ENGLISH HINDI Friday, December 13, 2019
Follow us on
 
पंजाब

अश्लील गीतों सम्बन्धी समाज और सरकार को गंभीर होने की जरूरत

July 10, 2019 09:48 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाबी गीतों में दिन-प्रतिदिन बढ़ रही अश्लीलता पर नकेल डालने के लिए पंजाब राज्य में फिल्मों की तरह गीतों के लिए भी सैंसर बोर्ड बनाया जाये। उक्त व्यक्तव्य आज यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुये पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन श्रीमती मनीषा गुलाटी द्वारा किया गया।
श्रीमती गुलाटी ने कहा कि हमारे समाज में गीत-संगीत की अहम भूमिका है। यह हमारे रीति रिवाज़ों के हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हनी सिंह द्वारा गाए गए गीत ‘मक्खना’ एक शर्मनाक काम है क्योंकि आजकल नौजवान प्रोग्रामों में चल रहे संगीत पर जब नाच रहे होते हैं तो वह गीत के बोलों की तरफ ध्यान नहीं देते और इस गीत के बोलों ने बेशर्मी की सभी सीमाएं पार कर दी हैं और इस गीत के बोलों के द्वारा मानव को जन्म देने वाली महिला के प्रति बहुत ही गंदी बातें कही गई हैं। उन्होंने कहा कि यह मामला बाकी गायकों, गीतकारों और प्रोड्यूसरों के लिए सबक होगा।
श्रीमती मनीषा गुलाटी ने कहा कि गायकों द्वारा जल्द प्रसिद्ध होने के चक्कर में परोसे जा रहे अश्लील गीतों सम्बन्धी समाज और सरकार को गंभीर होने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि मोहाली पुलिस द्वारा हनी सिंह के विरुद्ध कानून के अनुसार मामला दर्ज कर लिया गया है और उसे गिरफ़्तार करने के लिए कोशिशें आरंभ कर दी हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा हमेशा की तरह इस मामले में भी आयोग को पूरा सहयोग दिया जा रहा है। पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन ने कहा कि आयोग पंजाब सरकार के वकीलों के द्वारा हनी सिंह की तरफ से इस मामले सम्बन्धी लगाई जा रही ज़मानत याचिका को ख़ारिज करवाने के लिए भी पूरी सक्रियता के साथ यत्न किया जायेगा।
श्रीमती गुलाटी ने कहा कि पंजाब सरकार और केंद्र सरकार को फिल्मों की तरह सर्टिफिकेट हासिल करने के लिए सैंसर बोर्ड स्थापित करना चाहिए जिससे भविष्य में इस तरह का कोई गीत न गा सके और वह पंजाब राज्य में सैंसर बोर्ड की स्थापना के लिए जल्द ही मुख्यमंत्री पंजाब के साथ मुलाकात करके विनती करेंगे। उन्होंने कहा कि भविष्य में आयोग हरेक गाने पर नजऱ रखेगा जिससे महिलाओं के मान-सम्मान को ठेस न पहुँचें।
उन्होंने पंजाबी के मशहूर गायक गुरदास मान को भी अपील की कि वह आयोग द्वारा अश्लील गीतों के विरुद्ध आरंभ की गई इस मुहिम में अपना सहयोग देें और गायकों, गीतकारों और प्रोड्यूसरों को इस बात के लिए सहमत करें कि वह भविष्य में इस तरह का गाना न बनाएं।
पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन ने कहा कि इस मामले के उठने के बाद हनी सिंह के कुछ प्रशंसकों द्वारा सोशल मीडिया और फ़ोन पर धमकियां दी जा रही हैं और गालियां निकाली जा रही हैं जिस संबंधी मैंने पंजाब पुलिस को सूचित कर दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि मैं ऐसी धमकियों से डरने वाली नहीं हूँ।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ब्रिटिश आर्मी के सदस्यों ने 21 सिख सूरमाओं की याद में सारागढ़ी मेमोरियल में शीश नवाया फिरोजपुर से भागे प्रेमी जोड़े ने निगला जहर, हालत गंभीर, रैफर प्रदूषण के खतरे से निपटने के लिए हिस्सेदारों का सक्रिय सम्मेलन पीएचडी चैंबर लुधियाना में भी करेगा पाइटैक्स का आयोजन रिश्वत लेता जे.ई. साथी हवलदार समेत रंगे हाथों काबू मंडी गोबिन्दगढ़ को हरा भरा बनाने, धूल को रोकने के लिए कमेटियां गठित बरातियों ने हलवाई पर पलटाया गर्म तेल का कड़ाहा , हालत गंभीर, लुधियाना रैफर दरिया किनारे बसे गांव को सौंपे 4 बेड़े, 3 किश्तियां बिना किसी मंजूरशुदा गड्ढों से कैसे रॉयल्टी मांग रहे हैं ठेकेदार? बेहतर इलाज के लिए खाली पदों पर नियुक्ति की रखी मांग