ENGLISH HINDI Wednesday, April 01, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ायाकोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर14 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान: मुख्यमंत्रीगड़बड़झाला: दवा के नाम पर प्रशासन की आंखों में धूल झौंक रहे नगर परिषद अधिकारी व ठेकेदारगुरु का लंगर आई हॉस्पिटल ने प्रवासी मजदूरों और गरीब परिवारों में लंगर वितरण कियादिल्ली में गैर-सरकारी संस्थाओं से हिमाचलवासियों की मदद का अनुरेाधहरियाणा में 70,000 लोगों की क्षमता के 467 राहत शिविर स्थापितमरकज की तबलीगी जमात से लौटे नागरिकों की तुरंत दे सूचना: डीसी
पंजाब

नशा मुक्त समाज निर्माण करने के लिए सभी वर्गों के लोग प्रयास करें: एसएसपी

June 18, 2019 10:13 PM

जीरकपुर, जेएस कलेर

सरकार के आदेशों पर पंजाब पुलिस की तरफ से राज्य को नशा मुक्त करने के प्रयासों के अंतर्गत शुरु की गई राज्यस्तरीय मुहिम के अंतर्गत ज़ीरकपुर पटियाला सड़क पर स्थित जी.एम.रिजॉर्ट में सब डिविज़न स्तर का 'नशा विरोधी सैमीनार' एसएचओ गुरचरन सिंह की देखरेख में करवाया गया। ज़िला पुलिस प्रमुख मोहाली हरचरन सिंह भुल्लर (आईपीएस) मुख्य मेहमान के तौर पर शामिल हुए।

 
 
सैमीनार के आरंभ में डा. जतिन्दर शर्मा ने मेहमानों स्वागत किया और पुलिस प्रशासन की नशा विरोधी मुहिम की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि नशा एक कोढ़ की तरह है, जिसके संपूर्ण ख़ात्मे के लिए मिल कर प्रयास करने की ज़रूरत है। एसएसपी हरचरन सिंह भुल्लर ने कहा कि पंजाब सरकार राज्य में से नशा ख़त्म के लिए पूरी तरह के साथ गंभीर और वचनबद्ध है और इस बीमारी को ख़त्म करके ही दम लिया जायेगा।

उन्होंने दावा किया कि सरकार ने राज्य को नशा मुक्त करने के लिए ज़मीनी स्तर पर काम करना शुरू किया हुआ है और इसके लिए गाँवों, शहरों, वार्डों और मोहल्ला स्तर पर ड्रग ऐब्यूज प्रीवैसन अफ़सर नियुक्त किये गए हैं। जिनमें सरकारी, पंचायती राज के नुमायंदे और वालंटियर भी शामिल हैं, जो समाज में नशे की रोकथाम के लिए सक्रिय भूमिका निभाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद इस गंभीर बीमारी को जड़ खोदने के लिए समाज के सभी वर्गों को सहयोग के लिए आगे आने की ज़रूरत है। उन्होंने यह भी कहा कि नशे को समाप्त करनव के लिए सब से और ज्यादा कारगर भूमिका बच्चों के माता पिता और अध्यापक निभा सकते हैं, क्योंकि माता पिता और अध्यापकों की मनुष्य के जीवन को मार्ग दर्शन में अहम भूमिका होती है।

उन्होंने कहा कि यदि यह दोनों वर्ग अपनी ज़िम्मेदारी को ओर अच्छी तरह निभाने हैं तो यह नशा मुक्त समाज की सृजन करना की तरफ बड़ा कदम होगा। उन्होंने सभी पुलिस आधिकारियों और कर्मचारियों को सख़्त हिदायत की है कि क्षेत्र में नशो की तस्करी को पूरी सख़्ती के साथ रोका जाये।  जो कोई नशे के कारोबार में लिप्त है उंसके ख़िलाफ़ सख़्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी, जिससे पंजाब सरकार की ओर से चलाई जा रही नशा मुक्ति मुहिम के अंतर्गत क्षेत्र में से नशे की बीमारी को जड़ से उखाड़ा जा सके।

