ENGLISH HINDI Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19 के विरुद्ध जंग में महान योगदान के लिए मैडीकल समुदाय की प्रशंसाबकरियां चराने गये बुजुर्ग पर जंगली सूअर का आक्रमण, बुजुर्ग की हुई मौतट्राईडेंट उद्योग समूह जिला के सेहत विभाग को देगा 10 हजार मेडीकल सूटकोरोना वायरस से मारे गए लोगों की अंतिम रस्में निभाने संबंधी हिदायतें जारी हों : ग्रेवाल जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठितमंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजरनिजामूद्दीन मरकज़ में तबलीगी जमात में भाग लेने वालों को दी 24 घंटों की अंतिम समय-सीमाकोरोना से बिना हथियार सीधी लड़ाई लड़ रहे योद्धा सेहत कर्मियों को आज मिलीं बचाव किट्टें
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल के दबंग एसपी को लेकर कांग्रेस के रवैये से लोग हैरान

August 21, 2019 07:06 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) हिमाचल प्रदेश में इन दिनों राजधानी शिमला में चल रहे विधानसभा के मानसून सत्र से लेकर ऊना तक एक पुलिस अफसर की खासी चरचा हो रही है। जिसके तबादले को लेकर विपक्षी दल कांग्रेस के विधायक लामबंद हो गये हैं। यहां बात हो रही है ऊना के एसपी दिवाकर शर्मा की।
अपनी दबंग ईमानदार छवि के पुलिस अफसर दिवाकर शर्मा प्रदेश के जिला कांगड़ा के धर्मशाला से सटे दाड़ी के रहने वाले हैं। दिवाकर शर्मा 1999 बैच के हिमाचल पुलिस सेवा के अधिकारी हैं। वह ऊना में बतौर डीएसपी भी अपनी सेवायें दे चुके हैं। इनके पिता पेशे से वकील हैं।
इन दिनों ऊना में एसपी के तौर पर तैनात दिवाकर शर्मा की 2018 में आईपीएस में इंडक्शन हुई थी और उन्हें 2013 का बैच मिला था। ऊना में बतौर एसपी उन्होंने चिट्टे के सबसे अधिक केस पकड़े हैं। अपने ही पुलिस कर्मियों पर नजर रखने के लिए देर रात थाना चौकियों में दबिश दी है। शराब में नशे में धुत्त पुलिस कर्मियों और रिश्वत लेने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की है। लेकिन इस सब के बावजूद कुछ नेताओं को उनकी कार्यशैली रास नहीं आ रही है। चूंकि नेताओं की माफिया के साथ मिलिभगत किसी से छिपी नहीं है।
दरअसल, पिछले दिनों ऊना में एक गाड़ी से अवैध शराब पकडऩे पर पुलिस टीम पर हमला किया गया था। इस पर ऊना से कांग्रेस के विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और पीए के अलावा गाड़ी चालक को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि ऊना के पेखूबेला गांव में पुलिस जब शराब माफिया के खिलाफ कार्रवाई कर रही थी तो महिद्र सैनी उर्फ दीपू सैनी निवासी संतोषगढ़, विजय कुमार निवासी फतेहपुर ने अरुण कुमार निवासी सनोली, ऊना का पक्ष लेकर पुलिस कर्मचारियों के साथ मारपीट की। पुलिस कर्मियों ने पुलिस अधीक्षक को मामले की सूचना दी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद धीमान मौके पर पहुंचे। इसके बाद पुलिस ने तीनों आरोपितों को पकड़कर लिया। आरोपितों के खिलाफ धारा 353, 332,147 व 149 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने विधायक की गाड़ी समेत एक अन्य कार को भी कब्जे में ले लिया है।
लेकिन अब विपक्ष इस मसले पर विधानसभा में हंगामा कर रहा है। विपक्ष ऊना के एसपी को हटाने की मांग कर रहा है, लेकिन सरकार ने एसपी को हटाने और ट्रांसफर करने से इंकार कर दिया है। हालांकि, मामले की जांच सीआईडी को सौंपेगी जाएगी। ऐसा सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है। कांगड़ा के लोग भी कांग्रेस पार्टी के रवैये से हैरान हैं कि किस तरह कांग्रेस विधायक माफिया की वकालत कर एक ईमानदार पुलिस अफसर को हतोत्साहित कर रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
बीज, खाद तथा कीटनाशक दवाइयों की दुकानें भी खुलेंगी सार्वजनिक स्थानों पर एक मीटर की दूरी नहीं तो होगी एफआईआर कोरोना से जंग में जनप्रतिनिधियों के वेतन भत्ते में कटौती स्वागत योग्य कदम एक्टिव केस फाईंडिंग अभियान के तहत 23 लाख व्यक्तियों की स्वास्थ्य जानकारी प्राप्त शहीद बालकृष्ण का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर ने शोक जताया, गोविंद सिंह ठाकुर ने दी श्रद्धांजलि मीडिया में कोविड-19 बारे अप्रमाणिक समाचारों को रोकने का आग्रह देश के करोड़ों देशवासी लॉकडाउन का पालन कर देश को बचाने में लगे हैं तब्लीगी जमात में भाग लेने वालों की दें त्वरित सूचना राज्यपाल ने की कुलपतियों के साथ चर्चा पुलिस को पीपीई किट व एन-95 मास्क के लिए एक करोड़ रुपये की स्वीकृति