ENGLISH HINDI Wednesday, November 20, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
पुलिस फोर्स तथा मोबाइल फौरेसिंग युनिट को आधुनिक उपकरणों से लैस किया जाएगा: अनिल विज पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमति इंदिरा गांधी की 102वी जयन्ती पर श्रद्धासुमन अर्पितदादागिरी पर उतरे ओकेशन मैरिज पैलेस के संचालक,पुलिसकर्मियों व शिकायतकर्ता से मारपीट, 35 पर कटा पर्चाअवैध माइनिंग: गुंडा टैक्स को लेकर प्रशासन हरकत में, माइनिंग में लगी मशीनरी की जब्तप्रधानमंत्री को हिमाचली टोपी पहनाना दस लाख रुपये में पड़ा : कुलदीप राठौरप्रिंस बंदुला के प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की शुरुआत, संजय टंडन ने किया उद्घाटनपंडित यशोदा नंदन ज्योतिष अनुसंधान केंद्र एवं चेरिटेबल ट्रस्ट (कोटकपूरा ) ने वार्षिक माता का लंगर लगायाछतबीड़ जू में व्हाइट टाइगर 'दिया' ने दिया 4 शावकों को जन्म
पंजाब

ओपन सेंच्युरी के गांवों में आवारों कुत्तों का आंतक, प्रशासन मौन

October 12, 2019 11:54 AM

अबोहर, फेस2न्यूज:

ओपन सेंच्युरी के गांवों में दिनों दिन आवारों कुत्तों का आंतक बढ रहा है जबकि प्रशाासन व सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही, जिसके चलते आए दिन कुत्ते बेजुबान नीलगायों के बच्चों को अपना शिकार बना रहे हैं। पिछले एक माह दौरान करीब आधा दर्जन नीलगायों के बच्चों को अपना शिकार बना चुके हैं। बीती रात भी गांव खैरपुर के निकट कुछ कुत्तों ने एक नीलगाय के बच्चे को नोंच कर मार डाला। बिश्रोई समाज में प्रशासन के प्रति भारी रोष पाया जा रहा है।
जानकारी अनुसार बीती रात आवारा खुंखार कुत्तों ने खैरपुर में बनवारी लाल कुक्कड की ढाणी के निकट एक नीलगाय के बच्चे को नोच डाला। आसपास के खेतों मे काम कर रहे लोग उसे अपने घर ले गए और इसकी सूचना जंगली जीव सुरक्षा विभाग अधिकारियों को दी, लेकिन कोई अधिकारी मौके पर नहीं आया, बल्कि एक बेलदार मौके पर पहुंचा और विभाग द्वारा रखे एक निजी डाक्टर को बुलाकर इलाज करवाया लेकिन नीलगाय के बच्चे ने दम तोड़ दिया। वहीं सुबह तक किसी अधिकारी के मौके पर न पहुचने पर लोगों ने उक्त नीलगाय को जमीन में दफना दिया।
इसी प्रकार से दो दिन पहले गांव हिम्मतपुरा में कुछ कुत्तों ने एक नीलगाय के बच्चे को नोंच कर घायल कर दिया जिसका ईलाज डा. अमित नैन द्वारा सरकारी पशु अस्पताल में किया जा रहा है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पिछले एक माह में करीब आधा दर्जन नीलगायों की मौत पर बिश्रोई समाज में भारी रोष है। अखिल भारतीय जीव रक्षा बिश्रोई महासभा के संगठन मंत्री लोकेश गोदारा ने कहा कि विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते यह हादसे बढे हैं क्योंकि घटना के बाद वे समय पर नहीं पहुंचते जिस कारण घायल बेजुबान जीव दम तोड देते हैं। इसके अलावा प्रशासन भी इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रहा और खुंखार कुत्तों की समस्या बढती ही जा रही है।
इधर इस बारे वन रेंज अधिकारी मलकीत सिंह से बात करने पर उन्होंने बताया कि गत रात्रि हुई घटना की सूचना उन्हें मिली लेकिन सरकारी डाक्टर विभाग के पास न होने के चलते उन्होनें निजी डाकटर भेजकर उसका इलाज करवाया लेकिन अधिक घायल होने के चलते नीलगाय के बच्चे ने दम तोड दिया। उन्होंने बताया कि वे कई बार विभाग के उच्चाधिकारियों और सरकार को इस क्षेत्र में कुत्तों के आतंक की समस्या से अवगत करवा चुके हैं, लेकिन सरकार भी इस ओर ध्यान नहीं दे रही।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
दादागिरी पर उतरे ओकेशन मैरिज पैलेस के संचालक,पुलिसकर्मियों व शिकायतकर्ता से मारपीट, 35 पर कटा पर्चा अवैध माइनिंग: गुंडा टैक्स को लेकर प्रशासन हरकत में, माइनिंग में लगी मशीनरी की जब्त छतबीड़ जू में व्हाइट टाइगर 'दिया' ने दिया 4 शावकों को जन्म सरकार विदेशों में, यहां दरिन्दे इंसानियत का कर रहे है 'शिकार' : भगवंत मान जददी जायदाद देखने गए व्यक्ति पर चाचा ने किया हमला मामला दर्ज होटल में युवती के सुसाइड के तार गुड़गांव के बहुचर्चित बिहार के पूर्व डीजीपी के बेटे नीरज दत्त की आत्महत्या के साथ जुड़े जमीन पर कब्जा करने के आरोप में 7 व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज मानव मंगल स्मार्ट वर्ल्ड में बाल दिवस समारोह सांसद प्रनीत कौर और बलबीर सिंह सिद्धू ने दयालपुरा गांव में राज्य के पहले आयुश अस्पताल का रखा नींव पत्थर ज़ीरकपुर की हवा में प्रदूषण तत्व निश्चित मात्रा की अपेक्षा अधिक, पटाख़ों के साथ बढ़ा शहर का प्रदूषण