ENGLISH HINDI Tuesday, August 11, 2020
Follow us on
 
पंजाब

सुखबीर बादल को भी राजोआना के साथ जेल में बिठाने पर ही होगा पंजाब का माहौल शांत: सिंगला

December 05, 2019 10:16 PM

पटियाला, फेस2न्यूज:
शिव सेना बल ठाकरे पंजाब कार्यकारी प्रधान हरीश सिंगला ने कहा कि पूर्व उपमुख्यमंत्री और 16 निर्दोष लोगो के कातिल और फांसी की सजा काट रहे आतंकवादी बलवंत सिंह राजोआना की फांसी माफ़ी को लेकर शिरोमणि अकाली दल वोट बैंक की राजनीति कर रहा है। पिछले दिनों केंद्र सरकार की और से कुछ कैदियों की रिहाई की गई थी। परन्तु आज गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में यह ब्यान दिया कि उन्होंने राजोआना की फांसी माफ़ी नहीं की। यह कहकर अमित शाह ने साडी अफ़्ववाहो पर विराम लगा दिया है।

सिंगला ने कहा की यह सब पंजाब के मनुखयमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खालिस्तान और रेफरेंडम 2020 कस खिलाफ लिए गए सख्त स्टैंड के कारण ही संभव हुआ है। लेकिन अकाली दल प्रधान सुखबीर बादल हमेशा से ही खालिस्तान को सिख धर्म के साथ जोड़ते है। इसी लिए राजोआना की फांसी माफ़ी की अर्जी भी राष्ट्रपति के पास शिरोमणि अकाली दल के नेटगा ही लेकर गए थे।

सिंगला ने कहा की अगर शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर बादल राजोआना की फांसी माफ़ी अर्जी लेकर ना जाते तो राजोआना को बहुत समय पहले ही फांसी होगी होती। आज भी अमित शाह के फांसी माफ़ी ना करने के बयान के तुरंत बाद सुखबीर बादल ने वोट बैंक की राजनीती करते हुए ब्यान दिया की केंद्र ने राजोआना की फांसी माफ़ ना करके सीखो की भावनाओं को आहत किया है।

सिंगला ने कहा की आतंकवाद और सिख का कोई मेल नहीं है। अगर सुखबीर बादल को राजोआना एक सच्चे सिख नजर आते है तो सुखबीर ब्नादल भी राजोआना के साथ जाकर पटियाला जेल में बैठ जाए क़ज केंद्र में अकाली दल की जो भाजपा के साथ भाईवाल है उसे तोड़ कर पंजाब में खालिस्तान की बागडोर संभल ले। सुखबीर बादल के इस बयां से पुरे हिन्दू समाज में रोष है।

हरीश सिंगला ने कहा की अगर सुखबीर बादल ने अपने दिए गए बयां पर माफ़ी ना मांगी तो शिव सेना पुरे पंजाब में सुखबीर बादल के पुतले जलाएगी। शिव सेना पंजाब में किसी को भी हिन्दू सिख भाईचारा खराब नहीं करने देगी और ना ही किसी को आतंकवाद में बढ़ावा देने देगी। इस मोके मालवा जोन प्रधान भारतदीप डीप ठाकुर और जिला उप प्रधान मोहिंदर सिंह तिवाड़ी मौजूद रहे।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जन्माष्टमी की रात कफ्र्यू में ढील सरकारी स्कूलों में दाखि़ले के लिए ट्रांसफर सर्टिफिकेट की बन्दिश ख़त्म करने की हिदायत कोविड के मद्देनजऱ 4000 तक और कैदी रिहा किये जाएंगे: रंधावा ‘ऐजूकेशन हब्ब’ के तौर पर विकसित होगा मोहाली, यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए ‘लैटर ऑफ इनटैंट’ जारी सेना के गुम हुए जवान सतविंदर कुतबा के परिवार को अभी भी वापस आने की उम्मीद शहीदों को याद करना मतलब युवा पीढ़ी को जागरूक करना रेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंग सीचेवाल मॉडल की तर्ज पर 15 गांवों की नुहार बदलने का लक्ष्य मेडीकल अधिकारियों के 323 पदों के लिए इंटरव्यू द्वारा की जायेगी भर्ती पुलिस द्वारा कार्यवाही, 400 किलो लाहन, पाँच किश्तियां बरामद