ज़िला पुलिस प्रमुख ने साथ ही सभी पुलिस आधिकारियों और कर्मचारियों को भी सख़्त शब्दों में कहा है कि नशे के मामलो में अगर किसी ने कोई ढीली करवाई की तो उंसके ख़िलाफ़ भी विभागीय कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में नशे की बिक्री को किसी भी हालत में बरदाश्त नहीं किया जायेगा।

इस मौके एसएसपी भुल्लर की तरफ से 4 युवाओं को नशा छोड़ने के लिए विशेष तौर पर सम्मानित किया गया। उन्होंने कहा कि नशों संबंधित जो भी शिकायतें उन तक या अन्य पुलिस आधिकारियों के ध्यान में आ रही हैं उन पर तत्काल तौर पर सख़्त कार्यवाही की जा रही है।

स. भुल्लर ने कहा कि लोगों के साथ नज़दीकी बढ़ाने के लिए पब्लिक पुलिस मीटिंग्स आयोजित की जाएंगी। उन्होंने लोगों से अपील की कि यदि उनको बुरे काम करने वाले व्यक्तियों का पता लगता है तो वह उसकी सूचना पुलिस को ज़रूर दें जिससे अपराधियों को मौके पर काबू किया जा सके। हरचरन सिंह भुल्लर ने लोगों को यह भी अपील की कि वह अपने किरयेदारों की पुलिस वैरीफिकेशन ज़रूर करवाए। यहाँ तक कि वह अपने घर में भी किरायेदारों, रखे गए पेइंग गैस्ट्स का रजिस्टर मेन्टेन करें और उनके नज़दीकियाँ के विवरण भी दर्ज करें जिससे अपराध करने वालों पर नकेल डाली जा सके।

पत्रकारों की ओर से ज़ीरकपुर क्षेत्र में देर रात तक चलाए जा रहे डिस्को क्लबों के मामलें सम्बन्धित पूछे सवाल के जवाब में उन्होंने डीएसपी डेराबस्सी को ऐसे डिस्को क्लब मालिकों विरुद्ध सख़्त कानूनी कार्रवाई करने की हिदायत की।
स. भुल्लर ने इस मौके सड़क हादसों को रोकने के लिए लोगों को ट्रैफ़िक नियमों की पालना करने को यकीनी बनाने की भी अपील की।

इस मौके डीएसपी डेराबस्सी गुरबक्शीश सिंह, ढकोली थानामुखी एस.आई संदीप कौर, डेराबसी थानामुखी सतिंदर सिंह, ज़ीरकपुर ट्रैफ़िक इंचार्ज सरबजीत सिंह, डा. जतिन्दर शर्मा और बलटाना चौंकी इंचार्ज भिन्दर सिंह के अलावा अलग -अलग वार्डों से आए सरकार की ओर से नियुक्त नशा विरोधी समितियों के मैंबर और लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ाया कोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर गड़बड़झाला: दवा के नाम पर प्रशासन की आंखों में धूल झौंक रहे नगर परिषद अधिकारी व ठेकेदार कोरोना के संदेह में किशोर व किशोरी बरनाला के आइसोलेशन अस्पताल दाखिल नियम-कानूनों की उल्लंघना कर बेलगाम घूम रहे मंत्रियों, विधायकों की लगाम कसें कैप्टन: मान प्रवासी मज़दूरों की शरण के लिए स्कूलों की इमारतें खुलवाने के निर्देश प्रवासी भारतीयों /विदेशी यात्रियों की सुविधा के लिए स्वै-घोषणा फार्म जारी धारा 144 की उल्लंघना: दो पुजारियों सहित 37 गिरफ्तार, 22 पर केस मेडीकल व अन्य सेवाओं हेतु पायलट प्रोजैक्ट— पुलिस एमरजैंसी सर्विसिज़ एप (पीईएसए) की शुरूआत कृषि विभाग द्वारा किसानों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम स्थापित