ENGLISH HINDI Monday, October 21, 2019
Follow us on
 
हरियाणा

बदहाल कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्ण का रथ भी गड्ढे में फंस जाएगा, मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुस्से से बचें : कुमारी सैलजा

September 17, 2019 09:58 PM

कुरुक्षेत्र/अंबाला: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने खट्टर सरकार के पांच साल के कार्यकाल को समाज के हर वर्ग के लिए पीड़ादायक बताया। उन्होंने कहा कि समय आ गया है जब कांग्रेस के कार्यकर्ता एकजुटता से ताकत लगाएंगे और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की भाजपा सरकार से प्रदेश को मुक्ति दिलाएंगे।

 उन्होंने कहा कि कुरुक्षेत्र को धर्मनगरी के तौर पर विकसित करने का सपना उन्होंने ही केंद्रीय पर्यटन मंत्री के तौर पर पहली बार 1992 में देखा था। यहां के विकास के लिए योजनाएं बनाई थीं। लेकिन मौजूदा सरकार ने सिर्फ इस्तेहारों में प्रचार पाने का काम किया है। कुरुक्षेत्र की बदहाली का आलम यह है कि भगवान श्रीकृष्ण भी अगर यहां आएं तो यहां के गड्ढों में उनका रथ फंस जाए।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की ओर से आरक्षण खत्म करने की साजिश रची जा रही है। लोगों को आपस में लड़ाया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर खुद को एक खास वर्ग का बताने में लगे हैं जबकि हरियाणा की हकीकत है कि यहां 36 बिरादरी के लोग आपस में मिलजुलकर रहते आए हैं। चाहे वह मजदूर हैं, किसान हैं, व्यापारी हैं, दुकानदार हैं, युवा हैं या बहने हैं। हर तरह के लोगों को लेकर कांग्रेस चलती आई है। लेकिन मुख्यमंत्री ने अपने को एक वर्ग का बताकर बाकी वर्गों का अपमान किया है। इसे हम सभी कांग्रेस कार्यकर्ता लोगों तक लेकर जाएगे। खट्टर सरकार की छुट्टी और कांग्रेस की सरकार बनाने की पुष्टि करेंगे।

कांग्रेस की सरकार बनना तय, कार्यकर्ताओं से किया घर-घर जाने का आह्वान

पूर्व मुख्यमंत्री और विधायक दल नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने मनोहर लाल सरकार पर आरोप लगाया कि उसने सरकार में आने से पहले 154 वायदे किए थे। उनमें से एक भी वायदे नहीं निभाए गए। जबकि कांग्रेस सरकारों का रिकार्ड रहा है कि वह जनता से किए गए वायदे को हरकीमत पर पूरा करती है। प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि विधानसभा चुनाव किसी एक चेहरे को सामने रखकर लड़ने के बजाय तमाम कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सामने कर लड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री का चयन चुनाव पर्यंत जनभावना के अनुरुप आलाकमान के निर्देश पर किया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद कुमारी सैलजा ने कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलनों को लगातार तीसरे दिन संबोधित करते हुए हरियाणा की खट्टर सरकार पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि भाजपा सरकार के हिसाब किताब का समय आ गया है। आपको एकजुटता के साथ लोगों को घर घर जाकर बताना है कि हम लोगों के आजादी पर संकट नहीं आने देंगे। केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार ने मीडिया का गला दबाने का काम किया है। मीडियाकर्मियों को पक्ष में खबर करने का दबाव बनाया जा रहा है। मीडियाकर्मियों पर एफआईआर हो रही हैं। जेल में भेजने की धमकियां मिल रही हैं। कांग्रेस खट्टर सरकार के इस गलत प्रयास का मुंहतोड़ जवाब देगी।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुरुक्षेत्र में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रही थीं। इस दौरान उनके साथ राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मीडिया सेल के प्रमुख एवं विधायक रणदीप सिंह सूरजेवाला भी मौजूद रहे।

यहां पत्रकारों के सवाल के जवाब में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश का माहौल पूरी तरह से भाजपा सरकार के खिलाफ है। हम साथ मिलकर लड़ेंगे और कांग्रेस की सरकार बनाएंगे।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा पिछले पांच साल के आंकड़े उठाकर देख लीजिए, प्रदेश सरकार ने घोषणापत्र में किए एक भी वादे को पूरा नहीं किया है। जबकि हमने लोगों से किया एक-एक वादा पूरा किया था।उन्होंने कार्यकर्ताओं से एकजुट होने का आह्वान करते हुए कहा कि खट्टर सरकार एक धोखा है और हरियाणा को बचाओ अभी मौका है।इस मौके पर चौधरी निर्मल सिंह, कैलाशो देवी, अशोक अरोड़ा, विधायक व पूर्व केंद्रीय मंत्री जय प्रकाश के साथ-साथ हजारों की संख्या में युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवादल आदि से जुड़े कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

