ENGLISH HINDI Saturday, July 20, 2019
Follow us on
पंजाब

पंजाब की सात हाई सिक्योरिटी जेलों के अंदर ही लगेगी अदालत: रंधावा

July 11, 2019 09:36 AM

फिरोजपुर, मनीष बावा: 

खतरनाक अपराधियों को नहीं ले जाया जाएगा बाहर, सुरक्षा के लिए अद्धसैनिक बलों की 3 बटालियनें जल्द होंगी तैनात, सीसीटीवी और ड्रोन से होगी निगरानी


पंजाब की सात हाई सिक्योरिटी जेलों के अंदर कोर्ट रूम स्थापित किए जा रहे हैं, जहां जल्द ही अदालत लगाने की कार्रवाई शुरू होगी। यह कदम खतरनाक अपराधियों को जेल से बाहर ले जाने से रोकने के लिए उठाया गया है। इन कैदियों की पेशी जेल के अंदर स्थापित कोर्ट में ही होगी और वहीं पर हर हफ्ते कोर्ट लगा करेगी। उपरोक्त विचार पंजाब के जेल व सहकारिता मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने बुधवार को फिरोजपुर डीसी काम्पलेक्स में पत्रकारों से बातचीत में व्यक्त किए।
उन्होंने कहा कि पटियाला, कपूरथला, अमृतसर, बठिंडा, फरीदकोट, संगरूर और नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में कोर्ट रूम स्थापित किए जा रहे हैं, जिसका नोटिफिकेशन भी जारी हो चुका है। उन्होंने कहा कि पंजाब में कैप्टन सरकार बनने के बाद जेलों की सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए हैं। जेलों में 1500 मुलाजिमों की कमी थी,जिसमें से 750 भर्ती कर लिए गए थे। बाकी के 750 में से 450 मुलाजिमों को भर्ती करने की मंजूरी सरकार की तरफ से मिल चुकी है और जल्द ही ये भर्तियां भी कर दी जाएंगी। इसके अलावा अद्धसैनिक बलों की तीन टुकड़ियां जल्द ही जेलों की सुरक्षा के लिए तैनात की जाएंगी और इसके बाद तीन अन्य टुकड़ियों की तैनाती होगी। उन्होंने कहा कि जेलों में निगरानी कड़ी करने के लिए सीसीटीवी कैमरे और ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल किया जाएगा, जिसके तहत दिनरात निगरानी होगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
पीने वाले पानी की समय-समय पर जांच के आदेश लिंग निर्धारण टैस्ट करने वाले 60 दोषियों को गिरफ्तार करके 14 मशीनें की सील अनाज वितरण में हेराफेरी के लिए 4 निलंबित कंडी क्षेत्र के किसानों को कँटीली तार लगाने के लिए मिलेगी 50 प्रतिशत की वित्तीय सहायता स्वास्थ्य विभाग का क्लर्क रिश्वत लेता रंगे हाथों काबू 26 आई.पी.एस. और 5 पी.पी.एस अधिकारियों के तबादले विवाहिता को मानसिक परेशान करने के आरोप में पति ख़िलाफ़ केस दर्ज एन के शर्मा ने 18 सालों में कुछ नहीं किया: बन्नी संधू विदेश भेजने के नाम 27 लाख की ठगी मार कर फ़रार होते तीन एजेंट काबू बरगाड़ी मुद्दे पर सुखबीर बादल मगरमच्छ के आंसु बहाना बंद करे: कैप्टन