ENGLISH HINDI Wednesday, October 23, 2019
Follow us on
 
पंजाब

ई.एस.आई. अस्पतालों के लिए 130 पैरा मैडीकल स्टाफ को नियुक्ति पत्र दिए

August 14, 2019 06:11 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री पंजाब श्री बलबीर सिंह सिद्धू द्वारा आज ई.एस.आई. अस्पतालों के अधीन विभिन्न श्रेणियों के नव नियुक्त 130 पैरा मैडीकल स्टाफ को नियुक्ति पत्र दिए।
जानकारी देते हुए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा ई.एस.आई. (कर्मचारी सामाजिक इंशोरैंस) अस्पतालों की कारगुज़ारी को और मज़बूत करने की कोशिश के अंतर्गत राज्य के सभी ई.एस.आई. अस्पतालों में रजिस्टर्ड मज़दूरों और अन्य निर्माण कार्यों वाले कामगारों को 24 घंटे एमरजैंसी सेवाओं की सुविधा मुहैया करवाने का फ़ैसला लिया गया है जिसके लिए ई.एस.आई. अस्पतालों की खाली पड़े पदों को लगातार भरा जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस भर्ती के अधीन 130 पैरा मैडीकल स्टाफ जिनमें 55 ए.एन.एमज., 35 स्टाफ नर्सें, 28 फार्मासिस्ट,11 मैडीकल लैबोरेटरी टैकनीशियन और एक रेडियो ग्राफर को नियुक्ति पत्र दिए गए हैं।
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा ई.एस.आई. अस्पताल और डिसपैंसरियों में 13 लाख के करीब उद्योगों में काम करते बीमा कामगारों और उनके आश्रितों को स्वास्थ्य सेवाएं दी जा रही हैं। इन अस्पतालों में मानक सेवाएं मुहैया करवाने के मंतव्य से ही मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह के दिशा-निर्देशों पर 05 स्पैशलिस्ट डॉक्टर और 50 मैडीकल अफ़सरों की भर्ती की गई थी जिससे अब ई.एस.आई अस्पतालों में एक भी डॉक्टर का पद खाली नहीं रहा है। उन्होंने बताया कि डॉक्टरों की भर्ती के उपरांत अस्पतालों की ओ.पी.डी. में काफ़ी विस्तार हुआ है और कामगार वर्ग को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं भी मुहैया हो रही हैं। उन्होंने बताया कि इस भर्ती के अलावा जल्द ई.एस.आई अस्पतालों में अन्य खाली पड़े पदों को भी भर दिया जायेगा।
सिद्धू ने आगे बताया कि पंजाब से टी.बी. के ख़ात्मे के लिए जल्द मुफ़्त टैस्ट और टी.बी. की इलाज सेवाएं ई.एस.आई. अस्पतालों में मुहैया करवाई जाएंगी। टी. बी. का टैस्ट करने के लिए लैब टैक्नीशियनों के साथ डैसीगनेटिड माईक्रोस्कोपिक केंद्र स्थापित किये जाएंगे।
इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री ने नव नियुक्त कर्मचारियों को नौकरी में आने पर मुबारकबाद देते हुए कहा कि सद्भावना के साथ जनता की सेवा करना आपकी मुख्य जि़म्मेदारी है और आम लोगों को समय पर ज़रूरी सेवाएं देने के साथ ही सरकारी अस्पतालों का कायाकल्प हो सकता है।
उन्होंने बताया कि बीमा वर्करों और उनके आश्रितों को सरकार द्वारा ई.एस.आई निगम से रेट कंट्रैक्ट के आधार पर मुफ़्त दवाएँ भी मुहैया करवाई जा रही हैं और आगे भी सामाजिक बीमे के अधीन आते बीमा कामगारों को कभी दवाओं की कमी की समस्या नहीं आने दी जायेगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
यहां लोगों की जान पर बन रही, पर सुनने वाला कोई नहीं नई पहलः पराली को आग न लगाएं किसान, डीसी शुरू करेंगे स्मार्ट फॉर्मर मुहिम यूपी और मध्यप्रदेश से भुक्की लाकर पंजाब में बेचने वाले तीन तस्कर डेराबस्सी में काब, रिमांड पर भेजे मिशन तंदुरुस्त को ठेंगा दिखा थाने के बाहर छंटाई के नाम पर काटे हरे-भरे पेड़ जीरकपुर में लोग पटाखे फोड़ने को तैयार, कहीं आग लगी तो बुझाएगा कौन? तेज रफ्तार कार ने थ्री व्हीलर को मारी टक्कर, 2 घायल ई-रिक्शा, बैटरी चोरी करने के आरोप में एक काबू ’पुलिस स्मरणोत्सव दिवस’ पर बीएसएफ मुख्यालय में शहीदों को दी श्रद्धांजलि प्यार चढ़ा परवान: ऑस्ट्रेलिया की दुल्हन ने जीरकपुर में भारतीय दूल्हे से रचाई शादी पेंफलैट बांटने को लेकर जिम मालिकों के बीच हुई तकरार दो घायल