ENGLISH HINDI Wednesday, September 30, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
घरेलू एकांतवास में तकरीबन 47,502 मरीज़ स्वस्थ हुएमोगा में हथियारबंद लुटेरों के ख़तरनाक गिरोह का पर्दाफाशन्याय देव शनि 29 सितम्बर को काफी समय बाद हो गए मार्गीनगर परिषद पालमपुर में सम्मिलित होने वाले क्षेत्रों से आक्षेप और सुझाव आमंत्रितकमिश्नरेट पुलिस ने 24 घंटों में 17 वर्षीय लड़के के कत्ल केस की गुत्थी सुलझाईबरनाला पुलिस ने किया अंर्तराज्यीय कार चोर गिरोह और लूटपाट-चोरी व-कत्ल करने वाले गिरोहों का पर्दाफ़ाश‘राष्ट्रीय यूथ पार्लियामेंट प्रोग्राम’ तहत विद्यार्थियों को तैयारी करवाने के लिए स्कूलों को निर्देशकोविड-19 के कारण आई.ए.एस./ पी.सी.एस. और अन्य विभागों की विभागीय परीक्षा स्थगित
चंडीगढ़

सूद बने चंडीगढ़ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष, टंडन बने राष्ट्रीय परिषद् के सदस्य

January 17, 2020 06:55 PM

अरुण सूद के सिर सजा प्रदेश अध्यक्ष का ताज, अरुण प्रदेश अध्यक्ष संजय बने राष्ट्रीय परिषद् सदस्य, 10 वर्ष बाद चंडीगढ़ भाजपा को मिला नया प्रदेश अध्यक्ष, अरुण सूद ने बाजी मारी 

चंडीगढ़  : भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर अरुण सूद को सर्वसम्मति से प्रदेश अध्यक्ष घोषित किया गया | इसके साथ ही राष्ट्रीय परिषद सदस्य के लिए संजय टंडन के नाम पर सर्वसम्मति बनी | इनके नामों की घोषणा पर्यवेक्षक हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राष्ट्रीय सचिव और पर्यवेक्षक वाई सत्यकुमार और पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति के दौरान की | इस अवसर पर पार्टी के कार्यकर्तायों ने ढोल की थाप पर खूब नाचगान किया और नवनिर्वाचित दोनों नेताओं को बधाई देने का तांता लगा रहा |

 
 
 
इस कार्यक्रम में पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष संजय टंडन, सांसद किरण खेर, संगठन महामंत्री दिनेश कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष रघुबीर लाल अरोड़ा, रामबीर सिंह भट्टी, भीमसेन, महामंत्री प्रेम कौशिक और चन्द्रशेखर ने भी भाग लिया |

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यातिथियों का भव्य स्वागत किया गया और इसके उपरान्त राष्ट्रीय सचिव सत्यकुमार ने उपस्थित सभी कार्यकर्तायों को संबोधित करते हुए चुनावी प्रक्रिया के बारे में विस्तृत रूप से बताया और नामांकन प्रक्रिया से लेकर नामों की घोषणा तक का पूरा ब्यौरा उपस्थित जनसमूह के दौरान रखा | इसके बाद उन्होंने कहा कि प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने विभिन्न क्षेत्रों में विकास करके दिखाया है | अब अफसर लोग यह समझने लगे हैं कि चाहे कुछ भी हो जाये वे अपनी जिम्मेदारियों से भाग नहीं सकते | हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार एक साफ़ और स्वच्छ छवि वाली सरकार है जो अपने कार्यकाल में न ही खाते हैं और ना ही खाने देते हैं | ऐसी ईमानदार और कामदार छवि वाले व्यक्ति के खिलाफ विपक्ष जितना मर्जी छल प्रपंच रचे, उनके मंसूबों पर देश की जनता अपने आप पानी फेर देगी |

