ENGLISH HINDI Tuesday, July 14, 2020
Follow us on
 
पंजाब

ओपन सेंच्युरी के गांवों में आवारों कुत्तों का आंतक, प्रशासन मौन

October 12, 2019 11:54 AM

अबोहर, फेस2न्यूज:

ओपन सेंच्युरी के गांवों में दिनों दिन आवारों कुत्तों का आंतक बढ रहा है जबकि प्रशाासन व सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही, जिसके चलते आए दिन कुत्ते बेजुबान नीलगायों के बच्चों को अपना शिकार बना रहे हैं। पिछले एक माह दौरान करीब आधा दर्जन नीलगायों के बच्चों को अपना शिकार बना चुके हैं। बीती रात भी गांव खैरपुर के निकट कुछ कुत्तों ने एक नीलगाय के बच्चे को नोंच कर मार डाला। बिश्रोई समाज में प्रशासन के प्रति भारी रोष पाया जा रहा है।
जानकारी अनुसार बीती रात आवारा खुंखार कुत्तों ने खैरपुर में बनवारी लाल कुक्कड की ढाणी के निकट एक नीलगाय के बच्चे को नोच डाला। आसपास के खेतों मे काम कर रहे लोग उसे अपने घर ले गए और इसकी सूचना जंगली जीव सुरक्षा विभाग अधिकारियों को दी, लेकिन कोई अधिकारी मौके पर नहीं आया, बल्कि एक बेलदार मौके पर पहुंचा और विभाग द्वारा रखे एक निजी डाक्टर को बुलाकर इलाज करवाया लेकिन नीलगाय के बच्चे ने दम तोड़ दिया। वहीं सुबह तक किसी अधिकारी के मौके पर न पहुचने पर लोगों ने उक्त नीलगाय को जमीन में दफना दिया।
इसी प्रकार से दो दिन पहले गांव हिम्मतपुरा में कुछ कुत्तों ने एक नीलगाय के बच्चे को नोंच कर घायल कर दिया जिसका ईलाज डा. अमित नैन द्वारा सरकारी पशु अस्पताल में किया जा रहा है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पिछले एक माह में करीब आधा दर्जन नीलगायों की मौत पर बिश्रोई समाज में भारी रोष है। अखिल भारतीय जीव रक्षा बिश्रोई महासभा के संगठन मंत्री लोकेश गोदारा ने कहा कि विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते यह हादसे बढे हैं क्योंकि घटना के बाद वे समय पर नहीं पहुंचते जिस कारण घायल बेजुबान जीव दम तोड देते हैं। इसके अलावा प्रशासन भी इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रहा और खुंखार कुत्तों की समस्या बढती ही जा रही है।
इधर इस बारे वन रेंज अधिकारी मलकीत सिंह से बात करने पर उन्होंने बताया कि गत रात्रि हुई घटना की सूचना उन्हें मिली लेकिन सरकारी डाक्टर विभाग के पास न होने के चलते उन्होनें निजी डाकटर भेजकर उसका इलाज करवाया लेकिन अधिक घायल होने के चलते नीलगाय के बच्चे ने दम तोड दिया। उन्होंने बताया कि वे कई बार विभाग के उच्चाधिकारियों और सरकार को इस क्षेत्र में कुत्तों के आतंक की समस्या से अवगत करवा चुके हैं, लेकिन सरकार भी इस ओर ध्यान नहीं दे रही।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ऐस यूनियन के चुनाव में जसवीर सिंह प्रधान और जगतार सिंह बने चेयरमैन ज़ीरकपुर के ढकोली क्षेत्र में मंदहाली से परेशान कारोबारी ने छत से छलांग मार की खुदकुशी कैप्टन ने कड़े प्रतिबंध लगाने का किया ऐलान गले मिलना तो दूर—हाथ मिलाना भी जुर्म तथास्तु चैरिटेबल सोसाइटी ने वितरित किए सैनिटरी नैपकिन और मास्क गौ हत्या करने वाले पर धारा 302 का पर्चा दर्ज किया जाए: सिंगला पंजाब नेशनल बैंक फेज -3 ए बैंक की मोहाली शाखा में डकैती का पर्दाफाश, तीन युवक गिरफ्तार बिजली कट से ग्रामवासी परेशान रिक्शा द्वारा जरूरतमन्द महिलाओं को बनाया जायेगा आत्मनिर्भर स्कूली सिलेबस में साजिश के अंतर्गत खत्म किए अहम पाठों के विरुद्ध संसद तक विरोध करेंगे -‘आप’