ENGLISH HINDI Friday, December 13, 2019
Follow us on
 
धर्म

नौंवें दिन राम भक्त हनुमान प्रसंग एवं राम राज्य प्रसंग से राम कथा का पूर्णाहुति हवन से हुआ समापन

October 07, 2019 10:32 PM

चंडीगढ़: प्रोग्रेसिव सोसायटी सेक्टर 50- बी चंडीगढ़ में श्री राम कथा   दिनांक 29-09-2019 से 7-10-2019  तक आयोजन हुआ  इस अवसर पर  ब्रह्मर्षि  विश्वात्मा बावरा जी महाराज की परम शिष्या कथा व्यास पूज्नीय स्वामी डॉक्टर अमृता दीदी जी के मुख से निरंतर  नौ  दिनों  श्री राम कथा रूपी अमृत की वर्षा होती रही।

 नौ दिवसीय राम कथा के अंतिम दिन सुबह हवन यज्ञ  से हुआ  राम कथा के प्रवचन में स्वामी अमृता दीदी जी ने अपने मुखारविंद से  श्री राम  के अनन्य भक्त  हनुमान जी का प्रसंग, प्रभु श्री राम  की लंका पर विजय की कथा, विभीषण शरणागति ,  प्रभु श्री राम की अयोध्या वापसी एवं  राज्याभिषेक के  प्रसंग  बड़े सुंदर शब्दों में  सुनाएं ।

हनुमान जी का अशोक वाटिका में माता सीता से मिलने एवं प्रभु श्री राम का संदेशा उनको सुनाने का भावुक क्षण, हनुमान जी  का क्रोध में आकर  लंका दहन, प्रभु श्री राम के प्रति हनुमान जी की अनन्य भक्ति को दर्शाते कई  चित्र सजीव हो उठे। प्रभु श्री राम ने रावण को मार कर लंका पर विजय प्राप्त की। 

यह असत्य पर सत्य की विजय का संदेश देता है । विभीषण को लंका का राज्य सौंपकर प्रभु श्री राम की अयोध्या वापसी,  इन सब  प्रसंगों पर  भक्तों ने प्रभु श्री राम को याद किया तथा मधुर भजनों का एवं मंगल गान का झूम -झूम कर आनंद लिया । प्रवचन से पहले श्री राम कथा के अंतिम दिन हवन हुआ फिर प्रवचन के बाद आरती एवं भंडारे का आयोजन किया गया। कथा के  समापन पर आयोजन में सहयोग देने वाले लोगों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कथा के अंत में भक्तों में प्रसाद वितरित किया गया एवं भंडारे की व्यवस्था की गई।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और धर्म ख़बरें
मन की शांति की नितांत आवश्यकता है साईं बाबा का 24वां स्वरूप स्थापना दिवस 6 दिसम्बर को मनाया जायेगा : प्रसिद्ध भजन गायक पंकज राज करेंगे बाबा का गुणगान मनीमाजरा से निकली मेहंदीपुर बालाजी के लिए डाक ध्वजा यात्रा श्री श्याम कार्तिक मेला महोत्सव 6 नवंबर से पद्मासना मन्दिर वैश्विक एकता, अंतर धार्मिक संस्कृति व पर्यटन का प्रतीक श्री गोवर्धन पूजन का त्यौहार बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया स्नेह समाप्त हो गया है सिर्फ स्वार्थ रह गया: आशा दीदी मन्त्रों उच्चारण से 48 घंटे का साईं नाम जाप शुरू 42 महिलाओं सहित 216 निरंकारी श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान स्वास्तिक विहार में दुर्गा पूजा में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, झांकियों ने मनमोहा