ENGLISH HINDI Wednesday, August 21, 2019
Follow us on
चंडीगढ़

28 सप्ताह के नवजात बच्चे का इलाज कर पूरी तरह से स्वास्थ किया

August 01, 2019 11:12 AM

चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री: भारत व खासकर हरियाणा में जच्चा-बच्चा स्वास्थ्य सेवाओं संबंधी पारस बलिस अस्पताल पंचकूल के डॉक्टरो की टीम ने चंडीगढ़ में पत्रकारों को बताया कि अस्पताल के बाल रोग विभाग डायरेक्टर डा. ओ.एन. भाकू, बाल सर्जरी विभाग के डायरेक्टर के.एल.एन.राओ, सीनियर कंस्लटेंट डा. रजिंदर शैट्टी व कंसलटेंट डा. सौरभ गोयल मौजूद थे। डा. ओ.एन. भाकू ने इस अवसर पर संबोधन करते हुए कहा कि दुनिया भर में हर वर्ष 5 साल से कम उम्र के 66 लाख बच्चों की मौत हो जाती है, जिनमें से 44 प्रतिशत बच्चे जन्म से पहले 28 दिनों (न्यूनेटल के समय) मर जाते है। उन्होंने बताया कि भारत में यह दर 54 प्रतिशत है। दुनिया भर में जन्म लेने वाले बच्चों का पांचवा हिस्सा भारत में पैदा होता है, जबकि प्रेगनैंसी के बाद एक चौथाई मौतें भी भारत में होती हैं।उन्होंने कहा कि भारत में हर साल 7 लाख 60 हजार नवजात बच्चों की मौत हो जाती है, जिनमें से 70 प्रतिशत बच्चों की मौत जन्म के पहले 4 सप्ताह दौरान हो जाती है। डा. सौरभ गोयल ने पत्रकारों को बताया कि हाल ही में पीजीआई चंडीगढ़ में तीन बच्चों ने समय से पहले जन्म लिया, जिनमें से एक बच्चे का वजन एक किलो से भी कम था तथा उसको पारस बलिस अस्पताल भेजा गया, जहां बाल चिकित्सा का विशेष प्रबंध है। उन्होंने बताया कि इस बच्चे के कामयाब इलाज के बाद जब उसका वजन डेढ़ किलोग्राम से बढ़ गया अस्पताल से छुट्टी दी गई। उन्होंने कहा कि बदकिस्मती से उसके साथ पैदा हुए दूसरे दो बच्चों की किसी अन्य अस्पताल में मौत हो गई। डा. के.एल.एन राओ ने इस अवसर पर संबोधन करते हुए बताया कि नवजात बच्चों में भोजन की नली तथा स्वास नली के संगम, आतंड़ी, हर्निया जैसी समस्याएं अकसर आ रही हैं, जिनको एमरजैंसी सर्जरी की जरूरत होती है। उन्होंने बताया कि पारस बलिस अस्पताल में नवजात बच्चों के आप्रेशन किए जाते हैं तथा बच्चे तंदरूस्त हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि पारस बलिस अस्पताल के पास अंबाला, यमुनानगर, पटियाला, करनाल, सोलन तथा नालागढ़ इलाकों में वेंटीलेटड एंबूलैंस का भी प्रबंध है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
कार्यशाला में मृदंगम वादक मननार काएल बालाजी ने दक्षिणी भारतीय ताल की बारीकियां बताई एनएच एम्प्लाइज यूनियन ने प्रशासन के खिलाफ स्वास्थ्य सेवायें बंदकर प्रदर्शन किया स्वास्थ्य और सौंदर्य प्रेमियों के लिए वेगनटिक सुपर फूड्स ने एल्मो-एल्मोंड बेवरेज लॉन्च किया डॉ. रमेश कुमार सेन हिमाचल गौरव अवार्ड से सम्मानित जनता व पीएम योजनाओं के बीच सीढ़ी बनने का कार्य कर रहे हैं:राजमणि चंडीगढ़ रेजिडेंट्स एसोसिएशंस वेलफेयर फेडरेशन ने किरण खेर के सामने उठाया डॉग मिनेस का मुददा बैंक ऑफ इंडिया ने बैंकिंग को आम लोगों पर केन्द्रित ऋणों के वितरण पर दिया जोर पहली बार किन्नरों ने भी राष्ट्रध्वज लहराया धारा 370 निरस्त करना देश की एकता अखंडता के लिए समय की मांग थी, सिर्फ अस्थाई प्रावधान था : उपराष्ट्रपति वार्षिक शोध-पत्रिका 'परिशोध' वर्ष 2019 का लोकार्पण