ENGLISH HINDI Friday, April 03, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मरकज की तब्लीगी जमात से लौटे छह नागरिकों की पहचान: डीसी सोशल डिस्टेंसिंग से ही बचा जा सकता है कोरोना सेनेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजाकोविड-19 से लड़ने में युद्ध स्तर पर जुटे सीएसआईआर के वैज्ञानिकराष्ट्रपति करेंगे राज्यपालों, लेफ्टिनेंट गवर्नरों एवं राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासकों के साथ कोविड-19 पर चर्चादेश के 410 जिलों में कराया गया राष्‍ट्रीय कोरोना सर्वेक्षण जारीलक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने जरूरतमन्द लोगों में भोजन बांटालॉक डाउन: डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर यूनियन ने प्रधानमंत्री को समस्याओं और मांगों से ट्वीट कर करवाया अवगत
हरियाणा

फाइनेंस कंपनी का कर्मी बता वाहन चोरी की वारदातों को दिया अंजाम, पुलिस के हत्थे चढा

February 17, 2020 09:01 PM

चंडीगढ, फेस2न्यूज:
हरियाणा पुलिस द्वारा जिला करनाल से पांच लोगों की गिरफ्तारी के साथ एक ऐसे वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है जिन्होने खुद को फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी बता आधा दर्जन से अधिक वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया। पुलिस ने इनके पास से सात वाहन भी बरामद किए।
हरियाणा पुलिस प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि प्रारंभिक पूछताछ के दौरान आरोपियों ने वाहन चोरी के 6 मामलों में अपनी संलिप्तता कबूल की है जिनमें जिला करनाल में चार और कुरुक्षेत्र में दो घटनाएं शामिल हैं। गैंग के सदस्यों को क्राइम यूनिट ने मेरठ रोड करनाल से एक गुप्त सूचना के बाद गिरफ्तार किया। पुलिस ने उनके कब्जे से पांच चोरी की बोलेरो पिकअप और दो अन्य वाहन भी बरामद किए। वाहन चोरी की इन घटनाओं में उनके दो अन्य साथी भी शामिल थे, जो अभी फरार हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी रूपचंद और संदीप ने करीब एक वर्ष तक टाटा फाइनेंस में काम किया था। करीब 6 माह पहले उन्हें इस कंपनी से हटा दिया गया था। जिसके बाद दोनों आरोपीयों ने अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ मिलकर अपना गैंग बना लिया। उन्हें पता था कि फाईनेंसर किस तरीके से फाईनेंस की गाड़ी को अपने कब्जे में लेता है और इस जानकारी का फायदा उठाकर वे फर्जी फाईनेंसर बनकर किसी गाड़ी को बीच रास्ते में रोककर ड्राईवर को बोलते थे कि यह गाड़ी फाईनेंस पर ली गई है और इसकी कई किस्तें बकाया हैं। इसलिए बैंक में जाकर पहले इसकी बकाया किस्तें भरो और यार्ड में आकर बैंक की रसीद दिखाकर अपनी गाड़ी ले जाना। यह कहकर आरोपी गाड़ी लेकर वहां से फरार हो जाते थे। आरोपी सोनू के खिलाफ जिला कैथल में हत्या के प्रयास का एक मामला दर्ज है, जिसमें फिलहाल यह जमानत पर बाहर आया हुआ था। इस संबंध में मामला दर्ज कर आगे की जांच जारी है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
निजी अस्पतालों के डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स, अन्य कर्मचारियों को भी एक्सग्रेशिया मुआवजे की घोषणा हरियाणा में 70,000 लोगों की क्षमता के 467 राहत शिविर स्थापित हरियाणा सरकार का कोविड-19 फाइनेंशियल सपोर्ट ऐलान प्रवासी मजदूरों की मूवमेंट के दृष्टिगत सभी अंतर्राज्यीय और अंतर-जिला सीमाएं सील करने के निर्देश हरियाणा : कोरोना रिलीफ फंड में 5 करोड़ दिए सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग की जिम्मेवारी बढ़ी: मीणा कोरोना के चलते एक महीने तक बिजली विभाग के सभी कैश काउंटर बंद, सारचार्ज से छूट सरसों और गेहूं की खरीद के व्यापक प्रबंधों के निर्देश कोरोना से निपटने को सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं, सामाजिक व धार्मिक संगठनों का सहयोग जरूरी: कोविन्द हरियाणा में तीन महीने की अवधि के लिए नियुक्त होंगे तक्नीकी कर्मचारी