिट, 3 डिजिटल ओपीजी मशीनें, एक स्टेट आर्ट ऑफ सीटीबीटी, वातानुकूलित कुर्सियां और सभी आधुनिक उपकरणों के साथ एक वातानुकूलित मोबाइल डेंटल वैन की सुविधा भी है। इसके साथ ही सभी स्नातकोत्तर क्लीनिक और ऑपरेशन थियेटर भी वातानुकूलित हैं।
डॉ. तिवारी ने बताया कि इस वर्ष विश्वविद्यालय द्वारा पीजीआईडीएस रोहतक में माइक्रो-एंडोडोन्टिक्स, इम्प्लांटोलॉजी, मैक्सोलोफेशियल प्रोस्थेटिक्स, मैक्सिलोफेशियल ट्रॉमा, फॉरेंसिक ओडोंटोलॉजी और मैक्सिलोफासियल में एमडीएस पाठ्यक्रमों में सुपर स्पेशियलिटी के लिए 7 नए फेलोशिप कार्यक्रम, प्रोस्थेसिस और मैक्सिलोफैशियल प्रत्यारोपण शुरू करने की योजना है। उन्होंने बताया कि पीजीआईएमएस की प्रतिदिन औसतन 5000 से अधिक मरीजों की ओपीडी और लगभग 1000 मरीजों को आपातकालीन विभाग में मुफ्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।
उन्होंने कहा कि संस्थान में हरियाणा व अन्य राज्यों के जरूरतमंद रोगियों का लगभग मुफ्त में उपचार किया जा रहा है। संस्थान में स्नातकोतर डेंटल सर्जन की सभी 9 शाखाओं में विशिष्टताओं की शिक्षा दी जा रही है। इसके अलावा सभी पीजी क्लीनिक पूरी तरह से वातानुकूलित और अल्ट्रा-मॉडर्न डेंटल वार्ड से सुसज्जित हैं और आपातकालीन क्लिनिक मरीजों को चौबीसों घंटे सेवाएं प्रदान कर रही है। इसके अतिरिक्त संस्थान में वातानुकूलित लेक्चर थिएटर, ऑडियो-विजुअल एड्स तथा 300 सिटिंग कैपेसिटी वाला एक बेहतरीन ऑडिटोरियम, इमरजेंसी ऑपरेशन थियेटर, कॉन्फ्रेंस हॉल भी हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
हरियाणा पुलिस का ई-सिगरेट पर अंकुश लगाने के लिए विशेष अभियान शुरू युवा अधिवक्ता ही न्याय प्रणाली का भविष्य: न्यायमूर्ति राजन गुप्ता सीएम मनोहर लाल पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा के छोटे भाई के निधन पर शोक प्रकट करने पहुंचे 80 वर्ष की आयु पार करने वाले बिजली पैंशनर्स को सम्मानित करेगी बिजली पैंशनर एसोसिएशन बरसाती जल भराव से मुक्ति के लिए बनवाया मास्टर प्लॉन पराली जलाने वाले संवेदनशील गांव चिन्हित, अधिकारियों की लगाई ड्यूटी 18 लाख रुपये की चोरीशुदा संपत्ति बरामद कुरुक्षेत्र में 26 दिसंबर को सूर्य ग्रहण मेले का आयोजन एचटेट पात्र अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र 8 नवम्बर से उपलब्ध सूरजकुंड मेला-2020 में उज्बेकिस्तान होगा ‘भागीदार राष्ट्र’