ENGLISH HINDI Wednesday, August 12, 2020
Follow us on
 
पंजाब

नेपाली प्रतिनिधिमंडल द्वारा पंजाब विधानसभा का दौरा

December 09, 2019 05:52 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
नेपाल के एक 15 सदस्यों वाले प्रतिनिधिमंडल द्वारा पंजाब विधानसभा का दौरा किया गया। यह प्रतिनिधिमंडल नेपाल में बनाऐ गए नये 7 राज्यों में से एक राज्य का प्रतिनिधित्व करता है जो कि राज्य नंबर 5 के तौर पर जाना जाता है। इस प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख दीपेंद्र कुमार पन मगर ने बताया कि नेपाल में नए संविधान के अस्तित्व में आने के बाद देश में 7 नये राज्य बनाऐ गए हैं। इन राज्यों के अभी नाम रखे जाने हैं और स्थायी राजधानियाँ भी बनाईं जानी हैं। फिलहाल राज्य नंबर 5 की अस्थाई राजधानी बुटवाल बनाई गई है। प्रांतीय विधान सभा की कार्यविधी समझने के लिए राज्य नंबर 5 के इस प्रतिनिधिमंडल द्वारा पंजाब विधान सभा का दौरा किया गया।
इस मौके पर पंजाब विधान सभा के स्पीकर राणा के.पी. सिंह ने प्रतिनिधिमंडल का स्वागत किया और उनको भारतीय संविधान के बारे में संक्षिप्त में अवगत करवाया। उन्होंने बताया कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और भारतीय संविधान दुनिया के किसी भी देश के लिखित संविधान से सबसे लंबा संविधान है। उन्होंने बताया कि भारत के संविधान में अलग -अलग देशों के संविधानों की विशेषताओं को शामिल किया गया है इसलिए यह एक विलक्षण दस्तावेज़ है और भारत में कानून से ऊपर कोई नहीं। उन्होंने नेपाल के राज्य नंबर 5 के प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को पंजाब विधान सभा की नियमावली प्रदान की और विधान सभा की कार्यविधी से भी अवगत करवाया।
इस प्रतिनिधिमंडल में 11 विधायक और 4 अधिकारी शामिल थे। नेपाली प्रतिनिधिमंडल ने पंजाब विधान सभा के स्पीकर राणा के.पी. सिंह का धन्यवाद करते हुए कहा कि नेपाल का संविधान अभी मूलभूत रूप में है और भारत के पास 70 सालों का तजुर्बा है। उन्होंने अपने इस दौरे को काफ़ी लाभप्रद बताया और कहा कि राज्यों की कार्यप्रणाली बारे उनको अहम जानकारी प्राप्त हुई है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जन्माष्टमी की रात कफ्र्यू में ढील सरकारी स्कूलों में दाखि़ले के लिए ट्रांसफर सर्टिफिकेट की बन्दिश ख़त्म करने की हिदायत कोविड के मद्देनजऱ 4000 तक और कैदी रिहा किये जाएंगे: रंधावा ‘ऐजूकेशन हब्ब’ के तौर पर विकसित होगा मोहाली, यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए ‘लैटर ऑफ इनटैंट’ जारी सेना के गुम हुए जवान सतविंदर कुतबा के परिवार को अभी भी वापस आने की उम्मीद शहीदों को याद करना मतलब युवा पीढ़ी को जागरूक करना रेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंग सीचेवाल मॉडल की तर्ज पर 15 गांवों की नुहार बदलने का लक्ष्य मेडीकल अधिकारियों के 323 पदों के लिए इंटरव्यू द्वारा की जायेगी भर्ती पुलिस द्वारा कार्यवाही, 400 किलो लाहन, पाँच किश्तियां बरामद