ENGLISH HINDI Monday, October 21, 2019
Follow us on
 
पंजाब

शिकागो में जीरकपुर के गांव छत्त के युवक की गोली मारकर हत्या, गांव में माहौल गमगीन

September 19, 2019 08:37 PM

जीरकपुर, जेएस कलेर
शिकागो में हथियारबंद लुटेरों ने जीरकपुर के नजदीकी गांव छत्त के एक युवक की ग्रॉसरी स्टोर से घर जाते हुए गोली मारकर हत्या कर दी। अश्वेत लुटेरों ने उसे लूटने के प्रयास में गोली मार दी। गुरुवार की सुबह हुई इस घटना में मारे गए युवक का नाम 28 वर्षीय बलजीत सिंह उर्फ प्रिंस बताया गया है। घटना के बाद विदेश मंत्रालय ने इस पर संज्ञान लेते हुए स्थानीय अधिकारियों से जानकारी ली है।

 
 
 
बेहतर भविष्य की तलाश में अमरीका गए किसी भारतीय पर हमले की यह कोई पहली घटना नहीं है इस घटना का समाचार प्राप्त होने पर जीरकपुर शहर में माहौल गमगीन है।

प्राप्त जानकारी अनुसार स्थानीय पटियाला सड़क पर स्थित गांव छत्त के युवक की यूएसए के शहर शिकागो में गरोसरी स्टोर में काम करने युवक को लूटने के इरादो के साथ आए बदमाशों ने को गोली मार कर दी। गोली लगने से उसकी मौके मौत हो गई। 28 वर्षीय युवक बलजीत सिंह प्रिंस पुत्र इंद्रजीत सिंह गाँव छत्त का निवासी था और बेहतर भविष्य के लिए एक साल पहले अमरीका गया था। वह यूएसए के शिकागो शहर में रहता था और वहाँ अपने गाँव के अवतार सिंह पप्पी नामक व्यक्ति के गरोसरी स्टोर में काम करता था।

जब प्रिंस बीती 18 सितंबर को तकरीबन रात के 11 बजे स्टोर बंद कर घर वापिस जाने लगा तो पीछे आ रहे 2-3 अश्वेतों ने उसको रोक कर लूटने की कोशिश की। जब उसपर लुटेरों का वश न चला तो उन्होंने प्रिंस को गोली मार दी जो की प्रिंस के पेट के पास लीवर में लगी प्रिंस ने घायल अवस्था में स्टोर मलिक अवतार सिंह को फ़ोन कर घटना की जानकारी दी. थोड़ी देर में स्टोर मालिक में मौके पर पुहंच कर प्रिंस को पास के अस्पताल ले गया जहाँ डाक्टरों ने बलजीत सिंह प्रिंस को मृत करार कर दिया। प्रैस की मौत के बाद प्रैस के घर में मातम पसरा हुआ है और आज समाचार प्राप्त होने के बाद घर में गांव वासियों के तांता लगा हुआ था। बलजीत सिंह प्रिंस तकरीबन डेढ़ साल पहले दो नंबर के जरिए मेक्सिको से होता हुआ अमरीका पहुच था जिसके लिए उसने एजेंट्स को बकायदा 25 लाख की रकम दी थी। दो नंबर में अमरीका पहुचने पर उसे अमरीकी सरकार को 15 लाख का बांड अलग से भरा।

उंसके परिवार में उंसके इलावा उंसके दादा दादी, माँ बाप व दो बहनें हैं। प्रिंस घर का इकलौता बेटा था। उसकी बड़ी बहन जर्मनी में स्टडी बेस पर गई थी और अब उसे वहाँ की पीआर प्राप्त है व छोटी बहन यहीं गांव में ही रहती है। मृतक प्रिंस के मामा अमरजीत सिंह ने भारतीय सरकार से मांग की है कि वह बलजीत का अमरीका से शव लाने में मदद करे। उन्होंने कहा कि इसके लिए वह पटियाला की सांसद महारानी परनीत कौर से भी मुलाकात करेंगे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पेंफलैट बांटने को लेकर जिम मालिकों के बीच हुई तकरार दो घायल प्रजाईडिंग और पोलिंग अफसरों को 22 अक्तूबर की छुट्टी ऑफिस में घुसकर सिक्योरिटी इंचार्ज से की मारपीट, मामला दर्ज स्टाफ की कमी से कौंसिल प्रशासन कर रहा है बिलडिंग बाईलाज़ की अनदेखी वन कर्मी 22 को करेंगे मोहाली में घेराव बिना मंजूरी इमीग्रेशन दफ्तर खोलने पर व्यक्ति ख़िलाफ़ मामला दर्ज मतदान समाप्ति से 48 घंटे पहले लागू होने वाली हिदायतें जारी पंजाब की फ़ैक्ट्रियों में कार्यरत हरियाणा के श्रमिकों के लिए छुट्टी का ऐलान मोटरसाइकिल सवार को कार ने मारी टक्कर, इलाज दौरान मौत ऑस्ट्रेलिया से पति का फोन ‘तुम्हारे यहाँ निकला क्या चांद’ पत्नी ने चांद को दिया अर्क