ENGLISH HINDI Wednesday, August 21, 2019
Follow us on
पंजाब

शहर में आवारा/बेसहारा पशु जान पर बन गई है आफ़त, मौजूदा पार्षद आरोपों तक सीमित

August 12, 2019 10:54 AM

जीरकपुर, जे एस कलेर:
शहर में आवारा पशुओं की गिनती लगातार बढ़ती जा रही है। झुंड के रुप में आवारा जानवर शहर की सड़कों में आम घूमते नजर आ जाते हैं। जिस वजह से लोगों के काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर गुजरने वाले बड़े वाहनों की चपेट में आने से पशु कई बार चोटिल भी हो जाते हैं। कई बार यह मुद्दा नगर कौंसिल अधिकारियों के ध्यान में लाया गया। लेकिन नगर कौंसिल की ओर से कभी भी इस समस्या पर गंभीरता नहीं दिखाए जाने से शहरवासियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है।     


आवारा पशुओं के झुंड घूमते आम नजर आते हैं। सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशु अचानक आपस में भिड़ने लग जाते हैं। जिस वजह से राहगीरों को दिक्कत तो पेश आती ही है। साथ में इनकी चपेट में राहगीरों का चोटिल होने का डर भी बना रहता है। आंकड़ों के मुताबिक अब तक पंजाब में सैकडों लोगों की इन आवारा पशुओं के कारण मौत हो चुकी है। वहीं शहर में आवारा पशुओं के लिए बनी गौशाला में इसकी संभाल कर रही संस्था द्वारा केवल दुधारू पशु ही रखे जा रहे है। शहर के पाश इलाके कलगीधर एन्कलेव में भी अकसर आवारा पशु अंबाला शिमला सड़क के बीचो बीच डेरा जमा लेते हैं। जिससे राहगीरों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है।
— हरपाल सिंह सोढ़ी
इलाके में एक स्कूल भी पड़ता है। जहां रोजाना छात्र आते जाते हैं। जब आवारा पशु आपस में भिड़ने लगते हैं तो किसी हादसे से इंकार नहीं किया जा सकता। अक्सर यहां आवारा पशु भिड़ते-भिड़ते सडक के बीचो बीच जम जाते हैं। जिससे कई बार राहगीर घायल हो चुके हैं।
— सीता राम बलटाना
ढकोली रोड के किनारे जगह-जगह कूड़ा घर बने हैं। आसपास की कॉलोनियों से यहां कूड़ा इकट्ठा कर फेंक दिया जाता है। जहां कूड़े के ढेर लगे रहते हैं, उस जगह आसपास की जमीन कच्ची है। कूड़े के ढेर को समय पर उठाया भी नहीं जाता। इस बीच कूड़ा बीनने वाले प्लास्टिक या अन्य ऐसी चीजों के लालच में कूड़े के ढेर को बिखेर देते हैं। बिखरे हुए कूड़े के ढेर के पास खाने के लालच में आवारा पशु आ जाते हैं और देखते ही देखते इनकी संख्या काफी बढ़ जाती है। कई बार स्थिति ऐसी रहती है कि सड़क पर आवारा पशुओं का जमावड़ा लग जाता है। इससे यातायात बाधित हो जाता है।
— हरप्रीत सिंह ढकोली
नगर कौंसिल कर्मचारी पीरमुछाला क्षेत्र में आवारा पशुओं की समस्या के बाबत कई बार सीमा की दुहाई देते हैं। यहां नगर कौंसिल जीरकपुर व पंचकुला की सीमाएं मिलती हैं जो सरासर गलत हैं नगर कौंसिल जीरकपुर में आसीन सत्तारूढ़ भाजपा—अकाली पार्षदों ने क्षेत्र में लोगों की समस्याओं पर कभी ध्यान ही नहीं दिया। पार्षद कुर्सी पर बैठ केवल अपना प्रापर्टी कारोबार चमकाने में लगें हैं।
— गुरसेवक सिंह पुनिया
आवारा पशुओं के जमघट के कारण कई जगह यातायात व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित होती है। चंडीगढ़ अंबाला रोड पर इस तरह की दिक्कत खासतौर पर नजर आती है। यहां सड़क किनारे मंडिया है। मंडी के बाहर बिखरी खाने की चीजों के लालच में आवारा पशु एकत्रित हो जाते हैं। कई जगह वाहन के आगे एकाएक आवारा पशु आ जाते हैं। इस कारण चालक को अचानक ब्रेक लगाना पड़ता है। इससे दुर्घटना की संभावना बन जाती है।
— मनोज दास

 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
विधायक, डीसी व एसएसपी ने निहालेवाला में लोगों को बचाने के लिए संभाला मोर्चा सड़कों पर बने गड्ढे कर रहे हैं हादसो का इंतजार जीरकपुर के शिवालिक विहार में प्रधान के घर शॉर्ट सर्किट से लगी आग से लाखों का नुक्सान ई फाइलिंग कभी भी कहीं भी, ई-रिटर्न भरने के दिए टिप्स डेराबस्सी के सभी एटीएम पड़े हैं काफी समय से बंद 20 घंटों की बारिश से खुल जाती है 20 वर्षों के विकास की पोल: मान लौंगोवाल शहीदी दिवस के अवसर पर 20 अगस्त को जि़ला बरनाला और संगरूर में छुट्टी का ऐलान पंजाब का राष्ट्रीय खेल सम्मान में वर्चस्व नकली कीटनाशक, खाद बेचने वाले डीलर्ज के खि़लाफ़ बड़ी कार्रवाई बलटाना के लोगों ने हरमिलाप नगर-रायपुर कलां रेलवे क्रॉसिंग पर अंडरपास बनवाने में हो रही देरी को लेकर चंडीगढ़ प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन