ENGLISH HINDI Monday, September 21, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
विद्यार्थियों को अपने माता-पिता की लिखित सहमति के बाद ही कंटेनमैंट जोन से बाहर स्कूल जाने की आज्ञाबैंक ग्राहकों को ठगने वाले साईबर घोटालेबाजों के दो गिरोहों का पर्दाफाश, 6 गिरफ्तारलुधियाना जिला क्रिकेट एसो. चुनाव 17 वर्ष बाद 11 अक्तूबर कोप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आई, हो रही है अब फसली नुकसान की भरपाईखांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षण वाले व्यक्ति हेल्पलाईन नम्बर 104 या 1077 पर करें सम्पर्क5 राज्यों का कुल सक्रिय मामले 60 फीसदी, नए मामले 52 फीसदी और रिकवरी दर 60 फीसदीजम्मू कश्मीर को फिर से धरती का स्वर्ग और भारत माता के मुकुट की मणि बनाएँ: राष्ट्रपति कोविन्दकांग्रेस ने जीरकपुर में ट्रेक्टर रैली आयोजित कर कृषि विधेयकों पर विरोध जताया
पंजाब

लोहड़ी के त्योहार के अवसर पर शुगरफैड्ड की नवीन पहल

January 13, 2020 07:35 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
सहकारी चीनी मिलों द्वारा चल रहे पिड़ाई सीजन के दौरान बुढ्ढेवाल सहकारी चीनी मिल में उच्च क्वालिटी के गुड़ और शक्कर का उत्पादन फतेह ब्रांड के अधीन शुरू किया गया है। यह प्रगटावा सहकारिता मंत्री, श्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा, पंजाब द्वारा आज लोहड़ी के शुभ अवसर पर पंजाब भवन में ‘फतेह गुड़ और शक्कर’ को लांच करने के मौके पर किया गया।
स. रंधावा द्वारा इस मौके पर बताया गया कि शुरुआत के तौर पर सहकारी चीनी मिल, बुढ्ढेवाल में उत्तम क्वालिटी के गुड़ के उत्पादन के अंतर्गत देसी गुड़, हल्दी गुड़ और मसाला गुड़ की पैदावार शुरू की गई है। उनके द्वारा यह भी बताया गया कि सहकारी चीनी मिलों की आय में विस्तार करने के लिए इनमें विभिन्न तरह के वैल्यु एडिड प्रोडक्ट्स जैसे कि ब्राउन शुगर, रिफायंड शुगर, गुड़, शक्कर और बूरा आदि का उत्पादन शुरू करने की योजना है। उनके द्वारा बताया गया कि इस साल गुड़ और शक्कर का मंडीकरण परख के तौर पर पंजाब और आस-पास के राज्यों में किया जायेगा। अगले साल से उच्च क्वालिटी के गुड़ और शक्कर का उत्पादन करके इनको अमरीका, कनाडा के अलावा खाड़ी देशों में भी बेचा जायेगा।
रंधावा ने आगे बताया कि सहकारी चीनी मिलों को समय का साथी और व्यापारिक बनाने के लिए इनको शुगर कॉम्पलैक्सों में तबदील करने का अमल शुरू कर दिया गया है, जिसके अंतर्गत गुरदासपुर, बटाला और अजनाला सहकारी चीनी मिलों में को-जनरेशन, इथैनोल और बायो सी.एन.जी. प्रोजैक्ट लगाने की योजना बनायी गई है। इसके अलावा राज्य में गन्ने के प्रति एकड़ उत्पादन में वृद्धि करके गन्ना काश्तकारों की आय बढ़ाने हेतु उनको आधुनिक किस्म के गन्ने का बीज और प्रशिक्षण मुहैया करवाने के लिए कलानौर में शूगरकेन रिर्सच इंस्टीट्यूट स्थापित करने के लिए अमल शुरू कर दिया गया है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
विद्यार्थियों को अपने माता-पिता की लिखित सहमति के बाद ही कंटेनमैंट जोन से बाहर स्कूल जाने की आज्ञा बैंक ग्राहकों को ठगने वाले साईबर घोटालेबाजों के दो गिरोहों का पर्दाफाश, 6 गिरफ्तार लुधियाना जिला क्रिकेट एसो. चुनाव 17 वर्ष बाद 11 अक्तूबर को कांग्रेस ने जीरकपुर में ट्रेक्टर रैली आयोजित कर कृषि विधेयकों पर विरोध जताया बठिंडा फार्मा पार्क मेडिसन सैक्टर में चीन का एकाधिकार तोड़ेगा: मनप्रीत बादल यूनिवर्सिटिज के लिए क्षेत्र की शर्त में छूट का फैसला केंद्र सरकार की ‘विशाल ड्रग पार्क स्कीम’ के लिए पंजाब करेगा प्रयास जीरकपुर में भारी भरकम बिजली बिलों से लोगों को लगा जोरदार 'करंट' एटीएम नहीं बदला न ही किसी ने ओटीपी मांगा, फिर भी बैंक खाते से हवा हुए 24,500 बाबा बंदा सिंह बहादुर के 350वें जन्म दिवस पर सार्वजनिक अवकाश का ऐलान