इस अवसर पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और वर्तमान में राष्ट्रीय परिषद के सदस्य संजय टंडन ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जिस इंसान (मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ) ने अपनी ऊँगली पकड कर भाजपा में चलना सिखाया आज ऐसी महान शख्सियत के द्वारा उनके नाम की घोषणा राष्ट्रिय परिषद् सदस्य के नाते हो रही है | उन्होंने अपने 10 वर्षों के कार्यकाल के दौरान हुए अनुभवों पर कहा कि उनकी समूची कार्यकारिणी सदस्य, बूथ,मंडल,जिला,मोर्चा, प्रकोष्ठों के सभी पदाधिकारियों ने अपने अपने लगी जिम्मेदारी का भरपूर पालना की है जिसके लिए वे उनका आभार व्यक्त करते हैं | साथ ही उन्होंने कहा कि जब उन्होंने यह जिम्मेदारी संभाली थी तो अपने अनुभव और पार्टी के पदाधिकारियो के सहयोग से आज पार्टी हर मोर्चे पर आगे है | उन्होंने गर्व के साथ कहा कि यह दस वर्ष कैसे बीते पता ही नहीं चला | इन दस वर्षों से काफी कुछ सीखने को मिला | पुराने दोस्तों के साथ साथ नए दोस्त भी बने | सभी लोगों के साथ काम करके सुखद हुआ और अपने कार्यकाल के दौरान हुए कार्यों से वे काफी संतुष्ट हैं | साथ ही उन्होंने सभी कार्यकर्तायों से माफ़ी मांगते हुए कहा कि यदि राजधर्म निभाते हुए उनसे कभी त्रुटि हुई हो तो उसके लिए वे माफ़ी मांगते हैं | उन्होंने नव निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष को परामर्श देते हुए कहा कि यह हमारी परंपरा है कि कोई एक स्थान छोड़ता है तो दूसरा इसको प्राप्त करता है | ऐसे में हमारा यह परम कर्तव्य है कि परिवार के मुखिया की की तरह बिना भेदभाव, गुटबाजी के पार्टी को आगे बढाने के लिए तत्पर रहे | अपने उद्बोदन के उपरान्त जैसे ही प्रदेश अध्यक्ष के लिए अरुण सूद के नाम की घोषणा हुई संजय टंडन ने तुरंत सारी चाबियाँ, रजिस्टर और जरूरी कागजात नवनिर्वाचित अध्यक्ष को सौंपे और उनके उज्जवल भविष्य की मंगलकामना की | गौरतलब है कि प्रदेश अध्यक्ष संजय टंडन ने अपने पदभार को छोड़ने के तुरंत उपरान्त उन्होंने सोशल मीडिया में स्टेटस में अपने नाम के आगे जहाँ जहाँ भी प्रदेश अध्यक्ष लिखा था उसको बदल कर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किया और साथ ही प्रदेश अध्यक्ष के कक्ष के स्थान पर सहयोग कक्ष में जाकर बैठ गए और सभी लोगों से वही मिलने लगे |

कार्यक्रम में जैसे ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जैसे ही प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए अरुण सूद और राष्ट्रीय परिषद् के लिए संजय टंडन के नामों की घोषणा की वैसे ही पूरा सभागार वन्दे मातरम्, भारत माता की जय, भारतीय जनता पार्टी जिंदाबाद, अरुण सूद जिंदाबाद, संजय टंडन जिंदाबाद के नारे लगने शुरू हुए | कार्यकर्तायों का उत्साह देखते ही बनता था | जयघोष आदि के नारों के उपरान्त मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा कि उन्हें आज ख़ुशी है कि जिस चंडीगढ़ के साथ उनका काफी लगाव है वहां के प्रदेश अध्यक्ष के नाम की घोषणा उनके द्वारा हो रही है | उन्होंने अपने पुराने अनुभवों को सांझा किया और नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद और राष्ट्रीय परिषद् के सदस्य संजय टंडन को बधाई प्रदान की और उनके उच्च भविष्य की कामना की | उन्होंने उपस्थित सभी लोगों को परामर्श देते हुए कहा कि सभी लोगों का एक ही धयेय होना चाहिए और वो है पार्टी के प्रचार प्रसार को कैसे आगे बढ़ाना | उसके लिए हमारी पार्टी के अध्यक्ष कई प्रकार की रणनीतियों को बनाते हैं और हम सभी कार्यकर्ताओं को एक अनुशासित सिपाही की भाँती उसकी अनुपालना करनी चाहिए | परिवार का मुखिया अध्यक्ष है और मुखिया कभी भी अपने कुनबे के बारे में न तो गलत करता है और न ही गलत करने की सलाह देता है | हम सभी को जो भी जिम्मेदारी मिले उसे आत्मीयता से निभाना चाहिए | हम सभी के आपसी मतभेद तो हो सकते हैं परन्तु मनभेद नहीं रखना चाहिए तभी सभी के सहयोग से पार्टी निरंतर विकास की और आगे बढती जाती है | हमारी पार्टी के भीतर संस्कार बसते हैं और दुनिया में अगर कोई पार्टी है जिसमे लोकशाही विद्यमान है तो वो भाजपा ही है | यहाँ बिना किसी भेदभाव के लोगों को उच्च पदों पर आसीन होते देखा है | हमारा काम एक सच्चे सिपाही की भांति मर्यादा में रह कर संगठन के प्रति वफादारी और राष्ट्रहित के लिए सदैव तत्पर रहने की भावना को पनपाना चाहिए |

इस अवसर पर नव निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने सभी लोगों का धन्यवाद व्यक्त करते हुए सभी के साथ अपने अनुभवों को सांझा किया और कहा कि ये उनका सौभाग्य है कि उन्हें संजय टंडन जैसे मार्गदर्शक मिले और सांसद किरण खेर का स्नेह प्राप्त हुआ | उन्होंने कहा कि वर्ष 1996 से जब मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर उस समय चंडीगढ़ के संगठन का भी काम देख रहे थे तो उनको समय समय पर खट्टर का मार्गदर्शन प्राप्त होता रहता था | उन्होंने एक कहावत का व्याखान करते हुए जिक्र किया कि जिस प्रकार से जब बच्चा पैदा होता है तो उसको शेहद की बूँद ऐसे व्यक्ति के हाथों पिलाई जाती है जो व्यक्ति परिवार का बड़ा हो और उच्च संस्कार वाला हो , ठीक उसी प्रकार से आज प्रदेश अध्यक्ष के लिए उनके नाम की घोषणा भी उन्ही के द्वारा (यानि कि मनोहर लाल खट्टर) के द्वारा हुई जिन्होंने हमेशा उनको राजनीती में चलना सिखाया | इसके लिए उन्होंने संगठन का बहुत आभार व्यक्त किया |

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
पूर्ण विधि-विधान और मंत्रोचार से रुद्राक्ष के पौधे लगाए स्पॉट लाइट 24 चैनल मीडिया करेगा कोरोना योद्धाओं का सम्मान कार्पोरेट घरानों को बेच दिए किसानों के हित, कांग्रेस नेता परमजीत सिंह का मोदी सरकार पर जोरदार हमला भारत में हर वर्ष मुंह के कैंसर के सवा लाख नए केस, मुंह के कैंसर के 80 प्रतिशत केसों का कारण तंबाकू: डा. राजन साहू प्रसिद्ध सूफी गायक की रचना लॉकडाउन -21-मैं से मसीहा- लॉन्च चंडीगढ़ एन.एच.एम कर्मचारी संघ ने प्रशासनिक निदेशक पोस्ट पर उठाये सवाल गुरुद्वारा नानकसर साहिब में "ज्योति-जोत-दिवस" पाठ का डाला गया भोग ओयो ने चंडीगढ़ वेन्यू पार्टनर के आरोपों से किया इनकार भाषा का कोई मजहब नहीं होता : इरशाद कामिल चंडीगढ़ में शिवसेना की नई कार्यकारणी गठित, मोहित शर्मा महासचिव चुने गए