ENGLISH HINDI Tuesday, July 14, 2020
Follow us on
 
धर्म

राम कथा : भरत चरित्र सुनकर नम हुई भक्तों की आंखें

October 05, 2019 09:20 PM

चंडीगढ़ : प्रोग्रेसिव सोसायटी सेक्टर 50- बी चंडीगढ़ में श्री राम कथा दिनांक 29-09-2019 से 7-10-2019 तक शाम 4:30 बजे से रात्रि 8:00 बजे तक हो रही है । इस अवसर पर ब्रह्मर्षि विश्वात्मा बावरा जी महाराज की परम शिष्या कथा व्यास पूज्नीय स्वामी डॉक्टर अमृता दीदी जी के मुख से निरंतर श्री राम कथा रूपी अमृत की वर्षा हो रही है।

 सातवें दिन की कथा में पूज्य अमृता दीदी जी ने भरत चरित्र एवं राम भरत मिलाप की सुंदर एवं मार्मिक कथा भक्तों को सुनाई। दीदी जी ने बताया कि भरत भ्रातृ प्रेम की सजीव मूर्ति है। उनका चरित्र सागर के समान विशाल है। नाना के घर से लौटने के पश्चात जब भरत को पिता के स्वर्गवास के समाचार का और भाई श्री राम के 14 वर्ष के वनवास का पता चला, तब वहां शोक से व्याकुल हो गए और तुरंत अपने गुरु वशिष्ठ, तीनों माताओं और प्रजा के साथ चित्रकूट की तरफ प्रस्थान किए।

प्रभु श्रीराम से अपनी माता कैकइ के कृत्य के लिए क्षमा मांगते हुए अयोध्या लौटने का निवेदन किया। परंतु पिता को दिए हुए वचन से बंधे हुए श्री राम अयोध्या लौटने को तैयार नहीं हुए। तब भारत ने राम की चरणपादुका लेकर अपने सिर पर रखी और कहा कि 14 वर्षों तक यह ही राम का प्रतीक बनकर अयोध्या पर शासन करेगी। इस प्रकार का त्याग, प्रेम और सम्मान, ऐसा आदर्श व्यक्तित्व सुनकर भक्तों की आंखें नम हो गई। कथा के अंत में भक्तों में प्रसाद वितरण किया गया तथा भंडारे की व्यवस्था की गई

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और धर्म ख़बरें
स्वयं को सशक्त कर बाह्य परिस्थितयों पर कर सकते है विजय प्राप्त कोरोना से बचाव का फार्मूला: जलाभिषेक करना है तो लोटा घर से लाना होगा चंडीगढ़ के मंदिर दिखे सुनसान ..... संत निरंकारी मिशन ने संभाली जरूरतमंदों को घर बैठे राशन सामग्री पहुंचाने की कमान विशाल साईं भजन संध्या का आयोजन कैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन महाशिवरात्रि पर्व: शिव खेड़ा मंदिर में लगा शिव भक्तों का तांता सेक्टर 24 मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने लगाया लंगर प्रसाद: चना-पूरी और खीर का भोले भक्तों में बांटा प्रसाद महाशिवरात्रि पर्व: लक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने लगाया लंगर: 24 प्रकार के व्यंजन शिव भक्तों में प्रसाद स्वरूप किये वितरित श्रीसालासर बालाजी परिवार की मूर्तियो का विधिवत रूप से श्री सनातन धर्म मंदिर सेक्टर-32 में प्राण प्रतिष्ठा कर स्थापित की गई