ENGLISH HINDI Monday, May 25, 2020
Follow us on
 
पंजाब

कर्मचारियों को प्रावीडेंट फंड हासिल करने के लिए नहीं देनी पड़ेगी घूस: ईपीएफओ

November 05, 2019 08:11 PM

बरनाला, अखिलेश बंसल/करन अवतार:
श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, भारत सरकार के कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (इंप्लाईज प्रॉवीडेंट फंड आर्गेनाईजेशन) के क्षेत्रिय भविष्य निधि आयुक्त राकेश कुमार ने कहा है कि कोई भी कर्मचारी अपने प्रावीडेंट फंड के बारे में जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो वह बठिंडा या संगरूर में तैनात जनसंपर्क अधिकारी से सीधे संपर्क कर सकते हैं। अगर कोई कर्मचारी या अधिकारी किसी प्रकार की रिश्वत की मांग करता है तो उसकी शिकायत विभाग के कार्याल्य की ईमेल आईडी ro.bhatinda@epfindia.gov.in पर भेज सकते हैं।
गौरतलब हो कि श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, भारत सरकार के कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा बरनाला में सर्तकता जागरूकता सप्ताह शुरु किया गया है। जिसके अंर्तगत बरनाला के ट्राईडेंट उद्योग समूह परिसर में सेमीनार का आयोजन किया गया। जिसमें संगरूर व बरनाला के विभिन्न औद्योगिक प्रतिष्ठानों से संबंधित कर्मचारियों एवं पीएफ सदस्यों ने भाग लिया। सेमीनार की अध्यक्षता क्षेत्रिय भविष्य निधि आयुक्त राकेश कुमार, सहायक भविष्य निधि आयुक्त एवं संगरूर के प्रवर्तन अधिकारी सुभाष कुमार ने की।
सेमीनार की जानकारी देते ट्राडेंट उद्योग समूह के सह-प्रबंधक रुपिंदर गुप्ता ने बताया कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन अधिकारियों ने सेमीनार के माध्यम से पीएफ सदस्यों/पेंशनरों/नियोक्ताओं को ईपीएफ की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी और उन्हें हाल ही के दौरान ईपीएफओ द्वारा किए गए विभिन्न बदलाव से भी अवगत करवाया। अधिकारियों ने कहा कि इस सेमीनार का मकसद विभिन्न औद्योगिक स्थानों में काम करते मुलाजिमों को उनके अधिकार दिलाना है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
मोगा सेक्स स्कैंडल-3 की सीबीआई से जांच करवाएं कैप्टन: चीमा कोविड-19 के मद्देनजऱ नाई की दुकानों/ सैलूनज़ के लिए एडवाइजऱी जारी पंजाब को अमृतसर में एक और डेंगू परीक्षण प्रयोगशाला की स्थापना की मिली मंज़ूरी कोरोना वायरस से देश को मुक्त करने में निरंकारी सेवादार पूरा कर रहे निरंकारी मिश्न का लक्ष्य वाहनों पर उच्च सुरक्षा रजिस्ट्रेशन प्लेटें लगाने की समय-सीमा 30 जून तक बढ़ाई दूध परखने हेतु जि़ला स्तर पर लैबोरेट्रिज स्थापित: बाजवा फर्जीवाड़ा: फर्जी 'केबीसी' द्वारा भोले-भाले नौजवानों को भेजे जा रहे 25-25 लाख रुपए के फर्जी चैक मिड-डे-मील स्कीम के अतर्गत खाना पकाने की लागत दर में बढ़ोत्तरी बरनाला पुलिस के हाथ लगी 40 करोड़ रुपए कीमती हैरोईन और पाकिस्तानी 15 अनचले कारतूस पंचायती राज के चुने हुए नुमाइंदों की सुरक्षा करना सरकार का फर्ज: आप