ENGLISH HINDI Friday, December 06, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
फरएवर फ्रेंड्स संस्था ने उठाया नयागांव पशु क्रूरता का मुद्दापॉस्को एक्ट के तहत होने वाली घटनाओं के दोषियों को दया याचिका के अधिकार से वंचित किया जाए: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंदसीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार।मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत कीयुवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंकापुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थीजीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारासूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ी
पंजाब

शहर में आवारा/बेसहारा पशु जान पर बन गई है आफ़त, मौजूदा पार्षद आरोपों तक सीमित

August 12, 2019 10:54 AM

जीरकपुर, जे एस कलेर:
शहर में आवारा पशुओं की गिनती लगातार बढ़ती जा रही है। झुंड के रुप में आवारा जानवर शहर की सड़कों में आम घूमते नजर आ जाते हैं। जिस वजह से लोगों के काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर गुजरने वाले बड़े वाहनों की चपेट में आने से पशु कई बार चोटिल भी हो जाते हैं। कई बार यह मुद्दा नगर कौंसिल अधिकारियों के ध्यान में लाया गया। लेकिन नगर कौंसिल की ओर से कभी भी इस समस्या पर गंभीरता नहीं दिखाए जाने से शहरवासियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है।     


आवारा पशुओं के झुंड घूमते आम नजर आते हैं। सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशु अचानक आपस में भिड़ने लग जाते हैं। जिस वजह से राहगीरों को दिक्कत तो पेश आती ही है। साथ में इनकी चपेट में राहगीरों का चोटिल होने का डर भी बना रहता है। आंकड़ों के मुताबिक अब तक पंजाब में सैकडों लोगों की इन आवारा पशुओं के कारण मौत हो चुकी है। वहीं शहर में आवारा पशुओं के लिए बनी गौशाला में इसकी संभाल कर रही संस्था द्वारा केवल दुधारू पशु ही रखे जा रहे है। शहर के पाश इलाके कलगीधर एन्कलेव में भी अकसर आवारा पशु अंबाला शिमला सड़क के बीचो बीच डेरा जमा लेते हैं। जिससे राहगीरों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है।
— हरपाल सिंह सोढ़ी
इलाके में एक स्कूल भी पड़ता है। जहां रोजाना छात्र आते जाते हैं। जब आवारा पशु आपस में भिड़ने लगते हैं तो किसी हादसे से इंकार नहीं किया जा सकता। अक्सर यहां आवारा पशु भिड़ते-भिड़ते सडक के बीचो बीच जम जाते हैं। जिससे कई बार राहगीर घायल हो चुके हैं।
— सीता राम बलटाना
ढकोली रोड के किनारे जगह-जगह कूड़ा घर बने हैं। आसपास की कॉलोनियों से यहां कूड़ा इकट्ठा कर फेंक दिया जाता है। जहां कूड़े के ढेर लगे रहते हैं, उस जगह आसपास की जमीन कच्ची है। कूड़े के ढेर को समय पर उठाया भी नहीं जाता। इस बीच कूड़ा बीनने वाले प्लास्टिक या अन्य ऐसी चीजों के लालच में कूड़े के ढेर को बिखेर देते हैं। बिखरे हुए कूड़े के ढेर के पास खाने के लालच में आवारा पशु आ जाते हैं और देखते ही देखते इनकी संख्या काफी बढ़ जाती है। कई बार स्थिति ऐसी रहती है कि सड़क पर आवारा पशुओं का जमावड़ा लग जाता है। इससे यातायात बाधित हो जाता है।
— हरप्रीत सिंह ढकोली
नगर कौंसिल कर्मचारी पीरमुछाला क्षेत्र में आवारा पशुओं की समस्या के बाबत कई बार सीमा की दुहाई देते हैं। यहां नगर कौंसिल जीरकपुर व पंचकुला की सीमाएं मिलती हैं जो सरासर गलत हैं नगर कौंसिल जीरकपुर में आसीन सत्तारूढ़ भाजपा—अकाली पार्षदों ने क्षेत्र में लोगों की समस्याओं पर कभी ध्यान ही नहीं दिया। पार्षद कुर्सी पर बैठ केवल अपना प्रापर्टी कारोबार चमकाने में लगें हैं।
— गुरसेवक सिंह पुनिया
आवारा पशुओं के जमघट के कारण कई जगह यातायात व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित होती है। चंडीगढ़ अंबाला रोड पर इस तरह की दिक्कत खासतौर पर नजर आती है। यहां सड़क किनारे मंडिया है। मंडी के बाहर बिखरी खाने की चीजों के लालच में आवारा पशु एकत्रित हो जाते हैं। कई जगह वाहन के आगे एकाएक आवारा पशु आ जाते हैं। इस कारण चालक को अचानक ब्रेक लगाना पड़ता है। इससे दुर्घटना की संभावना बन जाती है।
— मनोज दास

 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
सीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार। मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत की युवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंका पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी जीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारा सूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ी सुखबीर बादल को भी राजोआना के साथ जेल में बिठाने पर ही होगा पंजाब का माहौल शांत: सिंगला निर्दोष स्कूल ने कैलेन्डर 2020 लांच किया दो दिवसीय पांचवीं वार्षिक कॉन्फ्रेंस मेडिकॉन-2019 आयोजित राजस्व विभाग में 1090 पटवारी भर्ती की मंजूरी