ENGLISH HINDI Saturday, December 07, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
फरएवर फ्रेंड्स संस्था ने उठाया नयागांव पशु क्रूरता का मुद्दापॉस्को एक्ट के तहत होने वाली घटनाओं के दोषियों को दया याचिका के अधिकार से वंचित किया जाए: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंदसीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार।मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत कीयुवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंकापुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थीजीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारासूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ी
पंजाब

जीरकपुर में भूमाफिया पूरी तरह से सक्रिय: आलम जीत सिंह मान

November 21, 2019 07:23 PM

चंडीगढ़ (फेस2न्यूज)

जीरकपुर में सामाजिक कार्यकर्ता के चौकीदार कुलविंदर सिंह ने अपने ऊपर हुए जानलेवा हमले के आरोपी अमित नंदा व कांग्रेस नेता पवन शर्मा व अन्यों पर आरोप लगाया कहा कि मंगलवार सुबह अम्बाला जीरकपुर रोड पर स्थित आलमजीत सिंह मान के ऑफिस से उन्हें उठाया और मारते पीटते तथा जानलेवा हमला किया और जीरकपुर पुलिस स्टेशन के बाहर फेंक गए. साथ ही कह गए कि तेरे मालिक से जो होता है कर ले, पुलिस हमारी जेब मे है, अब हमें किसी का डर नहीं है।

वीरवार चंडीगढ़ प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस में सामाजिक कार्यकर्ता और स्टेट अवार्डी आलमजीत सिंह मान ने कहा कि उनका और अमित नंदा व पवन शर्मा के बीच का एक पुराना मामलाचल रहा  है। उन्होंने मुझसे बदला लेने के लिए अब उनके स्टाफ को टारगेट करना शुरू कर दिया है। जिसके चलते चौकीदार कुलविंदर सिंह पर जानलेवा हमला किया गया और अधमरी हालात में उसे पुलिस स्टेशन के आगे फेंक गए थे। आलम जीत सिंह ने बताया कि कांग्रेस नेता पवन शर्मा, अमित नंदा एवम उनके अन्य साथी स्थानीय पुलिस, स्थानीय नेताओं, कुछ केंद्रीय नेता और एक आईजी इत्यादि शामिल है, मिलकर उनकी जमीन हथियाना चाहते हैं। 

100 करोड़ से बेनामी प्रापर्टी दुबई में खरीदी

आलमीत सिंह मान ने बताया कि इन लोगों ने उनके साथ करार किया, तब भी उनके पैसे नहीं दिए और ठगी करके उनके नाम पर 100 करोड़ इकटठे किये ओर दुबई मे प्रोपर्टी खरीद ली, जोकि बेनामी है। पवन शर्मा और अमित नंदा कानून को कुछ नहीं समझते, ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। ये भूमाफिया मुम्बई की तर्ज़ पर काम करके लोगो को उनकी जमीन और घर से बेदखल कर देगा।  आलमजीत सिंह मान ने बताया कि उनके साथ भी आरोपियों ने धोखे से जमीन खरीद फरोख्त में धोखाधड़ी करते हुए उनके करोडों रुपये दबा लिए और उल्टा उन्हें ही पार्टी बनाते हुए उनके खिलाफ झूठी एफआईआर दर्ज करा दी। मामला अदालत में विचाराधीन होने के बावजूद ये सब गलत हथकंडे अपनाते हुए उनके कर्मचारियों से मारपीट पर उतर आए हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता और हरियाणा के डीजीपी से अपील की है कि इस मामले की गहनता से जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया जाए, जिसमे पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज, रिटायर्ड आईएएस और आई पी एस अधिकारी शामिल किए जाए, जो इसकी गहनता से जांच करे और ठगे जा रहे लोगों को इंसाफ मिल सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
सीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार। मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत की युवक को अज्ञात लोगों ने अगवा कर अधमरा कर रेलवे लाइनों के फैंका पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी जीएम के आगमन के चलते दुल्हन की तरह सजा रेलवे स्टेशन पेश कर रहा मेट्रो स्टेशन का नजारा सूखे दरख्तों की कटाई या हरे वृक्षों पर कुल्हाड़ी सुखबीर बादल को भी राजोआना के साथ जेल में बिठाने पर ही होगा पंजाब का माहौल शांत: सिंगला निर्दोष स्कूल ने कैलेन्डर 2020 लांच किया दो दिवसीय पांचवीं वार्षिक कॉन्फ्रेंस मेडिकॉन-2019 आयोजित राजस्व विभाग में 1090 पटवारी भर्ती की मंजूरी