ENGLISH HINDI Wednesday, August 21, 2019
Follow us on
चंडीगढ़

अनुपयोगी प्लास्टिक को री-साइकिल करना सिखाया

July 17, 2019 09:22 PM

चण्डीगढ़, फेस2न्यूज:
स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप के अंतर्गत वे यूथ फाउंडेशन द्वारा गांव खुड्डा जस्सू में लोगों के पास जाकर उनसे अनुपयोगी प्लास्टिक एवं अन्य अनुपयोगी वस्तुएं एकत्रित की, जिनका पूरी टीम द्वारा पुन: उपयोग के लिए सुंदर उपयोगी वस्तुओं जैसे गमले, पेन स्टैंड आदि के रूप में पुनः निर्माण किया गया एवं इन्हीं वस्तुओं को दोबारा गांव के लोगों में आवंटित किया गया। इस गतिविधि का मुख्य उद्देश्य यही था कि लोग अपने दैनिक जीवन में एकल उपयोगी प्लास्टिक का अत्यधिक उपयोग करते जा रहे हैं एवं एक बार प्रयोग करके प्लास्टिक को फेंक देते हैं जिससे कि हमारे वातावरण में अत्यधिक प्रदूषण फैलता जा रहा है। इसी चीज को सीमित करने हेतु वे यूथ फाउंडेशन ने यह जरूरत समझी कि लोगों को बताया जाए कि जिस एकल उपयोगी प्लास्टिक को एक बार उपयोग करके वह फेंक देते हैं उस प्लास्टिक से आप बहुत ही उपयोगी चीजें बना सकते हैं। यह भी संदेश दिया गया कि वह प्लास्टिक का कम से कम उपयोग करें। यह सभी कार्य नेहरू युवा केंद्र की जिला युवा समन्वयक सुश्री रश्मीत कौर एवं प्रोग्राम समन्वयक श्रीमती गुरलीन कौर पुरी की मार्गदर्शिका एवं पूर्व सरपंच श्रीमती परमजीत कौर, बलविंदर सिंह, युवा समाज सेवी सुनील यादव, बलकार सिंह विक्टर के सहयोग द्वारा किए जा रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
कार्यशाला में मृदंगम वादक मननार काएल बालाजी ने दक्षिणी भारतीय ताल की बारीकियां बताई एनएच एम्प्लाइज यूनियन ने प्रशासन के खिलाफ स्वास्थ्य सेवायें बंदकर प्रदर्शन किया स्वास्थ्य और सौंदर्य प्रेमियों के लिए वेगनटिक सुपर फूड्स ने एल्मो-एल्मोंड बेवरेज लॉन्च किया डॉ. रमेश कुमार सेन हिमाचल गौरव अवार्ड से सम्मानित जनता व पीएम योजनाओं के बीच सीढ़ी बनने का कार्य कर रहे हैं:राजमणि चंडीगढ़ रेजिडेंट्स एसोसिएशंस वेलफेयर फेडरेशन ने किरण खेर के सामने उठाया डॉग मिनेस का मुददा बैंक ऑफ इंडिया ने बैंकिंग को आम लोगों पर केन्द्रित ऋणों के वितरण पर दिया जोर पहली बार किन्नरों ने भी राष्ट्रध्वज लहराया धारा 370 निरस्त करना देश की एकता अखंडता के लिए समय की मांग थी, सिर्फ अस्थाई प्रावधान था : उपराष्ट्रपति वार्षिक शोध-पत्रिका 'परिशोध' वर्ष 2019 का लोकार्पण