ENGLISH HINDI Tuesday, October 22, 2019
Follow us on
 
धर्म

42 महिलाओं सहित 216 निरंकारी श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान

October 06, 2019 10:13 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
निरंकारी सत्गुरू माता सुदीक्षा महाराज की कृपा से सन्त निरंकारी चेरिटेबल फाउंडेशन द्वारा देश के कोने कोने में प्रति वर्ष लगाए जा रहे सैकड़ों रक्त दान शिविरों की श्रंखला में आज चंडीगढ़ जोन के 20वें रक्तदान शिविर का आयोजन सैक्टर 45 एरिया की साधसंगत व सेवादल के स्वंयसेवकों द्वारा सन्त निरंकारी सत्संग भवन सैक्टर 30-ऐ में किया गया । इस शिविर में 216 निरंकारी श्रद्धालुओं ने स्वेच्छा से रक्तदान किया जिसमें 42 महिलाएं शामिल हैं।
इस शिविर का उद्घाटन देहली से आए केन्द्रीय प्रचारक श्री पंडित अबदुल गफफार खान जी ने किया जिन्होंने निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज द्वारा दिए गए सन्देश को दोहराते हुए कहा ”रक्त नालियों में नहीं नाड़ियों में बहना चाहिए“।
इस अवसर पर श्री खान ने सत्गुरू के आदेशों की पालना का महत्व बताते हुए कहा कि जो इन्सान सत्गुरू की शरण में आकर इसके आदेशों-उपदेशों को बिना किसी किन्तु परन्तु के स्वीकार करता है उसे जीवन में किसी तरह की कोई कमी नहीं रहती यह उसका लोक ही नहीं बल्कि परलोक भी सुहेला कर देता है ।
इस अवसर पर स्थानीय संयोजक श्री नवनीत पाठक ने कहा कि निरंकारी मिशन के श्रदालु को जैसे जैसे सत्गुरू का आदेश आता है वह हमेशा समाजिक कार्यो के तत्पर रहते है चाहे वह सफाई अभियान, पौधा रोपण हो, कुदरती आपदाओं में बचाव कार्य हो या रक्त दान शिविर आदि ।
इस शिविर का संचालन सैक्टर 32 के सरकारी मैडिकल अस्पताल एवं कालेज तथा सेक्टर 16 के सामान्य अस्पताल तथा मोहाली के नागरिक अस्पताल की ब्लड बैंक की टीमों ने संयुक्त रूप में किया । इस अवसर पर सैक्टर 16 के सामान्य अस्पताल की डा0 शिवानी ने कहा कि सन्त निरंकारी मिशन के अनुयायियों द्वारा स्वेच्छा से व निष्काम भाव से रक्त दान करके समाज के लिए एक उदाहरण पेश किया जा रहा है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और धर्म ख़बरें
मन्त्रों उच्चारण से 48 घंटे का साईं नाम जाप शुरू नौंवें दिन राम भक्त हनुमान प्रसंग एवं राम राज्य प्रसंग से राम कथा का पूर्णाहुति हवन से हुआ समापन स्वास्तिक विहार में दुर्गा पूजा में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, झांकियों ने मनमोहा माता की चौकी एवम मासिक रामायण पाठ का आयोजन राम कथा : भरत चरित्र सुनकर नम हुई भक्तों की आंखें श्री राम के वनगमन एवं केवट प्रसंग पर भावुक हुए भक्त रामकथा: श्री राम जानकी के विवाहोत्सव का लिया आनंद बालाजी के विशाल जागरण का आयोजन 29 सितंबर को सर्वार्थ सिद्धि योग, नवरात्रि का महत्व बढ़ जाता है: शास्त्री श्री दुर्गा मंदिर धर्म प्रचार एवं मंदिर निर्माण सभा का चुनाव सम्पन्न