ENGLISH HINDI Wednesday, September 18, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
इंजीनियर कॉलेज पन्नीवाला को बंद करने के सरकारी फरमान के विरोध में प्रदर्शनजनहित की बजाए स्वहित की सोच रखने वालों को नकारे: कांडाप्लास्टिक बैन के तहत डेराबस्सी में छापेमारीपहाड़ों पर चढ़ने, नियमित सफर करने वाले हो सकते हैं किन बीमारियों के शिकार बदहाल कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्ण का रथ भी गड्ढे में फंस जाएगा, मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुस्से से बचें : कुमारी सैलजा ज़ीरकपुर भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस धूमधाम से मनाया मेंटेनेंस वर्क के चलते बुधवार को ढकोली सब स्टेशन क्षेत्र में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक नहीं रहेगी बिजलीअधिकारी निष्पक्ष रहने के साथ-साथ निष्पक्ष दिखें भी: उपायुक्त
हरियाणा

अग्निशमन व पालिका कर्मियों ने शुरू की तीन दिवसीय हड़ताल

August 27, 2019 09:15 PM

सिरसा, सतीश बांसल: सर्व कर्मचारी संघ से संंबंधित नगरपालिका एवं अग्निशमन कर्मचारियों ने तीन दिवसीय हड़ताल शुरू कर दी है। हड़ताल के पहले दिन विभिन्न कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने हड़ताल को समर्थन दिया। पहले दिन हड़ताल की अध्यक्षता अग्निशमन विभाग के जिला प्रधान राजेश खिचड़ व एसकेएस के जिला प्रधान मदन लाल खोथ व जिला सचिव राजेश भाकर ने संयुक्त रूप से की। इस मौके पर एसकेएस के जिला प्रधान मदनलाल खोथ व अग्निशमन के जिला प्रधान ने राजेश खिचड़ ने बताया कि राज्य सरकार के साथ अग्निशमन व नगरपालिका कर्मचारियों की मांगों को लेकर आंदोलन के दौरान 24 मई को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में समझौता हुआ। जिसमें ठेका प्रथा समाप्त करके कर्मचारियों को विभाग पे-रोल पर लेने सहित कई मांगों पर सहमति बनी थी। लेकिन सरकार ने अभी तक कर्मचारियों के साथ किए गए समझौते को लागू नहीं किया है। सरकार द्वारा बार-बार की जा वायदाखिलाफी को लेकर प्रदेशभर के फायर एवं नगरपालिका कर्मचारियों में भारी रोष है। हड़ताल से पूर्व गत दिवस की सांय दोनों विभागों के कर्मचारियों ने मशाल जुलूस भी निकाला था। उन्होंने बताया कि तीन दिवसीय हड़ताल के दौरान अगर सरकार ने समझौता लागू नहीं किया तो हड़ताल अनिश्चतकालीन भी हो सकती है। कर्मचारियों ने कहा कि हड़ताल के दौरान अगर आमजन को कोई परेशानी होती है तो इसके लिए सरकार जिम्मेवार है। इस मौके पर एसकेएस से मदनलाल खोथ, सुरजीत अरोड़ा, बिजली विभाग से ब्लॉक प्रधान राजेश शर्मा, करणी सिंह भाटी, अविनाश कंबोज, रिटायर्ड यूनियन से कृपा शंकर त्रिपाठी, अशोक पटवारी, सुखदेव सिंह, मनोज कुमार, कृष्णा, बलविंद्र सिंह, राजेंद्र सिंह, हरजिंद्र सिंह, राजकुमार, विक्रम कुमार, दीपक कुमार सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।
ये हैं मांगें:
सफाई व फायर कर्मचारियों को पक्का किया जाए, सौ-सौ गज के प्लॉट दिए जाएं, ठेका प्रथा समाप्त की जाए, पूर्व में की गई भर्ती को रद्द कर लगे हुए कर्मचारियों को इन पदों पर मर्ज किया जाए, पंजाब के समान वेतनमान दिया जाए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
इंजीनियर कॉलेज पन्नीवाला को बंद करने के सरकारी फरमान के विरोध में प्रदर्शन जनहित की बजाए स्वहित की सोच रखने वालों को नकारे: कांडा बदहाल कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्ण का रथ भी गड्ढे में फंस जाएगा, मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुस्से से बचें : कुमारी सैलजा अधिकारी निष्पक्ष रहने के साथ-साथ निष्पक्ष दिखें भी: उपायुक्त लाइनमैन के गलत तबादले को लेकर जताया रोष बीएसएनएल निगम कर्मियों ने सरकार के खिलाफ जताया रोष सुभाष चन्द्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार 2020 के लिए आवेदन आमंत्रित पंजीकृत एजेंटों के माध्यम से ही करें विदेश यात्रा पेड-न्यूज, प्रिंट मीडिया, इलैक्ट्रोनिक मीडिया में विज्ञापन संबंधी दिशानिर्देश संत रविदास का अपमान नहीं सहेंगे, चंद दिनों की मेहमान है खट्टर सरकार, बोली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष