ENGLISH HINDI Friday, May 29, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
लाॅकडाउन में विभिन्न हेल्पलाइन नम्बरों से लोगों को मिली राहतशिक्षा विभाग में ठेके पर काम करते 496 कर्मियों के कार्यकाल में साल की वृद्धि को मंज़ूरीअध्यापक के 12 वर्षीय गुमशुदा लड़के की वापसी के लिए उपायुक्त ने लखनऊ भेजी कार, दो महीने बाद परिवार से मिला बच्चाबैंक उपभोक्ताओं को अगस्त माह तक दी राहत जुर्माने में भारी वृद्धि: अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर होगा 500 रुपए का जुर्मानाव्यापरियों को बिना परेशानी ऋण दिलाने हेतु प्रतिनिधि मंडल मिला एसबीआई के उपमहाप्रबंधक सेबीज घोटाला: सीबीआई से जांच के डर से राज्यभर के सीइएओ ने बीज की दुकानों पर दौड़ाई टीमेंइंटरनेशनल हयूमन राइट्स काउंसिल चंडीगढ़ ने समाजसेवियों को किया सम्मानित
चंडीगढ़

आल कांटरैैक्चुअल कर्मचारी संघ ने सांसद किरण खेर, चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम के खिलाफ निकाला कैंडल मार्च और किया रोष प्रदर्शन

October 22, 2019 09:21 PM

चंडीगढ़: प्रशासन की ओर से मंजूरशुदा पदों पर काम कर रहे कांटरैक्ट कर्मचारियों के विज्ञापन निकालने तथा जैम प्रणाली में ठेकेदार दवारा पुराने आऊटसोरसिंग वर्कर को निकालने को लेकर आज हजारों की गिनती में सांसद किरण खेर और चंडीगढ प्रशासन के खिलापफ कैंडल मार्च निकाला और रोष प्रदर्शन किया गया. यह लोग रैगुलराइजेशन,समानता व नौकरी की सुरक्षा के लिए रैली ग्राउंड में जमा हुए थे.

 
  
आल कांटरैकचुअल करमचारी संघ,यूटी चंडीगढ के चेयरमैन विपिन शेर सिंह ने बताया कि आल कांटरैकचुअल कर्मचारी संघ चंडीगढ़ प्रशासन दवारा पुराने आऊटसोरसिंग वर्कर्स को निकालने व कांटरैक्ट कर्मचारियों की जगह नियमित नियुक्तियों के लिए शिक्षा, उच्च शिक्षा और अन्य विभागों में अतिथि शिक्षक, व्याख्याता, क्लर्क और अन्य श्रेणियों के पदों का विज्ञापन देने तथा 25 साल से कार्यरत कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए कोई केंद्रीय दिशा-निर्देश न होने और न ही प्रशासन दवारा पंजाब की रैगुलराइजेशन नीति 2011 से इन कांटरैकट वरकरस को नियमित करने की चंडीगढ़ प्रशासन की नीतियों का विरोध करता है वर्तमान में आउटसोर्सिंग श्रमिकों का शोषण और भेदभाव किया जा रहा है.

आल कांटरैकचुअल कर्मचारी संघ,यूटी चंडीगढ के प्रेजिडेंट अशोक कुमार ने बताया कि आल कांटरैकचुअल करमचारी संघ,यूटी चंडीगढ कांटरैकट व आऊटसोरसिंग वरकरों की माँगों की आवाज उठाने ,बुलंद करने और इस शोषण और भेदभाव के खिलाफ व प्रशासन की असुरक्षा की गलत नीतियों के विरोध में व लड़ने के आवाज उठाने के लिए ही कैंडल मार्च का आयोजन किया गया.रच" रोष- प्रदर्शन " किया।

चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा कांटरैकट कर्मचारियों और आउटसोर्सिंग कर्मचारियों के लिए निर्णय लेने में कमी होने के कारण और जनता के बड़े हित में उनके मुद्दों को हल करने की कोई राजनीतिक इच्छाशक्ति न होने के कारण करमचारी संघ चंडीगढ प्रशासन के विरूद्ध जल्द ही मोर्चा खोलेगा ।

भारतीय मजदूर संघ के डेलिगेशन ने भी अपना समर्थन दिया है.कर्मचारियों ने राज्यपाल को मांग पत्र भी दिया.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
व्यापरियों को बिना परेशानी ऋण दिलाने हेतु प्रतिनिधि मंडल मिला एसबीआई के उपमहाप्रबंधक से इंटरनेशनल हयूमन राइट्स काउंसिल चंडीगढ़ ने समाजसेवियों को किया सम्मानित कोरोना योद्धा के तौर पर उभरे स्टेट अवार्डी आलमजीत सिंह मान गुरुद्वारा साहिब को भेंट किया 25000 रुपये की मूल्य राशि का राशन रेजिडेंट व मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने समाजसेवियों को किया सम्मानित विश्व हिंदू परिषद चंडीगढ़ की "पाताल लोक" के विरुद्ध केस दर्ज करने की मांग कोरोना- नीतियां एवं नियंत्रण चंडीगढ़ का सेक्टर 38 और सेक्टर 52 संक्रमित फ्री ज़ोन घोषित प्रवासी श्रमिकों में बाँटे खरबूजे ट्रांसपोर्टर्स ने समाजसेवियों को किया सम्मानित