ENGLISH HINDI Friday, December 06, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
पॉस्को एक्ट के तहत होने वाली घटनाओं के दोषियों को दया याचिका के अधिकार से वंचित किया जाए: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंदसीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार।मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत कीयुवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंकापुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थीजीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारासूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ीसुखबीर बादल को भी राजोआना के साथ जेल में बिठाने पर ही होगा पंजाब का माहौल शांत: सिंगला
राष्ट्रीय

5वां राष्ट्रीय हथकरघा दिवस 7 अगस्त को मनाया जाएगा

August 07, 2019 08:09 AM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
5वां राष्ट्रीय हथकरघा दिवस कल देश भर में मनाया जाएगा। केन्द्रीय वस्त्र और महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन इरानी इस अवसर पर नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी।
इस अवसर पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान, पशुपालन, डेयरी एवं मत्स्य तथा सूक्ष्म लघु एवं मझोले उद्यम राज्यमंत्री श्री प्रताप चंद्र सारंगी भी मौजूद रहेंगे।
मुख्य आयोजन ओड़िशा के भुवनेश्वर में होगा। हथकरघे की समृद्ध परंपरा के कारण भुवनेश्वर को मुख्य आयोजन स्थल के रूप में चुना गया है। भारत के बुनकरों की 50 प्रतिशत से ज्यादा आबादी पूर्वी और पूर्वोत्तर क्षेत्रों में बसती है और इनमें से अधिकांश महिलाएं हैं। भुवनेश्वर में राष्ट्रीय हथकरघा दिवस मनाने का उद्देश्य महिलाओं और बालिकाओं को सशक्त बनाना है।
देशभर में निम्नलिखित कार्यकलाप किए जाएंगे-
पहचान कार्डों और यार्न पासबुक का वितरण
मुद्रा ऋण का वितरण
कार्यस्थलों (वर्कशेड) के निर्माण के लिए लाइटिंग यूनिट और प्रमाण पत्रों का वितरण
राष्ट्रीय हथकरघा दिवस विभिन्न राज्यों में बुनकर सेवा केन्द्रों पर मनाया जाएगा।
16 एनआईएफटी परिसरों और हथकरघा मेला एवं प्रदर्शनी, गांधीनगर और कोलकाता एनआईएफटी परिसरों में कार्यशालाओं, पैनल चर्चाओं और हथकरघा उत्पादों के लिए विशेष मंडप।
युवा डिजाइनरों और हथकरघा क्षेत्र की प्रमुख हस्तियों को शामिल करते हुए आईएमजी रिलायंस के डिजिटल स्टूडियो से चर्चा का ट्विटर पर सीधा प्रसारण।
नई दिल्ली के हस्तशिल्प संग्रहालय में फैशन डिजाइन काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा वस्त्र मंत्रालय के प्रतिभागियों, मास्टर बुनकर, कपड़ों के डिजाइनरों, फैशन डिजाइनरों और वस्त्र विशेषज्ञों के साथ संगोष्ठी।
बुनकरों और उनके बच्चों के लिए शैक्षिक अवसरों के बारे में सूचना प्रदान करने के लिए इग्नू/एनआईओएस के माध्यम से कार्यशाला।
राष्ट्रीय हथकरघा दिवस देश के हथकरघा बुनकरों का सम्मान करने और भारत के हथकरघा उद्योग पर रौशनी डालने के लिए हर साल 7 अगस्त को मनाया जाता है। राष्ट्रीय हथकरघा दिवस देश के सामाजिक आर्थिक विकास में हथकरघे के योगदान और बुनकरों की आमदनी में वृद्धि करने पर ध्यान केन्द्रित करने का प्रयास करता है।
देश के सामाजिक-आर्थिक विकास में हथकरघा उद्योग के महत्व के बारे में जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार ने जुलाई, 2015 में 7 अगस्त को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस घोषित किया था। 7 अगस्त को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस के रूप में इसलिये चुना गया, क्योंकि ब्रिटिश सरकार द्वारा किए जा रहे बंगाल के विभाजन का विरोध करने के लिए 1905 में इसी दिन कलकत्ता टाऊन हॉल में स्वदेशी आंदोलन आरंभ किया गया था। इस आंदोलन का उद्देश्य घरेलू उत्पादों और उत्पादन प्रक्रियाओं में नई जान डालना था।
प्रथम राष्ट्रीय हथकरघा दिवस का उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 7 अगस्त, 2015 को चेन्नई में मद्रास विश्वविद्यालय की शताब्दी के अवसर पर किया था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
पॉस्को एक्ट के तहत होने वाली घटनाओं के दोषियों को दया याचिका के अधिकार से वंचित किया जाए: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ‘परीक्षा पे चर्चा’ संस्‍करण के लिए ‘लघु निबंध’ प्रतियोगिता की शुरुआत सामुदायिक प्रयास से सूखे की विभीषिका से मुक्त हो खुशहाल हुए लोग केजरीवाल सरकार का ऐलान: बिजली—पानी, मुफ्त यात्रा के बाद मुफ्त वाई—फाई धूम्रपान व धुएं से दूर रहकर क्रॉनिक आब्सट्रक्टिव पल्मनरी डिजिज से बचाव:पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत सैनिक, किसी संत से कम नहीं: स्वामी चिदानन्द सरस्वती गंगा के तटों और ऋषिकेश की स्वच्छता हम सभी के हाथों में:त्रिवेेन्द्र सिंह रावत देशव्यापी 'भारत बचाओ रैली' के आयोजन को लेकर हरियाणा कांग्रेस के नेताओं ने दिल्ली में की मीटिंग राजधनी दिल्ली में राष्ट्रीय सिख पारम्परिक खेलों का आयोजन झारखंड विधानसभा आम चुनाव, एक्जिट पोल पर पाबंदी