ENGLISH HINDI Tuesday, January 21, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

क्लिनिकल रिसर्च नैदानिक अनुसंधान विषय पर कार्यशाला शुरू

September 24, 2019 07:53 PM

ऋषिकेश, (ओम रतूड़ी) एम्स ऋषिकेश में दो दिवसीय क्लिनिकल रिसर्च नैदानिक अनुसंधान विषय पर कार्यशाला शुरू हो गई। जिसमें देशभर से 60 से अधिक विशेषज्ञ व प्रतिभागी शिरकत कर रहे हैं। कार्यशाला को लेकर अपने संदेश में एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने फार्माकोलॉजी विभाग द्वारा लगातार किए जा रहे अनुसंधान से जुड़े कार्यों पर शुभकामनाएं दी। प्रो. कांत ने विभागीय टीम को भविष्य में शोध कार्यों को सततरूप से करने के लिए प्रोत्साहित किया,जिससे इसका लाभ मरीजों व आम जनता को मिल सके। एम्स ऋषिकेश में फार्माकोलॉजी विभाग की ओर से आयोजित दो दिवसीय क्लिनिक रिसर्च कार्यशाला का डीन रिसर्च प्रो. प्रतिमा गुप्ता, पीजीआई चंडीगढ़ के प्रो. विकास मेहंदी, फार्मासिटिकल कंपनी से जुड़े डा. विनु,डा. शोएवल मुखर्जी व डा. इंद्रजीत ने संयुक्तरूप से किया। इस अवसर पर डीन रिसर्च प्रो. प्रतिमा गुप्ता ने संस्थान के फार्माकोलॉजी विभाग की ओर से किए जा रहे विभिन्न शोधकार्यों की सराहना की व कार्यशाला में शामिल हो रहे प्रतिभागियों को भविष्य में शोधकार्य के लिए शुभकामनाएं दी। एम्स के फार्माकोलॉजी विभागाध्यक्ष प्रो. शैलेंद्र हांडू ने कार्यशाला में देश के विभिन्न हिस्सों से आए विशेषज्ञों व विद्यार्थियों का विभाग की ओर से स्वागत किया, उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में अनुसंधान के क्षेत्र में आए बदलावों से अवगत कराया। कार्यशाला में अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर नैदानिक अनुसंधान किस तरह से करें,इसका प्रशिक्षण दिया गया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
क्या मुस्लिम महिलाएँ और बच्चे अब विपक्ष का नया हथियार हैं? बीएमटीसी की प्रबंध निदेशक ने चलाई वाल्वो बस, कहीं प्रशंसा तो कहीं आलोचना जांच के दायरे में करीब 20 हजार लोग, दिल्ली पुलिस कर रही है पड़ताल भारत लहराएगा दुनिया में 5जी इंटरनेट का परचम, इसरो ने ताकतवर संचार उपग्रह किया लॉन्च जनगणना कार्य के लिए प्रारंभिक तैयारियां आरम्भः मुख्य सचिव जल होगा तो सब होगा: स्वामी चिदानन्द सरस्वती चिकित्सक को चिकित्सा ज्ञान के साथ व्यवहार कुशल होना भी जरुरी: प्रो. कांत फरवरी से अयोध्या में दुनिया का सर्वश्रेष्ठ 100008 कुंडीय श्री सीताराम महायज्ञ नागरिकता संशोधन विधेयक किसी के भी विरोध में नहीं: स्वामी चिदानन्द सरस्वती गंगा नदी पर अवैध प्लेटफ़ार्म बनाने के विरोध में नगर आयुक्त को ज्ञापन