ENGLISH HINDI Friday, April 03, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मरकज की तब्लीगी जमात से लौटे छह नागरिकों की पहचान: डीसी सोशल डिस्टेंसिंग से ही बचा जा सकता है कोरोना सेनेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजाकोविड-19 से लड़ने में युद्ध स्तर पर जुटे सीएसआईआर के वैज्ञानिकराष्ट्रपति करेंगे राज्यपालों, लेफ्टिनेंट गवर्नरों एवं राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासकों के साथ कोविड-19 पर चर्चादेश के 410 जिलों में कराया गया राष्‍ट्रीय कोरोना सर्वेक्षण जारीलक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने जरूरतमन्द लोगों में भोजन बांटालॉक डाउन: डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर यूनियन ने प्रधानमंत्री को समस्याओं और मांगों से ट्वीट कर करवाया अवगत
पंजाब

आयोग का मैंबर बताकर कर रहा है लोगों को गुमराह

February 14, 2020 10:45 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग की चेयरपर्सन श्रीमती तेजिन्दर कौर आई.ए.एस. (सेवामुक्त) ने कहा है कि बाबू सिंह पंजावा पुत्र जीत सिंह, गाँव पंजावा, तहसील लम्बी, जि़ला श्री मुक्तसर साहिब, अब एस.सी. आयोग का ग़ैर सरकारी मैंबर नहीं है।
चेयरपर्सन ने प्रेस बयान में बताया कि बाबू सिंह पुत्र जीत सिंह, गाँव पंजावा, तहसील लम्बी, जि़ला श्री मुक्तसर साहिब को कार्यालय सामाजिक न्याय, अधिकारिता और अल्पसंख्यक विभाग, पंजाब के आदेश पीठ अंकण नं:8/92/2005-भस/1054/59 तारीख़ 06-08-2015 के द्वारा पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग का ग़ैर सरकारी मैंबर नियुक्त किया गया था, परन्तु पंजावा के खि़लाफ़ विजीलैंस ब्यूरो, पंजाब द्वारा पचास हज़ार रिश्वत लेने के कारण मुकदमा नं:21 तारीख़ 27-10-2017 अधीन धारा 7,13(2) पी.सी. एक्ट-1988 के अंतर्गत फिऱोज़पुर में मामला दर्ज किया गया था।
इस मामले की गंभीरता को देखते हुए पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग एक्ट 2004 की धारा 4(2)(एफ) अधीन पीठ अंकण नं:8/75/2017 भस/69-700 तारीख़ 13-3-2019 के द्वारा बाबू सिंह पंजावा को पंजाब एस.सी. आयोग में ग़ैर सरकारी मैंबर के पद से हटा दिया गया था लेकिन आयोग के नोटिस में आया है कि बाबू सिंह पंजावा द्वारा अभी भी अपने आप को पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग का मैंबर बता कर आम लोगों को गुमराह कर रहा है।
चेयरपर्सन श्रीमती कौर ने राज्य के लोगों से अपील की है कि वह बाबू सिंह पंजावा के साथ पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग से सम्बन्धित किसी भी तरह के कामकाज के लिए सम्पर्क न करें और यदि बाबू सिंह पंजावा अपने आप को आयोग का मैंबर बता कर लोगों पर प्रभाव डालने की कोशिश करता है तो उसकी शिकायत आयोग को की जाये जिससे उसके खि़लाफ़ कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
नेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजा 3 व्यक्तियों की गिरफ्तारी से पुलिस ने धारीवाल हत्याकांड मामला सुलझाया कोरोना की एंट्री पर रोक लगाने शहरों व गांवों में बेरीगेटिंग शुरु दिल्ली में भाग लेने वालों में तब्लीगी जमात से संबंधित बरनाला के भी थे दो लोग विधायक आवला ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना दो साल का वेतन दिया चेतावनी: ज़रूरी वस्तुओं की अधिक कीमत वसूलने वालों पर की जाएगी सख्त कार्यवाही सिविल डिफेंस वार्डनों को सीडीआई ने दिए वालंटियरों को तैयार रखने के निर्देश बैसाखी पर सिख संगत को एकत्रित न होने का संदेश देने की श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार से अपील सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ाया कोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर