ENGLISH HINDI Friday, October 18, 2019
Follow us on
 
पंजाब

अमृतसर हादसे से नहीं लिया सबक, जीरकपुर में दशहरा उत्सव कहीँ हाई टैंशन के नीचे तो कहीं सड़क पर

October 08, 2019 08:10 AM

जीरकपुर, जेएस कलेर 

पिछले साल अक्टूबर में दशहरे के त्योहार पर अमृतसर में हुए दर्दनाक रेल हादसे के बाद भी न तो लोगों ने कोई सबक लिया है न ही प्रशासन ने। एक बार फिर दशहरे मौके रावण दहन के लिए आयोजकों द्वारा लोगों की जान को खतरे में डालने की तैयारी है। जीरकपुर में हर साल की तरह इस साल भी चार प्रमुख स्थानों पर दशहरे में मौके नाच गाने के कार्यक्रम के साथ रावण, कुंभकर्ण व मेघनाथ दहन की तैयारी व प्रचार जोरो पर है लेकिन चारों ही आयोजन स्थल सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील है-

यूथ वेलफेयर क्लब बलटाना की ओर से रामलीला मैदान बलटाना में आयोजित किया जा रहा है यहाँ पर रावण दहन बिल्कुल हाई टेंशन तारों के नीचे किया जाता हैं। वहीं चौथा आयोजन शिवालिक विहार स्थित शिव द्वार पार्क में किया जा रहा है सुरक्षा दृष्टि से संवेदनशील स्थल है क्यों इस 60 फुट बाई 200 फुट के पार्क के दोनों ओर रिहाइशी क्षेत्र है जबकि सामने और दाए ओर सड़क है जहाँ से लोग रावण दहन देखते हैं। वहीं 12 व 13 तारिक़ को अंबाला सड़क पर एक व्यपारिक प्रतिष्ठान में कई नामी कलाकार पहुच रहे हैं यह स्थल ठीक हाइवे के सामने और फ्लाईओवर के नीचे है जो कि सुरक्षा मानकों के विपरीत है।

 पहला कार्यक्रम लोहगढ़ स्थित रंगला पंजाब सांस्कृतिक क्लब द्वारा स्पोर्ट्स कांप्लेक्स में आयोजित किया जाएगा जहाँ खुद विधायक एन के शर्मा मुख अतिथि होंगे आयोजन स्थल केवल 100 फुट बाई 100 फुट का है जिसके एक तरफ प्राइमरी स्कूल व दूसरी तरफ पार्क है ऊपर से संकरी सड़क है जिसके दोनो तरफ ठेलेवाले अपनी दुकानें लगा लेते हैं और इस सड़क पर आए लोगों में कभी भी भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

दूसरा आयोजन शहीद उधम सिंह वैलफेयर क्लब की ओर से पंचकूला सड़क के किनारे कलगीधर एन्कलेव में किया जा रहा है जिसमें जिला कांग्रेस प्रधान दीपिन्दर ढिल्लों बाकायदा मुख्य महमान के तौर पर पहुच रहे हैं। अगर यहाँ भी देखा जाए यह स्थल नेशनल हाइवे से बिल्कुल सटा हुआ है और यहाँ भी हजारों की गिनती में लोग एकत्रित होते है तो वहीँ इसके साथ ही मार्किट बनी हुई है जहाँ हर समय लोगों का आना जाना लगा रहता है।

तीसरा कार्यक्रम यूथ वेलफेयर क्लब बलटाना की ओर से रामलीला मैदान बलटाना में आयोजित किया जा रहा है यहाँ पर रावण दहन बिल्कुल हाई टेंशन तारों के नीचे किया जाता हैं। वहीं चौथा आयोजन शिवालिक विहार स्थित शिव द्वार पार्क में किया जा रहा है सुरक्षा दृष्टि से संवेदनशील स्थल है क्यों इस 60 फुट बाई 200 फुट के पार्क के दोनों ओर रिहाइशी क्षेत्र है जबकि सामने और दाए ओर सड़क है जहाँ से लोग रावण दहन देखते हैं। वहीं 12 व 13 तारिक़ को अंबाला सड़क पर एक व्यपारिक प्रतिष्ठान में कई नामी कलाकार पहुच रहे हैं यह स्थल ठीक हाइवे के सामने और फ्लाईओवर के नीचे है जो कि सुरक्षा मानकों के विपरीत है।

यहाँ पर प्रसिद्ध पंजाबी कलाकार गुरदास मान, गुरनाम भुल्लर, परमिश वर्मा व सुनंदा शर्मा प्रस्तुति देने आ रहे है इन सभी कलाकारों के फैन्स लाखों में हैं जो कि पुलिस के लिए सिरदर्दी साबित होने वाले हैं वहीँ इन कलाकारों के कार्यक्रम के दौरान फ्लाईओवर पर भी लोंगो के खड़े होकर कार्यक्रम देख सकते है। वहीं गुरदास मान के विश्वव्यापी विरोध के चलते फ्लाईओवर से कोई भी किसी वारदात को अंजाम देकर जा सकता है। इन सभी स्थलों पर पार्किंग की कोई व्यवस्था नहीं।

वहीं बारे में जब एसडीएम डेराबसी पूजा सियाल ग्रेवाल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अभी उन्हें टिप्स पर याद नहीं कि किसने कहा पर परमिशन अप्लाई की है उन्होंने कहा की गुरदास मान के शो के लिए परमिशन पुलिस विभाग की सहमति से ही आ दी जाएगी।
इस बारे में गुरदास मान शो के आयोजक नवल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उन्होंने परमिशन के लिए अप्लाई किया हुआ है। पार्किंग के बारे में उन्होंने कहा कि उन्होंने पार्किंग के लिए अतिरिक्त जगह किराए पर ले पार्किंग की व्यवस्था की है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ऑफिस में घुसकर सिक्योरिटी इंचार्ज से की मारपीट, मामला दर्ज स्टाफ की कमी से कौंसिल प्रशासन कर रहा है बिलडिंग बाईलाज़ की अनदेखी वन कर्मी 22 को करेंगे मोहाली में घेराव बिना मंजूरी इमीग्रेशन दफ्तर खोलने पर व्यक्ति ख़िलाफ़ मामला दर्ज मतदान समाप्ति से 48 घंटे पहले लागू होने वाली हिदायतें जारी पंजाब की फ़ैक्ट्रियों में कार्यरत हरियाणा के श्रमिकों के लिए छुट्टी का ऐलान मोटरसाइकिल सवार को कार ने मारी टक्कर, इलाज दौरान मौत ऑस्ट्रेलिया से पति का फोन ‘तुम्हारे यहाँ निकला क्या चांद’ पत्नी ने चांद को दिया अर्क डिफेंस इन्कलेव में करवा चौथ पर किट्टी पार्टी की धूम 302 टी.बी. मरीज़ों के मामले सामने आए