ENGLISH HINDI Saturday, January 18, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
द लास्ट बेंचर्स ने गरीब बच्चों के साथ धूमधाम से मनाया लोहड़ी का त्यौहार: बच्चों को बांटे गर्म वस्त्र, कम्बल और गिफ्ट्सविश्व हिंदू परिषद पंजाब की तरफ से पंजाब के माननीय राज्यपाल को दिया ज्ञापन1652 होमगार्ड जवानों की होगी भर्ती26 को राज्यपाल अंबाला में, मुख्यमंत्री जींद में फहराऐंगे राष्ट्रीय ध्वजसूद बने चंडीगढ़ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष, टंडन बने राष्ट्रीय परिषद् के सदस्यदो तहसीलदारों के विरुद्ध रिश्वत का मामला दर्ज, एक गिरफ़्तारक्या मुस्लिम महिलाएँ और बच्चे अब विपक्ष का नया हथियार हैं?बीएमटीसी की प्रबंध निदेशक ने चलाई वाल्वो बस, कहीं प्रशंसा तो कहीं आलोचना
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल के दबंग एसपी को लेकर कांग्रेस के रवैये से लोग हैरान

August 21, 2019 07:06 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) हिमाचल प्रदेश में इन दिनों राजधानी शिमला में चल रहे विधानसभा के मानसून सत्र से लेकर ऊना तक एक पुलिस अफसर की खासी चरचा हो रही है। जिसके तबादले को लेकर विपक्षी दल कांग्रेस के विधायक लामबंद हो गये हैं। यहां बात हो रही है ऊना के एसपी दिवाकर शर्मा की।
अपनी दबंग ईमानदार छवि के पुलिस अफसर दिवाकर शर्मा प्रदेश के जिला कांगड़ा के धर्मशाला से सटे दाड़ी के रहने वाले हैं। दिवाकर शर्मा 1999 बैच के हिमाचल पुलिस सेवा के अधिकारी हैं। वह ऊना में बतौर डीएसपी भी अपनी सेवायें दे चुके हैं। इनके पिता पेशे से वकील हैं।
इन दिनों ऊना में एसपी के तौर पर तैनात दिवाकर शर्मा की 2018 में आईपीएस में इंडक्शन हुई थी और उन्हें 2013 का बैच मिला था। ऊना में बतौर एसपी उन्होंने चिट्टे के सबसे अधिक केस पकड़े हैं। अपने ही पुलिस कर्मियों पर नजर रखने के लिए देर रात थाना चौकियों में दबिश दी है। शराब में नशे में धुत्त पुलिस कर्मियों और रिश्वत लेने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की है। लेकिन इस सब के बावजूद कुछ नेताओं को उनकी कार्यशैली रास नहीं आ रही है। चूंकि नेताओं की माफिया के साथ मिलिभगत किसी से छिपी नहीं है।
दरअसल, पिछले दिनों ऊना में एक गाड़ी से अवैध शराब पकडऩे पर पुलिस टीम पर हमला किया गया था। इस पर ऊना से कांग्रेस के विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और पीए के अलावा गाड़ी चालक को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि ऊना के पेखूबेला गांव में पुलिस जब शराब माफिया के खिलाफ कार्रवाई कर रही थी तो महिद्र सैनी उर्फ दीपू सैनी निवासी संतोषगढ़, विजय कुमार निवासी फतेहपुर ने अरुण कुमार निवासी सनोली, ऊना का पक्ष लेकर पुलिस कर्मचारियों के साथ मारपीट की। पुलिस कर्मियों ने पुलिस अधीक्षक को मामले की सूचना दी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद धीमान मौके पर पहुंचे। इसके बाद पुलिस ने तीनों आरोपितों को पकड़कर लिया। आरोपितों के खिलाफ धारा 353, 332,147 व 149 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने विधायक की गाड़ी समेत एक अन्य कार को भी कब्जे में ले लिया है।
लेकिन अब विपक्ष इस मसले पर विधानसभा में हंगामा कर रहा है। विपक्ष ऊना के एसपी को हटाने की मांग कर रहा है, लेकिन सरकार ने एसपी को हटाने और ट्रांसफर करने से इंकार कर दिया है। हालांकि, मामले की जांच सीआईडी को सौंपेगी जाएगी। ऐसा सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है। कांगड़ा के लोग भी कांग्रेस पार्टी के रवैये से हैरान हैं कि किस तरह कांग्रेस विधायक माफिया की वकालत कर एक ईमानदार पुलिस अफसर को हतोत्साहित कर रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
शोभा यात्रा से हुआ प्रागपुर राज्य स्तरीय लोहड़ी मेले का शुभारंभ मकर संक्रांति पर पर्यटन विभाग पकाएगा 1100 किलो खिचड़ी नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर प्रदेश स्तरीय जन जागरण अभियान 5 से नये साल के पहले दिन श्रद्धालुओं का तांता ज्वालामुखी में आरोह सांस्कृतिक समारोह का आयोजन एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स और अमृत फाउंडेशन ने महिलाओं के लिए लगाया कैंसर अवेयरनेस एंड डिटेक्शन कैम्प पठन पाठन का तौर तरीका बदलना होगा: डिप्टी स्पीकर हंस राज कंपनी में रोजगार के लिए चयनित किया विद्यार्थियों में सामाजिक चेतना विकसित करें शिक्षक एवं अभिभावक: परमार ग्रेट पेरेंट्स डे पर वेद धारा ग्लोबल स्कूल में दादा दादी की धूम