ENGLISH HINDI Monday, December 09, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
दिल्ली में प्रेट्रोल 75 व डीजल 66 पारदिल्ली के रानी झांसी रोड पर आज फिर भड़की आगमन की शांति की नितांत आवश्यकता हैद स्काई मेंशन मैं पहुंचे करण औजला , लोगों का किया मनोरंजनसीएम की सुरक्षा में सेंध से डेराबस्सी के बहुचर्चित कब्जा विवाद ने पकड़ा तूल: दूसरे पक्ष ने लगाया मुख्यमंत्री के आदेशों के उल्लंघन का आरोप सिंगला की बर्खास्तगी को लेकर राज्यपाल को मिलेगा ‘आप’ का प्रतिनिधिमंडल - हरपाल सिंह चीमाअंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव : 18 हजार विद्यार्थी, 18 अध्यायों के 18 श्लोकों के वैश्विक गीता पाठ की तरंगें गूंजीअविनाश राय खन्ना हरियाणा व गोवा के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चुनाव हेतू आब्र्जवर नियुक्त
पंजाब

एयरफोर्स बाउंड्री के 100 मीटर क्षेत्र में रह रहे लोगों ने उठाए सिस्टम पर गंभीर सवाल

October 30, 2019 09:37 PM

नगर कौंसिल के पास घर का नक्शा अब अवैध कैसे: याचिकाकर्ता

जीरकपुर, जेएस कलेर

चंडीगढ़ एयरपोर्ट व एयरफोर्स स्टेशन के नजदीक बसे लोगों ने नगर कौंसिल जीरकपुर द्वारा वर्क्स ऑफ डिफेंस एक्ट के अधीन 100 मीटर क्षेत्र में बसे लोगों को दिए गए नोटिसों को असंवैधानिक और उनके अधिकार क्षेत्र के बाहर जा कर की गई कार्रवाई करार दिया है.

  याचिकाकर्ता उर्मिला, शशि देवी, कंचन, गुरजीत सिंह व अन्यों कहा कि किस अधिकार से नगर कौंसिल जीरकपुर उनको नोटिस भेज रही है जबकि उनके घरों के नक्शे नगर कौंसिल जीरकपुर को मोटी फीस अदायगी के बाद पास किए गए हैं। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि उनके आशियानों को तोड़ने से पहले उन भ्रष्ट अधिकारियों और पार्षदों पर उनकी संपत्ति की जांच कर कार्रवाई करे जिन्होंने इस जगह पर जिन्होंने इस जगह पर प्लाट काटने की अनुमति दी थी और पंजाब सरकार के खजाने के साथ साथ अपने निजी बैंक बैलेंस और प्रोपर्टी में इज़ाफ़ा किया था।

उन्होंने इस सारे खेल में कॉलोनी काटने वाले पार्षदों, पटवारियों, तहसीलदारों व नगर कौंसिल के अधिकारियों पर सवाल उठाया कि जब उन्हें पता था की यह क्षेत्र वर्क्स आफ डिफेंस एक्ट में आता है तो कैसे किसी ने यहाँ प्लॉटिंग की, कैसे पटवारियों ने खेती योग्य भूमि के गज़ों के हिसाब से फरदें दीं , कैसे तहसीलदारों ने उन प्लाट्स की रजिस्ट्री की और कैसे नगर कौंसिल के अधिकारियों और कॉलोनाइजरों की साठगांठ ने सारे मामले को जानते हुए नकशे पास किए।

इस मामले में उच्चस्तरीय कमेटी बनाने की मांग करते हुए कहा कि उनके घर तोड़ने से पहले इन सभी पहलुओं पर पहले सीबीआई या किसी स्वतंत्र एजेंसी से इस मामलें में जांच की जाए या फिर उन्हें उनकी जमीन की मौजूदा कीमत सहित नक्शा फीस सहित लगाई गई निर्माण सामग्री सहित बनता मुआवजा दिया जाए।

इससे पहले भी याचिकाकर्ताओं ने 2019 में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में रिट पटीशन नंबर 21946 डाल जीरकपुर के कार्यकारी अधिकारी द्वारा एयरफोर्स के 100 मीटर क्षेत्र के संदर्भ में दिए गए नोटिस को उनके अधिकार क्षेत्र में बाहर जाकर की गई कार्रवाई पर सुनवाई करने की मांग कर चुके हैं। माननीय कोर्ट में याचिकाकर्ताओं द्वारा बताया गया कि डिफेंस एरिया के नजदीक निर्माण की स्वीकृति 18 मई 2011 को की गई नोटिफिकेशन के आधार पर दी गई थी जिसके बारे में 18 मार्च व 25 मार्च 2015 को पत्र जारी कर जानकारी दी गई थी और अब केंद्र सरकार द्वारा 25 अक्टूबर 2016 में कई गई नोटिफिकेशन मुताबिक इस क्षेत्र में निर्माण की परिधि को कम कर 100 मीटर से 10 मीटर कर दिया गया है ।

वर्क्स ऑफ डिफेंस एक्ट 1903 की तीन साल तक नोटिफिकेशन न होने पर हुआ समाप्त: याचिकाकर्ता

उन्होंने कोर्ट से फरियाद लगाई थी कि केंद्र सरकार द्वारा जारी वर्क्स ऑफ डिफेंस एक्ट 1903 की धारा 3 व 7 के अंतर्गत की गई नोटिफिकेशन की मियाद केवल 3 साल होती है जबकि 100 मीटर क्षेत्र में प्रतिबंध लगाने की आखरी नोटिफिकेशन 13 जनवरी 2010 को की गई थी जिसका उल्लेख नगर कौंसिल जीरकपुर के कार्यकारी अधिकारी द्वारा पंजाब म्युनिसिपल एक्ट 1911 की धारा 195 व 195 ए के अंतर्गत दिए गए नोटिसों में भी है जिसमें कहा गया है कि इस क्षेत्र में किए गए निर्माण अवैध हैं जबकि याचिकाकर्ताओं के साइट प्लान नगर कौंसिल की ओर से पास किए गए हैं

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
सीएम की सुरक्षा में सेंध से डेराबस्सी के बहुचर्चित कब्जा विवाद ने पकड़ा तूल: दूसरे पक्ष ने लगाया मुख्यमंत्री के आदेशों के उल्लंघन का आरोप सीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार। मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत की युवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंका पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी जीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारा सूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ी सुखबीर बादल को भी राजोआना के साथ जेल में बिठाने पर ही होगा पंजाब का माहौल शांत: सिंगला निर्दोष स्कूल ने कैलेन्डर 2020 लांच किया दो दिवसीय पांचवीं वार्षिक कॉन्फ्रेंस मेडिकॉन-2019 आयोजित