ENGLISH HINDI Thursday, February 27, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

छैला-सोलन सड़क बड़े वाहनों के लिए भी खोली गई: भारद्वाज

August 14, 2019 06:07 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा)
ऊपरी शिमला के क्षेत्रों से जारी सेब ढुलाई और छैला-शिमला सड़क पर यातायात व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के लिए छैला-सोलन सड़क भी सभी प्रकार के यातायात के लिए खोल कर दिया गया है।
आज यहां विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने छैला-सोलन सड़क का स्वयं जायजा लिया और इसे बड़े वाहनों के उपयोग के लिए उपयुक्त पाया है। इसके बाद इस सड़क मार्ग को बड़े वाहनों के लिए भी इस्तेमाल करने का निर्णय लिया गया है।
शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि शिमला से ठियोग की ओर जाने वाले खाली पिक-अप वाहनों को अब वाया मशोबरा-भेखल्टी भेजा जाएगा। ढली चौक से भट्टाकुफर सड़क के किनारे किसी भी वाहन को खड़ा करने की अनुमति नहीं होगी। भट्टाकुफर मण्डी जाने वाली सेब की गाड़ियों को पुलिस कर्मचारियों द्वारा छराबड़ा तथा कोटी में टोकन प्रदान किए जाएंगे और केवल टोकन वाले वाहनों को ही भट्टाकुफर मण्डी में प्रवेश की अनुमति होगी। इसके अतिरिक्त, भट्टाकुफर मण्डी में सेब की नीलामी के उपरांत संबंधित वाहनों को खड़े करने की अनुमति भी नहीं दी जाएगी।
उन्होंने उपमंडलाधिकारी शिमला, ग्रामीण को भट्टाकुफर मण्डी क्षेत्र में वाहनों की उचित व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए। उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिकारियों को पुलिस की मदद से हसन वैली सड़क के दोनों ओर खड़े वाहन को तुरन्त हटाने के आदेश दिए। उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर पुराने बैरियर के समीप सुचारु यातायात व्यवस्था के लिए निर्माण सामग्री तुरंत हटाने और तारादेवी-शोघी सड़क के दोनों ओर खड़े वाहनों को हटाने के लिए भी राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिकारियों को निर्देश दिए।
मंत्री ने ढली-ठियोग क्षेत्र के मोटर मैकेनिकों के सम्पर्क नंबर पुलिस एवं अन्य नियन्त्रण कक्षों के सूचना पट्ट पर अंकित करने के निर्देश दिए ताकि सेब से लदे खराब ट्रकों व अन्य वाहनो को मुरम्मत करवाने की सुविधा जल्द उपलब्ध करवाई जा सके।
उन्हांने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को ठियोग के निकट रईघाट सड़क की तुरन्त मुरम्मत के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधित विभाग को छैला-हसल वैली सड़क किनारे खड़े सेबों से लदे ट्रकों के खराब होने की स्थिति में पर्याप्त व्यवस्था कर जल्द हटाने के निर्देश दिए।
सुरेश भरद्वाज ने एपीएमसी अध्यक्ष को निर्देश दिए कि केटीसी कम्पनी जैसी बड़ी कम्नियों के सेब ट्रकों को भट्टाकुफर मण्डी न ले जाकर सीधे मल्याणा स्थित गोदामों में ले जाना सुनिश्चित करें।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
ज्वालामुखी टिहरी रोड पर स्कोर्पियो में अचानक लगी आग से ड्राइवर झुलसा सोलन की पूर्व विधायक मेजर कृष्णा मोहिनी का निधन मेले व त्यौहार हमारी समृद्ध सस्कृति के परिचायक: परमार ज्वालामुखी में पुलिस टीम द्वारा चरस के साथ एक को पकड़ा आशा और मीना के जीवन में मुस्कान लाई हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना ज्वालामुखी: सडक़ें बदहाल, पेयजल योजनाओं के भी बुरे हाल हिमाचल: सावड़ा-कुडडूजल विद्युत परियोजना अप्रैल में विद्युत उत्पादन प्रारम्भ हर घर को नल से जल, ठण्डोल के लिए आयुर्वेद स्वास्थ्य केंद्र स्वीकृत भाजपा ने ज्वालामुखी के लोगों को विकास व वोट के नाम पर छला: संजय रतन जल शक्ति अभियान के अन्तर्गत विकास खंड ने स्थापित किया कीर्तिमान