ENGLISH HINDI Sunday, February 23, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली का दिल्ली के एम्स में निधन

August 24, 2019 03:12 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज/संजय मिश्रा:
देश के पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली का निधन हो गया है। दिल्ली के एम्स में दोपहर 12.07 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। अरुण जेटली 9 अगस्त से ही एम्स में भर्ती थे। उन्हें सांस लेने में तकलीफ थी जिस कारण उन्हें एम्स में भर्ती किया गया था।
जेटली के निधन की खबर सुनकर गृह मंत्री अमित शाह ने अपने हैदराबाद दौरे को खत्म कर दिल्ली वापस आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विदेश दौरे पर अभी संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हैं।
अरुण जेटली के फेफड़ों में पानी जमा होने की वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत आ रही थी इस कारण डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा था। उन्हें सॉफ्ट टिशू सरकोमा था, जो एक प्रकार का कैंसर होता है।
ज्ञात हो कि जेटली पहले से ही डायबिटीज के मरीज थे। उनका किडनी ट्रांसप्लांट भी हो चुका था। सॉफ्ट टिशू कैंसर के इलाज के लिए अमेरिका भी गए थे।
जेटली 67 वर्ष की उम्र में दुनियां छोड़ गए उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से छात्र नेता के रूप में राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी। जेटली सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील भी थे। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में वित्त मंत्रालय संभालने वाले जेटली स्वास्थ्य कारणों से मोदी-2 सरकार में शामिल नहीं हुए थे। वह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में भी केंद्रीय मंत्री रहे थे। उनकी गिनती देश के बेहतरीन वकीलों के तौर पर होती रही। 80 के दशक में ही जेटली ने सुप्रीम कोर्ट और देश के कई हाई कोर्ट में महत्वपूर्ण केस लड़े। 1990 में उन्हें दिल्ली हाई कोर्ट ने सीनियर वकील का दर्जा दिया था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
एक भारत—श्रेष्ठ भारत पर चित्र प्रदर्शनी मनसा देवी मंदिर परिसर में आयोजित दिल्ली के स्कूलों में रोबोट पढ़ायेंगे बच्चों को स्वच्छता का पाठ अंतर्राष्ट्रीय राजनीति का कुत्सित रूप कोरोना वायरस हिन्दू महासभा और हिन्दू संगठनों के लिए फ़िल्म द हंड्रेड बक्स की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग फ़िल्म 'द हंड्रेड बक्स' की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग आनुवांशिक सुधार व निवेश लागत घटाकर दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के प्रयास भारत में फिल्मांकन को बढ़ावे के लिए प्रतिनिधिमंडल बर्लिलेन में हिस्‍सा लेगा रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान का नाम बदलकर मनोहर पर्रिकर रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान किया यूटी जम्मू एंड कश्मीर स्मार्ट स्कूल स्थापित करने के लिए सबसे बेहतर स्थान जम्मू एंड कश्मीर इनवेस्टर्स समिट 2020 रोडशो बैंगलुरू से हुआ आरंभ