ENGLISH HINDI Wednesday, September 18, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
इंजीनियर कॉलेज पन्नीवाला को बंद करने के सरकारी फरमान के विरोध में प्रदर्शनजनहित की बजाए स्वहित की सोच रखने वालों को नकारे: कांडाप्लास्टिक बैन के तहत डेराबस्सी में छापेमारीपहाड़ों पर चढ़ने, नियमित सफर करने वाले हो सकते हैं किन बीमारियों के शिकार बदहाल कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्ण का रथ भी गड्ढे में फंस जाएगा, मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुस्से से बचें : कुमारी सैलजा ज़ीरकपुर भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस धूमधाम से मनाया मेंटेनेंस वर्क के चलते बुधवार को ढकोली सब स्टेशन क्षेत्र में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक नहीं रहेगी बिजलीअधिकारी निष्पक्ष रहने के साथ-साथ निष्पक्ष दिखें भी: उपायुक्त
हरियाणा

सरकारी कॉलेजों में छात्राओं के साथ होने वाले यौन उत्पीडऩ की शिकायतों के निवारण के लिए वुमैन सैल बनाने के निर्देश

September 09, 2019 10:05 PM

चंडीगढ़:हरियाणा के उच्चतर शिक्षा विभाग ने सरकारी कॉलेजों में छात्राओं के साथ होने वाले यौन उत्पीडऩ की शिकायतों के निवारण के लिए वुमैन सैल बनाने के निर्देश दिए हैं तथा इस सैल के सभी सदस्यों की सूची कॉलेज के नोटिस बोर्ड पर डिस्पले करनी होगी।

 विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि उच्चतर शिक्षा विभाग के निदेशक की ओर से प्रदेश के सभी सरकारी कॉलेजों के प्रिंसिपलों को निर्देश दिए गए हैं कि वे छात्राओं की गरिमा और सम्मान की सुरक्षा तथा यौन उत्पीडऩ को रोकने को प्राथमिकता दें। उन्होंने बताया कि निदेशालय स्तर पर भी इस संबंध में एक कमेटी गठित की गई है जिसने कई सुझाव स्वीकृत किए हैं।

उन्होंने इन सुझावों के आधार पर अपने-अपने कॉलेज में वुमैन सैल गठित करने के निर्देश देते हुए कहा कि अगर किसी छात्रा की ओर से कोई यौन उत्पीडऩ की शिकायत आती है तो उसको स्थानीय स्तर पर गंभीरता से लें तथा कम से कम समय में इसके निवारण के कदम उठाए जाएं तथा कार्रवाई की जाए। उन्होंने बताया कि अगर किसी छात्रा के साथ यौन उत्पीडऩ होता है तो वह बेझिझक अपनी शिकायत वुमैन सैल को दे सकती है, उसका नाम सार्वजनिक रूप से उजागर किए बिना मामले में कार्रवाई जाएगी।

उन्होंने यह भी बताया कि वुमैन सैल को छात्राओं को यौन उत्पीडऩ के प्रति जागरूक करने के लिए सेमीनार भी आयोजित करने चाहिए ताकि छात्राओं को उनके अधिकारों की जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि किसी भी संस्था के मुखिया व अन्य समझदार लोगों की जिम्मेवारी बनती है कि वे छात्राओं के साथ होने वाली यौन उत्पीडऩ की किसी भी घटना को रोकने में मदद करें तथा उसके निवारण के लिए कदम उठाएं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
इंजीनियर कॉलेज पन्नीवाला को बंद करने के सरकारी फरमान के विरोध में प्रदर्शन जनहित की बजाए स्वहित की सोच रखने वालों को नकारे: कांडा बदहाल कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्ण का रथ भी गड्ढे में फंस जाएगा, मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुस्से से बचें : कुमारी सैलजा अधिकारी निष्पक्ष रहने के साथ-साथ निष्पक्ष दिखें भी: उपायुक्त लाइनमैन के गलत तबादले को लेकर जताया रोष बीएसएनएल निगम कर्मियों ने सरकार के खिलाफ जताया रोष सुभाष चन्द्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार 2020 के लिए आवेदन आमंत्रित पंजीकृत एजेंटों के माध्यम से ही करें विदेश यात्रा पेड-न्यूज, प्रिंट मीडिया, इलैक्ट्रोनिक मीडिया में विज्ञापन संबंधी दिशानिर्देश संत रविदास का अपमान नहीं सहेंगे, चंद दिनों की मेहमान है खट्टर सरकार, बोली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष