ENGLISH HINDI Thursday, November 14, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
ज़ीरकपुर की हवा में प्रदूषण तत्व निश्चित मात्रा की अपेक्षा अधिक, पटाख़ों के साथ बढ़ा शहर का प्रदूषण एन.आर.आई महिला से पैसे लेने के बावजूद दुकानें न देने पर धोखाधड़ी का मामला दर्जहरियाणा पुलिस ने मादक पदार्थों के तस्करों पर की नए सिरे से कार्रवाई , चार काबूमनोहर ने दूसरी पारी की शुरुआत की, चौटाला की मौजूदगी में उपायुक्तों से की मीटिंग साइकिल सवार 65 वर्षीय बुजुर्ग को ट्रक ने रौंदा, मौतबाल दिवस के अवसर पर नन्हें मुन्नों ने कार्यक्रम में खूबसूरत डांस प्रस्तुत किएअमृत कैंसर फाउंडेशन और एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स और एजी ऑडिट पंजाब ने महिला स्टाफ़ के लिए लगाया कैंसर अवेयरनेस एंड डिटेक्शन कैम्पकैन बायोसिस ने पराली से होने वाले प्रदुषण के समाधान के लिए पेश किया स्पीड कम्पोस्ट
राष्ट्रीय

प्रो. रविकांत लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित

August 13, 2019 09:14 PM

ऋषिकेश(ओम रतूड़ी): अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान एम्स ‌ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत समेत कई हस्तियों को शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड-2019 से सम्मानित किया गया।
देहरादून में आयोजित सम्मान समारोह का बतौर मुख्यअतिथि राज्य विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल व उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने दीप प्रज्‍ज्वलित कर विधिवत शुभारंभ किया। समारोह में न्यूज चैनल की ओर से शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय योगदान के लिए विभिन्न शिक्षण संस्‍थानों को सम्मानित किया गया। इस दौरान मुख्यअतिथि विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद व उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डा. रावत ने संस्‍था की ओर से एम्स निदेशक प्रो. कांत को मेडिकल साइंस के क्षेत्र में उत्कृष्‍ट योगदान व उत्तराखंड में शिक्षा व चिकित्सा क्षेत्र में सतत कार्यों के लिए एचएनएन एजुकेशन एक्सीलेंस अवार्डस-2019 से सम्मानित किया। कार्यक्रम में निदेशक ने बताया कि संस्‍थान में मरीजों को विश्वस्तरीय स्वास्‍थ्य सुविधाएं उपलब्‍ध कराई जा रही हैं, प्रयास है कि उत्तराखंड व समीपवर्ती राज्यों के मरीजों को उपचार के लिए राज्य से बाहर नहीं जाना पड़े। उन्होंने बताया कि एम्स संस्‍थान में मरीजों के लिए अधिकतम चिकित्सा सुविधाएं बढ़ाने के लिए संस्‍थागत स्तर पर सततरूप से प्रयास किए जा रहे हैं। प्रो. रवि कांत ने बताया कि एम्स में न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी, यूरोलॉजी, गैस्ट्रो इंट्रोलॉजी,सर्जिकल ओंकोलॉजी,कॉर्डियोलॉजी, सीटीवीएस, नैफ्रोलॉजी, जीआई सर्जरी आदि समेत लगभग सभी सुपरस्पेशलिटी सुविधाएं मरीजों को उपलब्‍ध कराई गई हैं। कार्यक्रम में कई अन्य शिक्षण संस्‍थानों के प्रमुखों को भी सम्मानित किया गया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
सड़क दुर्घटना में पौड़ी गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत समेत तीन घायल सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ साधु संतों ने की बैठक अमेज़न फ्लिपकार्ट के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन के लिए 10 नवम्बर को दिल्ली में व्यापारियों की राष्ट्रीय बैठक आरसीईपी को अपनाने के केंद्र के निर्णय का सीआईआई ने किया समर्थन इस्‍पात मंत्री ने निवेशकों को भारत के विकास क्रम में भागीदार बनने का न्‍यौता दिया नराकास पंचकूला द्वारा स्वरचित काव्य पाठ प्रतियोगिता आयोजित ईपीएफओ पेंशन न्यूनतम 7500 रूपये करने की मांग तेज झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 के कार्यक्रम की घोषणा वॉट्सऐप में जल्द शुरू होगा पेमेंट की खास सर्विस: सीईओ ज़करबर्ग राष्ट्रपति करेंगे 2 से 4 नवम्बर तक सिक्किम और मेघालय का दौरा