ENGLISH HINDI Friday, April 03, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मरकज की तब्लीगी जमात से लौटे छह नागरिकों की पहचान: डीसी सोशल डिस्टेंसिंग से ही बचा जा सकता है कोरोना सेनेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजाकोविड-19 से लड़ने में युद्ध स्तर पर जुटे सीएसआईआर के वैज्ञानिकराष्ट्रपति करेंगे राज्यपालों, लेफ्टिनेंट गवर्नरों एवं राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासकों के साथ कोविड-19 पर चर्चादेश के 410 जिलों में कराया गया राष्‍ट्रीय कोरोना सर्वेक्षण जारीलक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने जरूरतमन्द लोगों में भोजन बांटालॉक डाउन: डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर यूनियन ने प्रधानमंत्री को समस्याओं और मांगों से ट्वीट कर करवाया अवगत
पंजाब

हरीके वेटलैंड और फिरोजपुर में टूरिज्म प्रोजेक्ट पर चल रहा है काम

February 14, 2020 04:36 PM

फिरोजपुर, मनीष बावा:
बॉर्डर डिस्ट्रिक्ट में पर्यटन व सैर-सपाटे को प्रोत्साहित करने के लिए प्रदेश सरकार की तरफ से फिरोजपुर के शहर के पांच ऐतिहासिक गेटों के कायाकल्प का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। जानकारी विधायक परमिंदर सिंह पिंकी ने दी। उन्होंने बताया कि इन सभी प्रोजेक्ट्स पर काम अगले महीने से शुरू हो जाएगा। सबसे पहले दिल्ली गेट का कायाकल्प किया जाएगा।
विस्तृत जानकारी देते हुए विधायक पिंकी ने बताया कि पंजाब सरकार फिरोजपुर शहर की शानदार विरासतों और धरोहरों को सहेजने और इस शहर को बतौर टूरिस्ट प्लेस विकसित करने के लिए वचनबद्ध है। इस मिशन के तहत करीब 60 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट पाइपलाइन में हैं। करीब 50 करोड़ रुपए की लागत से हरीके वैटलेंड को डवलप करने का प्रोजेक्ट चल रहा है, जिससे यह स्थल एक मेजर टूरिस्ट सपॉट के तौर पर विकसित होगा। इसके अलावा फिरोजपुर शहर को पर्यटन के लिहाज से विकसित करने के लिए 10 करोड़ रुपए की लागत से कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इन सभी प्रोजेक्टों से न सिर्फ शहर विकास के मार्ग पर तेजी से आगे बढ़ेगा ब्लकि विश्वस्तर पर एक टूरिस्ट प्लेस के तौर पर उभरकर सामने आएगा। उन्होंने कहा कि युवाओं को हमारे गौरवशाली इतिहास से वाकिफ करवाने के लिए प्राचीन धरोहरों को संभालना समय की जरूरत है।
उन्होंने कहा कि इन सभी पुराने गेटों के कायाकल्प प्रोजेक्ट के तहत जीरा गेट, मक्खू गेट, दिल्ली गेट, मैगजीन गेट और मुल्तानी गेट का कायाकल्प होगा। सबसे पहले दिल्ली गेट के कायाकल्प का काम शुरू होगा। इन सभी गेटों के कायाकल्प के वक्त इनकी प्राचीन ऐतिहासिक बनावट को संभालने का खास ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि एक प्राचीन व ऐतिहासिक शहर होने की वजह से यहां पर्यटन का काफी स्कोप है। उन्होंने कहा कि भारत-पाक के बंटवारे से पहले यहां से पाकिस्तान को सीधी ट्रेन जाया करती थी और ट्रेड के मामले में फिरोजपुर सबसे अग्रणी जिला हुआ करता था।
विधायक ने बताया कि फिरोजपुर शहर एक ऐतिहासिक शहर है, जिसे सदियों पहले फिरोजशाह तुगलक ने बसाया था। यह चारों तरफ से बाउंड्री वॉल से घिरा हुआ था, जिसमें अलग-अलग जगह पर दस दरवाजे बनवाए गए थे। इनका दरवाजों (गेटों) को अलग-अलग नाम दिए गए थे, दिल्ली गेट, मोरी गेट, बगदादी गेट, जीरा गेट, मक्खू गेट, बांसावाला गेट, अमृतसरी गेट, कसूरी गेट, मुलतानी गेट और मैगजीन गेट। इनमें से पांच गेटों का कायाकल्प किया जाएगा।
विधायक पिंकी के इस प्रयास की शहर के कई समाजसेवी संगठनों ने प्रशंसा की है। समाज सेवी पीडी शर्मा, अशोक गुप्ता, तिलक राज, डॉ. एचएस भल्ला ने कहा कि इससे पहले फिरोजपुर के इन प्राचीन गेटों और धरोहरों को संभालने के इतने बड़े स्तर पर कोई प्रयास नहीं हुआ। इन गेटों के कायाकल्प से शहर की पुरानी शान दोबारा लौट आएगी और लोगों के लिए यह एक दर्शनीय नजारा होगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
नेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजा 3 व्यक्तियों की गिरफ्तारी से पुलिस ने धारीवाल हत्याकांड मामला सुलझाया कोरोना की एंट्री पर रोक लगाने शहरों व गांवों में बेरीगेटिंग शुरु दिल्ली में भाग लेने वालों में तब्लीगी जमात से संबंधित बरनाला के भी थे दो लोग विधायक आवला ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना दो साल का वेतन दिया चेतावनी: ज़रूरी वस्तुओं की अधिक कीमत वसूलने वालों पर की जाएगी सख्त कार्यवाही सिविल डिफेंस वार्डनों को सीडीआई ने दिए वालंटियरों को तैयार रखने के निर्देश बैसाखी पर सिख संगत को एकत्रित न होने का संदेश देने की श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार से अपील सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ाया कोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर