ENGLISH HINDI Monday, February 17, 2020
Follow us on
 
चंडीगढ़

द लास्ट बेंचर्स "और अमृत कैंसर फाउंडेशन ने महिलाओं के लिए लगाया मैमोग्राफी, डेकसा और डेंटल जांच शिविर

January 25, 2020 03:33 PM

चंडीगढ़: एन जी ओ द लास्ट बेंचर्स-हेल्पिंग द हेल्पलेस और अमृत कैंसर फाउंडेशन के आपसी सहयोग से गुरुद्वारा श्री गुरु तेग बहादुर साहिब सेक्टर 34 में द लास्ट बेंचर्स की प्रेजिडेंट सुमिता कोहली की देखरेख में मैमोग्राफी- कैंसर डिटेक्शन, डेकसा कैम्प लगाया गया। डेंटल चेक अप कैम्प का आयोजन डॉक्टर वंदना ठाकुर की देखरेख में आयोजित किया गया।

इस अवसर पर अमृत कैंसर फाउंडेशन और श्री गुरु ग्रंथ साहब सेवा सोसाइटी के प्रेजिडेंट हरजीत सिंह सभरवाल, रविंदर सिंह उर्फ बिल्ला, तेजिंदर सिंह और गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी सेक्टर 34 के प्रेसिडेंट साधू सिंह इत्यादि भी मौजूद थे।ये शिविर विशेष तौर पर महिलाओं के लिए आयोजित किया गया था।

शिविर में लगभग 30 से अधिक महिलाओं के मैमोग्राफी और 50 अन्य के डेकसा टेस्ट किये गए।इस मौके संस्था की महिला सदस्य शशि बाला, दिव्या सिंगला, वीना चौहान, अनिता जिंदल, रितु, तारिक और रीटा भी मौजूद थी।द लास्ट बेंचर्स की प्रेसिडेंट स्मिता कोहली ने सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और कहा कि नववर्ष पर उनकी संस्था ने समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को देखते हुए और कुछ करने के जज़्बे को मन में ठानते हुए समाज से ब्रैस्ट कैंसर जैसी बीमारी को जड़ से उखाड़ फेंकने का प्रण लिया है। 

इस शिविर में लगभग 30 से अधिक महिलाओं के मैमोग्राफी और 50 अन्य के डेकसा टेस्ट किये गए।इस मौके संस्था की महिला सदस्य शशि बाला, दिव्या सिंगला, वीना चौहान, अनिता जिंदल, रितु, तारिक और रीटा भी मौजूद थी।

द लास्ट बेंचर्स की प्रेसिडेंट स्मिता कोहली ने सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और कहा कि नववर्ष पर उनकी संस्था ने समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को देखते हुए और कुछ करने के जज़्बे को मन में ठानते हुए समाज से ब्रैस्ट कैंसर जैसी बीमारी को जड़ से उखाड़ फेंकने का प्रण लिया है। इसी सोच और जज्बे के मद्देनजर ही इस मैमोग्राफी और डेकसा जांच कैम्प का आयोजन किया गया है। इस जांच शिविर में सेक्टर 32 गवर्नमेंट हॉस्पिटल की डॉक्टर टीम ने संचालन किया।

स्मिता कोहली ने बताया कि शिविर का उद्देश्य महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है।स्मिता कोहली ने बताया कि जांच शिविर के दौरान लगभग 30 महिलाओं के मैमोग्राफी और 50 डेकसा टेस्ट किये गए।  उनकी संस्था की ओर से महिलाओं को समय समय पर इस प्रकार के जांच शिविर के माध्यम से जांच करवाते रहने और उचित देखभाल की सलाह दी जाती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
फिल्म "द हंड्रेड बॉक्स" के खिलाफ वूमेन वॉइस चंडीगढ़ द्वारा जोरदार रोष प्रदर्शन महर्षि दयानंद जन्मोत्सव पर भव्य शोभायात्रा आयोजित चंडीगढ़ युवा काँग्रेस ने पुलवामा हमले के शहीदों को दी श्रद्धांजलि पुलवामा के शहीदों को किया नमन वैलेंटाइन डे नही, शहादत दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए: रविंदर सिंह बिल्ला पंजाब यूनिवर्सिटी को आयनिंग विकिरणों के औद्योगिक और अनुसंधान प्रशिक्षण के लिए चुना गया विकासनगर में गंदा पानी पीने क़े लिए विवश हुए लोग वाल्मीकि समाज ने नगर निगम कार्यालय का किया घेराव: राजेश कालिया और कमिश्नर के खिलाफ की नारेबाजी जीएसटी पालन और चुनौतियां विषय पर कार्यशाला का आयोजन राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति हरियाणा की 151वीं बैठक का आयोजन