अंबाला में कुमारी सैलजा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को ज्यादा गुस्से से बचने की सलाह दी है। मुख्यमंत्री के गुस्से से हरियाणा की जनता को बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। वह अंबाला में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्मेलन के बाद पत्रकारों से बात कर रही थी। उन्होंने कहा कि जमीन पर वायदे नहीं उतर पाने के कारण मुख्यमंत्री मनोहर लाल ज्यादा परेशान हैं। गुस्से में लाल अपने ही लोगों को फरसे से काटने की बात करने लगे हैं। भारतीय जनता पार्टी नेतृत्व को चाहिए कि अब मुख्यमंत्री की सेहत का ख्याल करते हुए उनको बदल दे।   

अंबाला अनाज मंडी में विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि  किसान हमारे अन्नदाता हैं, मौजूदा सरकार ने उनको सबसे ज्यादा कष्ट दे रखा है। एक तो इन्हें फसल का सही मूल्य सरकार नहीं दे रही है और जो मिल रहा है वह भी साल 2020 का चेक दिया जा रहा है। 

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद वह पहली बार अंबाला शहर में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं की जोश को देखकर उनको पूरा यकीन है कि प्रदेश में फिर से कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। उन्होंने कहा कि उलट सोच वाली सरकार चाहती है कि किसान को फसल का दाम मिले न मिले फसल का बीमा करवाना जरूरी है। बीमा के पैसे पहले ही काट लिए जाते हैं। ये तो गरीब आदमी के साथ अन्याय है। 

उन्होंने कहा कि जीएसटी, फसल बीमा और ऐसी ही जबरदस्ती की योजनाओं के बोझ में किसान मरा जा रहा है। अब तो युवाओं का मोटरसाइकिल और स्कूटी चलाना भी दुश्वार हो गया है। देखने में आता है कि युवा पुलिस को देखते ही मोटरसाइकिल से उतर कर पैदल चलने लगते हैं। क्या जरूरत है ऐसे कानून की जो लोगों के लिए मुसीबत बन जाए।  

कुमारी शैलजा ने बढ़ती बेरोजगारी और युवाओं के अपराध के रास्ते पर जाने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पंजाब ने ड्रग्स को लेकर सख्ती की हुई है। ऐसे में वो सारा जहर हरियाणा की तरफ आ रहा है जो हमारे बेटों की जिंदगी बरबाद कर रहा। उनकी जवानी बरबाद हो रही है।  

उन्होंने कहा कि तरफ तो सरकार महिलाओं को गैस सिलेंडर बांट रही है दूसरी तरफ अवैध खनन पर्यावरण तबाह कर रहा है। ऐसे ही चलता रहा तो लोगों को गैस सिलेंडर की जगह ऑक्सीजन के सिलेंडर देने पड़ेंगे। सबको देने पड़ेंगे। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अवैध खनन के इस काले कारोबार में प्रदेश सरकार बराबर की हिस्सेदार है।

 

उन्होंने दलित समाज से जुड़े मुद्दों को गंभीर बताया। उन्होंने कहा कि जब हमारी सरकार थी तो हम मैला ढोने के खिलाफ कानून लेकर आए थे। लेकिन अब आए दिन लोगों की सीवर में उतरकर मर रहे हैं।  लोगों को गटर में उतारकर जान लेने वाली सरकार अपराधी सरकार है। मनोहर लाल की सरकार भ्रष्ट और जनविरोधी है। आने वाले चुनाव में जनता इसे उखाड़ फेकेगी। इसके लिए कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुट होकर मेहनत करेंगे। इसबार मेहनत जरुर रंग लाएगी। उन्होंने कहा कि अगर सेना मजबूत नहीं है तो सेनापति अकेला कुछ नहीं कर सकता। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यह जिम्मेदारी मुझे नहीं बल्कि आप लोगों को सौपी है। अब यह चुनाव जितवाना आपकी जिम्मेदारी है। 

इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री और विधायक दल नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने मनोहर लाल सरकार पर आरोप लगाया कि उसने सरकार में आने से पहले 154 वायदे किए थे। उनमें से एक भी वायदे नहीं निभाए गए। जबकि कांग्रेस सरकारों का रिकार्ड रहा है कि वह जनता से किए गए वायदे को हरकीमत पर पूरा करती है। प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि विधानसभा चुनाव किसी एक चेहरे को सामने रखकर लड़ने के बजाय तमाम कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सामने कर लड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री का चयन चुनाव पर्यंत जनभावना के अनुरुप आलाकमान के निर्देश पर किया जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें