ENGLISH HINDI Monday, February 17, 2020
Follow us on
 
पंजाब

अवैध माइनिंग के खिलाफ हरकत में आया प्रशासन, मुबारिकपुर घग्गर नदी पर बनाए अवैध पुल को तोड़ा

January 24, 2020 08:17 PM

*ड्रेनेज विभाग ने की कार्रवाई*मुबारिकपुर घग्गर नदी पर माईनिंग माफिया की ओर से बनाया गया था अवैध पुल
डेराबस्सी,पिंकी सैनी
क्षेत्र में चल रही नाजायज माइनिंग खिलाफ शुक्रवार प्रशासनिक अधिकारी हरकत में आ गए हैं। ड्रेनेज विभाग की ओर से बड़ी कार्रवाई करते घग्गर नदी पर माइनिंग माफिया की ओर से बनाए नाजायज पुल को तोड़ दिया गया है। माईनिंग माफिया की ओर से घग्गर पार जमीनों पर अवैध माईनिंग करने के लिए इस पुल का गैर-कानूनी तरीके से अवैध निर्माण किया गया था।

ड्रेनेज विभाग के एसडीओ राघव गर्ग व जेई नरिंद्र कुमार ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि क्रैशर जोन के पिछली ओर घग्गर नदी में नाजायज तौर पर अस्थाई पुल बनाया गया है।  सूचना के आधार पर मौके का दौरा किया गया व क्रशर जोन में स्क्रीनिंग प्लांटों के पिछली ओर घग्गर नदी में यह अस्थाई पुल तैयार किया हुआ था। इस पुल की मदद के साथ माइनिंग माफिया घग्गर के पार जमीनों पर रात के अंधेरे में नाजायज माइनिंग कर सरकार को चूना लगा रहा था जिस को आज हटा दिया गया। जांच की जा रही है कि पुल किसकी ओर से बनाया गया है जिस खिलाफ बनती कार्रवाई की के लिए पुलिस को लिखा जाएगा।

एकत्रित की जानकारी अनुसार पिछले दिनों से क्षेत्र में नाजायज माइनिंग का गोरखधंधा धड़ल्ले के साथ चल रहा है। माइनिंग विभाग की ओर से कार्रवाई न करने कारण माइनिंग माफिया के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। इसी के चलते माइनिंग माफिया की ओर से नाजायज माइनिंग के लिए घग्गर नदी में पाईपें डाल कर गैर-कानूनी तरीके के साथ अस्थाई पुल तैयार कर लिया था। इस पुल की मदद के साथ माइनिंग माफिया घग्गर के चलते पानी को पार कर जमीनों में अवैध माइनिंग करता था।

इस संबंधी गांव ककराली व मुबारिकपुर निवासियों की तरफ से लंबे समय से शिकायतें की जा रही थीं परंतु प्रशासनिक अधिकारी कोई ध्यान नहीं दे रहे थे।

गांव वासियों का तर्क था कि माइनिंग माफिया की ओर से घग्गर में पाईपें डाल कर बनाए अस्थाई पुल के कारण घग्गर के कुदरती बहाव में रुकावट पैदा हो रहा थी। जबकि नियम मुताबिक घग्गर की कुदरती बहाव में रुकावट नहीं डाली जा सकती। गांव वासियों की ओर से इस संबंधी ड्रेनेज विभाग के पास शिकायत की गई थी जिन्होंने हरकत में आते हुए इस कार्रवाई को अंजाम में लाया है।

ड्रेनेज विभाग के एसडीओ राघव गर्ग व जेई नरिंद्र कुमार ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि क्रैशर जोन के पिछली ओर घग्गर नदी में नाजायज तौर पर अस्थाई पुल बनाया गया है। उन्होंने कहा कि सूचना के आधार पर मौके का दौरा किया गया व क्रशर जोन में स्क्रीनिंग प्लांटों के पिछली ओर घग्गर नदी में यह अस्थाई पुल तैयार किया हुआ था। इस पुल की मदद के साथ माइनिंग माफिया घग्गर के पार जमीनों पर रात के अंधेरे में नाजायज माइनिंग कर सरकार को चूना लगा रहा था जिस को आज हटा दिया गया। जांच की जा रही है कि पुल किसकी ओर से बनाया गया है जिस खिलाफ बनती कार्रवाई की के लिए पुलिस को लिखा जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
संगरूर के लौंगोवाल में स्कूल वैन को लगी आग, 4 मासूम जिन्दा जले, मुख्यमंत्री ने दिए घटना की मैजिस्ट्रेट जांच के आदेश जनगणना 2021 की सफलता के लिए राज्य स्तरीय काँफ्रेंस एमरजैंसी के पहले 24 घंटों दौरान मुफ़्त सेवाएं न होने के जारी पत्र को तुरंत वापस लेने के आदेश हरीके वेटलैंड और फिरोजपुर में टूरिज्म प्रोजेक्ट पर चल रहा है काम बुढ्ढा मामले में जांच से 23 व्यक्ति गिरफ़्तार, 36 हथियार बरामद आयोग का मैंबर बताकर कर रहा है लोगों को गुमराह आवारा पशुओं के हल के लिए विधानसभा में प्रस्ताव लाएगी ‘आप’ लुधियाना के अस्पताल को ब्लड बैंक की शर्तों की पालना न करने पर बताओ नोटिस रिश्वत लेता डेयरी इंस्पेक्टर गिरफ्तार विद्यार्थियों को सेवा केन्द्रों से जारी होंगे बस पास