ENGLISH HINDI Friday, December 13, 2019
Follow us on
 
पंजाब

लापरवाही बनी मुसीबत, नालों की सफाई न होने से दुकानों में भरा गंदा पानी

July 09, 2019 08:50 PM

जीरकपुर, जे एस कलेर:
नगर कौंसिल व एनएचएआई द्वारा बारिश से पहले नालों की सफाई की बात कही जा रही थी, लेकिन अभी तक नालों की सफाई नहीं हो सकी है। अधिकारियों की लापरवाही लोगों के लिए मुसीबत बन रही है। लोगों ने नालों की सफाई के लिए कौंसिल अधिकारियों से शिकायत भी की थी, लेकिन इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया, अब जब मानसून आ गया है और आज एक घँटा पड़ी बारिश से ही लोगों के घरों और दुकानों में पानी घुस गया। आलम यह है कि नाले की गंदगी सड़कों पर जमा हो गई है। जिसके कारण लोग परेशान हैं।  


पटियाला रोड़ से वार्ड 25 स्थित पभात गांव को जाने वाली लिंक सड़क में अक्सर बारिश के समय पानी एकेएस कॉलोनी में भर जाता है। लोगों के घरों तक गंदा पानी पहुंच जाता है। इसको लेकर करीब एक महीने पहले से लोग अधिकारियों से शिकायत कर रहे थे कि नाले की सफाई कर दी जाए और गंदगी के ढेर को हटा दिया जाए। जिससे बारिश के समय यह पानी की निकासी में अवरोध नहीं बने, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। इसके कारण आज हुई बारिश से घरों में ही पानी जमा हो गया। जिससे लोगों का सामान अस्त व्यस्त हो गया। इसको लेकर भी लोगों ने शिकायत की, लेकिन फिर भी कोई सुनवाई नहीं हुई। गंदगी के चलते लोगों के बीमार होने का भी खतरा है। वहीं चंडीगढ़ रोड़ पर एनएचएआई की लापरवाही के कारण फ्लाईओवर के नीचे 3 फुट पानी जमा हो गया जिससे पटियाला रोड़ पर लंबा जाम लग गया। वार्ड नंबर 20 की बदल कलोनी व लोहगढ़ रोड़ पर ड्रेनेज सिस्टम न होने कारण गलियों में 2 फुट तक पानी भर गया। वहीं बलटाना की ट्रिब्यून कलोनी, गोल्डन एस्टेट, बलटाना में सड़क, मेट्रो मोड़, एम एस इन्क्लेव, शिवालिक विहार में भी 2 फुट के करीब पानी जमा हो गया यह हाल तब है जब शहर में केवल एक घँटा ही बारिश हुई है। वहीं यह हाल तब भी है जब बार-बार अधिकारी नालों की सफाई का दावा कर रहे थे। नालों की सफाई पर लाखों रुपए खर्च भी किए जा रहे हैं। इसके बावजूद शहर के हालात नहीं सुधरे। यह हाल शहर के कई निचले क्षेत्रों में भी रहा। अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा लोगों को उठाना पड़ रहा है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ब्रिटिश आर्मी के सदस्यों ने 21 सिख सूरमाओं की याद में सारागढ़ी मेमोरियल में शीश नवाया फिरोजपुर से भागे प्रेमी जोड़े ने निगला जहर, हालत गंभीर, रैफर प्रदूषण के खतरे से निपटने के लिए हिस्सेदारों का सक्रिय सम्मेलन पीएचडी चैंबर लुधियाना में भी करेगा पाइटैक्स का आयोजन रिश्वत लेता जे.ई. साथी हवलदार समेत रंगे हाथों काबू मंडी गोबिन्दगढ़ को हरा भरा बनाने, धूल को रोकने के लिए कमेटियां गठित बरातियों ने हलवाई पर पलटाया गर्म तेल का कड़ाहा , हालत गंभीर, लुधियाना रैफर दरिया किनारे बसे गांव को सौंपे 4 बेड़े, 3 किश्तियां बिना किसी मंजूरशुदा गड्ढों से कैसे रॉयल्टी मांग रहे हैं ठेकेदार? बेहतर इलाज के लिए खाली पदों पर नियुक्ति की रखी मांग