ENGLISH HINDI Sunday, September 22, 2019
Follow us on
 
राष्ट्रीय

जागो ग्राहक जागो- यूपीआई फ्रॉड से बचो

August 18, 2019 09:10 PM

चंडीगढ, संजय मिश्रा:
एटीएम पिन लेकर बैंक खाता से पैसे उड़ाने वाले फ्रॉड के अलावा आजकल एक नया फ्रॉड- यूपीआई फ्रॉड सामने आ रहा है, इस फ्रॉड में धोखेबाज ओएलएक्स या अन्य प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन सामान बेचने वाले आम नागरिकों से संपर्क करते है और कहते है कि हम आपके सामान को खरीदना चाहते है। धोखेबाज फ़ोन पर चिकनी चुपड़ी बातें करके आपको कहेंगे कि वो एक आर्मी ऑफिसर है और आपका सामान उसे बहुत पसंद है और वो इसके लिए आपको पूरे पैसे एडवांस में देने को तैयार है, वो आपको 100% पैसे एडवांस में देकर फिर अपने आदमी भेजकर आपसे सामान की डिलीवरी लेगा। आप तो पूरे पैसे एडवांस में लेकर अपने को खुशकिस्मत एवं सामने वाले को बेवकूफ समझ रहे होंगे।
वो आपसे कहेगा कि हमारे आर्मी के रूल के मुताबिक वो यूपीआई से आपको 100% का अग्रिम भुगतान करेगा बशर्ते आपके खाते में भी उतने ही पैसे शेष होने चाहिए। अपने मुंहमांगे कीमत की 100% अग्रिम भुगतान से आप इतने उत्साहित रहेंगे कि आप कहेंगे जी हाँ इतने पैसे मेरे खाते में पड़े हुए हैं। फिर वो आपके मोबाइल पर उतने ही रूपये का एक लिंक/ रिक्वेस्ट भेजेगा और आपसे कहेगा कि हमने आपको पैसे भेज दिए है आप उस लिंक पर क्लिक करके इसे स्वीकार कर लें, आप जैसे ही उस लिंक को स्वीकार करेंगे वैसे ही वो आपसे आपका यूपीआई पिन मांगेगा एवं पिन डालते ही आपके खाते से उतने पैसे निकल कर उस फ्रॉड व्यक्ति के खाते में जमा हो जाएंगे।
दरअसल यूपीआई भुगतान ऐप में भुगतान करने के अलावा भुगतान मांगने का भी तरीका दिया हुआ है जिसका फायदा उठाते हुए वो फ्रॉड आपको भुगतान करने का लिंक नहीं बल्कि भुगतान मांगने का लिंक भेजेगा जिसे आप जैसे ही अपना पिन डालकर स्वीकार करेंगे वैसे ही आपके खाते से उतने पैसे निकल जाएंगे।
इसलिए हमेशा ध्यान रखे कि यूपीआई से भुगतान पाने के लिए प्राप्तकर्ता को किसी तरह की स्वीकृति देने की जरूरत नहीं पड़ती है, भेजने वाला आपके यूपीआई आईडी पर सीधे पैसे भेज सकता है। अपने मोबाइल ऐप में पिन डालकर, प्राप्तकर्ता को उनके मोबाइल में बस एक सन्देश प्राप्त होगा कि अमुक पार्टी से आपके खाते में इतने रूपये जमा कर दिए गए है।
इसलिए यूपीआई फ्रॉड से सावधान रहे एवं ऐसे किसी भी अपने मनमाफिक कीमत के 100% अग्रिम भुगतान से खुश होकर ऐसे किसी भी लिंक को स्वीकार न करे, और सुरक्षित रहें।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
परमार्थ निकेतन में अन्तर्राष्ट्रीय शान्ति दिवस पर विशेष प्रार्थना का आयोजन भारत के लोग पाक वासियों के हित के बारे में सोचते हैं भाषाओं का मेलजोल समाज के लिए जरूरी विश्व शांति दिवस पर मीडिया कर्मियों से किया शांति और सदभाव फैलाने का आहवान एम्स में तीन दिवसीय कंप्यूटर एडिड ड्रग्स डिजाइनिंग कार्यशाला संपन्न छात्र, शिक्षक अन्‍य भाषाएं सीखने के साथ ही मातृभाषा को भी पर्याप्‍त महत्‍व दें एसीसी नियुक्ति दिल्ली एयरपोर्ट पर पांच अफगान यात्री पकड़े, 15 करोड़ की हेरोइन के 370 कैप्सूल बरामद जीवन की सार्थकता है 'स्वार्थ से सर्वार्थ की यात्रा, परमार्थ की यात्रा' तीसरा विश्व हिमालय सम्मेलन अगले वर्ष नेपाल में