ENGLISH HINDI Thursday, February 27, 2020
Follow us on
 
पंजाब

पी.एफ.एम.एस. पर आड़तियों की रजिस्ट्रेशन शुरू

October 07, 2019 07:09 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
प्रारंभिक कठिनाईयों को पार करते हुए पंजाब में सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (पी.एफ.एम.एस.) पर आड़तियों की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह जानकारी खाद्य एवं सिविल स्पलाई विभाग के प्रवक्ता ने दी।
6 अक्तूबर की रजिस्ट्रेशन स्थिति संबंधी बताते हुए उन्होंने कहा कि राज्यभर में 314 आड़तियों ने खुद को पी.एफ.एम.एस. के ऐक्सपैंडीचर, एडवांस एंड ट्रांसफर (ई.ए.टी.) मॉड्यूल में रजिस्टर करवा लिया है।
प्रवक्ता ने बताया कि राज्य की खरीद एजेंसियां पी.एफ.एम.एस. सॉफ्टवेयर के प्रयोग सम्बन्धी आड़तियों के प्रशिक्षण के लिए सक्रिय सहयोग दे रही हैं और इसके साथ ही किसानों के बैंक खातों की जानकारी अपलोड करने और पी.एफ.एम.एस. पर आड़तियों के बैंक खातों के साथ जोडऩे में सहायता कर रही हैं।
खरीफ मंडीकरण सीजन 2019-20 की खरीद प्रक्रिया बारे जानकारी देते हुए प्रवक्ता ने बताया कि पंजाब में 6 अक्तूबर तक सरकारी एजेंसियों और निजी मिल मालिकों द्वारा 72170 मीट्रिक टन धान की खऱीद की गई है।
राज्य में हुई धान की कुल खऱीद में से 53822 मीट्रिक टन सरकारी एजेंसियों द्वारा जबकि 18348 मीट्रिक टन धान निजी मिल मालिकों द्वारा खरीदा जा चुका है। उन्होंने आगे बताया कि पनग्रेन द्वारा 22050 मीट्रिक टन, मार्कफैड्ड द्वारा 15090 टन और पनसप द्वारा 11813 टन धान खरीदा गया है जबकि पंजाब स्टेट वेयरहाऊसिंग कार्पोरेशन द्वारा 4299 मीट्रिक टन धान खरीदा जा चुका है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
दृष्टि पंजाब ने 23 विद्यार्थी किए 11.50 लाख के अवार्ड से सम्मानित मूलभूत सुविधाएं न मिलने को लेकर शिवालिक निवासियों ने खोला कॉलोनाइजर के खिलाफ मोर्चा अवैध पुल व माईनिंग के खिलाफ विभाग ने दी पुलिस को शिकायत, पुलिस की जांच शुरु सर्वहितकारी विद्या मंदिर में वार्षिक कार्यक्रम सम्पन्न जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरी सरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवा हाईकोर्ट के आदेशों पर 100 मीटर क्षेत्र में 13 गोदामों पर चला पीला पंजा उपभोक्ता फोर्म के स्टाफ को क्यों ज्वाइन नहीं करवा रही सरकार?: चीमा ‘आप’ विधायका रूबी ने उठाया असुरक्षित स्कूलों का मामला चोरों ने बंद घर में लाखों की नगदी व गहनों पर किया हाथ साफ