ENGLISH HINDI Tuesday, February 18, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
हिन्दू महासभा और हिन्दू संगठनों के लिए फ़िल्म द हंड्रेड बक्स की होगी स्पेशल स्क्रीनिंगसरकारी मेडीकल कॉलेज मोहाली का नाम बदलकर डॉ. बी.आर. अम्बेदकर स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडीकल साइंसज़ रखने को मंज़ूरीडेराबस्सी— बरवाड़ा रोड पर एक फैक्ट्री में आग लगीपरमजीत कला, संस्कृति और खेल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नियुक्तश्रीसालासर बालाजी परिवार की मूर्तियो का विधिवत रूप से श्री सनातन धर्म मंदिर सेक्टर-32 में प्राण प्रतिष्ठा कर स्थापित की गईनम्बरदारों का मानभत्ता 2000 रुपए करने का फैसलाफ़िल्म 'द हंड्रेड बक्स' की होगी स्पेशल स्क्रीनिंगआनुवांशिक सुधार व निवेश लागत घटाकर दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के प्रयास
हरियाणा

डीसी ने 7वीं आर्थिक गणना के लिए सीएससी उद्यमियों व प्रगणकों की रैली को दिखाई झंडी

August 24, 2019 12:20 AM

सिरसा, सतीश बांसल:
उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने शुक्रवार को स्थानीय लघु सचिवालय के प्रांगण से 7वीं आर्थिक गणना के लिए सीएससी सुपरवाईजरों व प्रगणकों की रैली को झंडी दिखा कर रवाना किया। जिला में 7वीं आर्थिक गणना का कार्य आज से शुरु हो गया है।   

-आर्थिक गणना के लिए 2500 सुपरवाईजर व प्रगणक नियुक्त


इस अवसर पर उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने कहा कि भारत सरकार के सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यन्वयन मंत्रालय द्वारा देशभर में सातवीं आर्थिक गणना की जा रही है। उन्होंने बताया कि आर्थिक गणना के लिए जिला में लगभग 2500 सुपरवाईजर व प्रगणक लगाए गए हैं जिनमें 450 सुपरवाईजर व 2 हजार से भी अधिक प्रगणक शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इस बार की आर्थिक गणना का कार्य जिलाभर में स्थापित सामान्य सेवा केन्द्रों के माध्यम से किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आर्थिक गणना के लिए लगाए गए प्रगणक अटल सेवा केन्द्रों के उद्यमियों की देखरेख में सर्वे करेंगे।
उन्होंने बताया कि इस डेटा का उपयोग राज्य व केंद्र सरकार द्वारा विकासात्मक योजना और सांख्यिकीय उद्देश्यों के लिए किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार को देश में रहने वालों की आर्थिक स्थिति, रहन-सहन का पता करना और यह पता करना की देश में छोटे स्तर, मध्यम स्तर और बड़े स्तर के कितने व्यापार चल रहे हैं। लोगों का रुझान किस तरह के व्यापार में है, ताकि जब भी कोई योजना बनानी हो तो सरकार इस जनगणना की मदद से लोगों की जरूरत के हिसाब से एक बेहतर और लाभदायक योजना बना सके। उपायुक्त ने बताया कि आर्थिक गणना किसी भी स्थान के भौगोलिक प्रसार, आर्थिक गतिविधियों, स्वामित्व पैटर्न, प्रतिष्ठानों के व्यक्ति की आर्थिक गतिविधि आदि को प्रदर्शित करती है।
उन्होंने बताया कि सामान्य सेवा केन्द्रों (सीएससी) द्वारा लगे सुपरवाईजरों व प्रगणकों द्वारा डाटा एकत्र किया जाएगा और इस कार्य में डेटा कैप्चर, सत्यापन, रिपोर्ट निर्माण और प्रसार के लिए मोबाइल एप्लिकेशन भी बनाई गई है जहां पर यह डाटा अपलोड किया जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
महापुरुषों की जयंतियां उनके जीवन पर शिक्षाओं पर कार्यक्रम आयोजित करके मनाई जाए: मुख्यमंत्री फाइनेंस कंपनी का कर्मी बता वाहन चोरी की वारदातों को दिया अंजाम, पुलिस के हत्थे चढा पुलवामा हमले की बरसी पर राहुल गांधी का ट्वीट शर्मनाक: मलिक जनगणना: मकान सूचीकरण कार्य 1 मई से 15 जून तक किसानों की अनदेखी, एसवाईएल, बढ़ती बेरोजगारी, महिला सुरक्षा की अनदेखी: सैलजा दिव्यांग उद्यमियों की सफलता की कहानी बयां कर रहे हैं सूरजकुंड मेले के 12 स्टॉल 12 दिवसीय सरस मेले का आगाज पांच बदमाशों की गिरफ्तारी, लाखों रुपये व लूटी गई कार बरामद टिड्डी दल के आगमन के चलते अलर्ट जारी हरियाणा विधानसभा की जानकारी हेतु बनाया जाएगा सॉफ्टवेयर