ENGLISH HINDI Monday, March 30, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मेडीकल व अन्य सेवाओं हेतु पायलट प्रोजैक्ट— पुलिस एमरजैंसी सर्विसिज़ एप (पीईएसए) की शुरूआतकृषि विभाग द्वारा किसानों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम स्थापितबन्दिशों के चलते सभी ज़रूरी वस्तुओं व सेवाओं की सप्लाई निरंतर यकीनी बनाने के लिए आदेशअधिकारित परचून विक्रेता को कंट्रोल्ड कीमतों पर चीनी देगा शूगरफैड: आलीवालकोविड-19 के विरुद्ध जंग तेज़, जीवन बचाओ उपकरणों के भंडार जुटाएप्रवासी मजदूरों की मूवमेंट के दृष्टिगत सभी अंतर्राज्यीय और अंतर-जिला सीमाएं सील करने के निर्देशपहल : ट्राईडेंट उद्योग समूह ने कर्मचारियों के खाते में डाले 25 करोड़ रुपए एडवांसउद्योग और भट्टों को सुरक्षित माहौल देने की शर्त पर प्रवासी मज़दूरों के साथ काम करने की अनुमति
हरियाणा

टिड्डी दल के आगमन के चलते अलर्ट जारी

February 07, 2020 03:09 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
राजस्थान और पंजाब के बाद हरियाणा में टिड्डी दल के आगमन के चलते सतर्कता बरतते हुए अलर्ट जारी किया गया है और टिड्डी दल नियंत्रण एवं सूचना के लिए सुपरविजन टीमें गठित की गई है तथा टिड्डी दल को रोकने के लिए प्रयुक्त होने वाली कीटनाशकों को 50 प्रतिशत सबसिडी पर किसानों को उपलब्ध करवाये जाने का निर्णय लिया गया है।
हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जय प्रकाश दलाल ने किसानों से अपील की है कि वे अपने खेतों का निरीक्षण करें और टिड्डी दिखने पर तत्काल स्थानीय कृषि विकास अधिकारी, हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के कृषि विज्ञान केंद्र या उप कृषि निदेशक व कंट्रोल रूम को सूचना दें और टिड्डी दल को खेत में आने से रोकने के लिए खेतों में तेज आवाज करने के उपकरणों की व्यवस्था करें। उन्होंने कहा कि टिड्डी दल के नियंत्रण के लिए किसानों को प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है। जरूरत के हिसाब से दवाओं की व्यवस्था की जा रही है। किसी तरह से घबराने की जरूरत नहीं है। टिड्डी दिखने पर कंट्रोल रूम को सूचना अवश्य दें।
उन्होंने कहा कि हैफेड, हरियाणा कृषि उद्योग निगम, हरियाणा बीज विकास निगम और हरियाणा भूमि सुधार विकास निगम के माध्यम से टिड्डी के नियंत्रण के लिए क्लोरपायरीफॉस 20 प्रतिशत ईसी और क्लोरपायरीफॉस 50 प्रतिशत ईसी के स्टॉक की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है, ताकि किसानों को 50 प्रतिशत सबसिडी पर उपलब्ध करवाई जा सके। इसके अलावा, किसान बेंडियोकार्ब, डेलटामीथ्रिन, फिप्रोनिल, लैंब्डा और मैलाथिऑन कीटनाशक दवाईयों का भी प्रयोग कर सकते हैं।
श्री दलाल ने कहा कि राजस्थान व पंजाब सीमावर्ती जिला सिरसा, फतेहाबाद, हिसार के अलावा भिवानी, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी व चरखी दादरी जिलों व आसपास के क्षेत्र में पूर्व तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग के टोल फ्री नंबर 18001802117 पर भी किसानों को टिड्डी दल से बचाव बारे जानकारी दी जा रही है। साथ ही चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय, हिसार द्वारा भी किसान जागरूकता एवं बचाव संबंधी कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
प्रवासी मजदूरों की मूवमेंट के दृष्टिगत सभी अंतर्राज्यीय और अंतर-जिला सीमाएं सील करने के निर्देश हरियाणा : कोरोना रिलीफ फंड में 5 करोड़ दिए सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग की जिम्मेवारी बढ़ी: मीणा कोरोना के चलते एक महीने तक बिजली विभाग के सभी कैश काउंटर बंद, सारचार्ज से छूट सरसों और गेहूं की खरीद के व्यापक प्रबंधों के निर्देश कोरोना से निपटने को सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं, सामाजिक व धार्मिक संगठनों का सहयोग जरूरी: कोविन्द हरियाणा में तीन महीने की अवधि के लिए नियुक्त होंगे तक्नीकी कर्मचारी आंगनवाडिय़ों को महीने के राशन की आपूर्ति घर द्वार पर पहुंचाने के निर्देश हरियाणा पुलिस ने आवश्यक वस्तुओं, सेवाओं की सुचारू आपूर्ति के लिए बनाया सिस्टम चिकित्सा और पैरा-मेडिकल स्टाफ को सेवा काल में मिलेगी एक्सटेंशन