ENGLISH HINDI Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19 के विरुद्ध जंग में महान योगदान के लिए मैडीकल समुदाय की प्रशंसाबकरियां चराने गये बुजुर्ग पर जंगली सूअर का आक्रमण, बुजुर्ग की हुई मौतट्राईडेंट उद्योग समूह जिला के सेहत विभाग को देगा 10 हजार मेडीकल सूटकोरोना वायरस से मारे गए लोगों की अंतिम रस्में निभाने संबंधी हिदायतें जारी हों : ग्रेवाल जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठितमंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजरनिजामूद्दीन मरकज़ में तबलीगी जमात में भाग लेने वालों को दी 24 घंटों की अंतिम समय-सीमाकोरोना से बिना हथियार सीधी लड़ाई लड़ रहे योद्धा सेहत कर्मियों को आज मिलीं बचाव किट्टें
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल: सावड़ा-कुडडूजल विद्युत परियोजना अप्रैल में विद्युत उत्पादन प्रारम्भ

February 20, 2020 07:25 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा)
हिमाचल प्रदेश पावॅर कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा शिमला जिले में पब्बर नदी पर बनाई जा रही 111 मेगॉवाट की सावड़ा कुडडू जल विद्युतपरियोजना की पहली ईकाई अप्रैल, 2020 में विद्युत उत्पादन प्रारम्भ करेगी। इस परियोजना में जल भराव का कार्य प्र्रगति पर हैऔर इसके पॉवर हाउस के मुख्य इन्लेट बाल्व में मार्च 2020 तक जल की आपूर्ति कर दीजाएगी। श्री डी.एस. ठाकुर निदेशक, सिविल, हिमाचलप्रदेश पॉवर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने यह जानकारी स्थानीय जनता एंव पत्रकारों कोसम्बोधित करते हुये आज हाटकोटी में दी।श्री डी.एस. ठाकुर ने कहा कि इस परियोजना के निर्माणमें भौगोलिक परिस्थितियों के कारण विलम्ब हुआ लेकिन निगम के कर्मचारियोंने मुख्य सुरंग के निर्माण में आई विषमपरिस्थितियों का बड़ी कुशलता और परिश्रम से सामना कर इस कार्य को पूर्ण किया। परियोजना के बैराज निर्माण का कार्य पटेल कन्सट्रक्शनकम्पनी और सुरंग निर्माण का कार्य आबान कोस्टल जॉइन्ट वेन्चर को जून 2007 मेंआबंटित किया गया था। इस परियोजना केबैराज एवं पॉवर हाउस का कार्य पूर्ण हो गया था लेकिन मुख्य सुंरग निर्माण मेंअबान कोस्टल जॉइन्ट वेन्चर की लचर कार्यप्रणाली के कारण इस कंपनी के साथ समझौता जनवरी 2014 में निरस्त कर दिया गयाथा। शेष बचे भूमिगत सुरंग के निर्माण कार्य काकरार नवम्बर 2014 में हिन्दुस्तान कन्सट्रक्शन कम्पनी ;भ्ब्ब्द्ध के साथ किया गया। इस परियोजना से 386 मिलियनयूनिट प्रतिवर्ष विद्युत उत्पादन होगा जिससे हिमाचल प्रदेश सरकार को 115 करोड़रूपये का राजस्व प्राप्त होगा। परियोजना में 11.365 किलोमीटर लम्बी, 5 मीटर व्यासकी भूमिगत सुंरग और 37 मेगावाट की 3 फ्रांसिस टरबाइनस लगाई गई हैं।इस परियोजना के प्रत्येक प्रभावित परिवार को 100यूनिट बिजली प्रति माह 10 वर्षों के लिए मुफ्त में दी जाएगी। इसके अलावा परियोजना से होने वाली आय की 1प्रतिशत राशी भूमि विकास प्राधिकरण फण्ड के अर्न्तगत परियोजना प्रभावितों को दीजाएगी। इसके अतिरिक्त परियोजना की लागत की 1ण्5 प्रतिशत राशी लाडा ;स्।क्।द्ध के अन्तर्गत परियोजना प्रभावित क्षेत्र के विकास मेंखर्च की जाएगी। सावड़ा कुडडू जल विद्युतपरियोजना में प्रभावित परिवारों के लिए बागवानी एवं कृषि प्रशिक्षण शिविर,तकनीकि क्षमता विकास एवं शैक्षणिक स्तर सुधार के लिए छात्रवृति प्रदान की गईहै। हिमाचल प्रदेश पावॅर कार्पोरेशन ने सितम्बर 2017 में100 मेगावॉट क्षमता की सैंज जल विद्युत परियोजना और 65 मेगॉवाट क्षमता की कांशगजल विद्युत परियोजना चरण-1 को सफलतापूर्वक प्रारम्भ किया है। इसके अतिरिक्त निगम द्वारा 5 मेगॉवाट क्षमता कीसौर उर्जा संयत्र का निर्माण बिलासपुर जिले के श्री नैना देवी शक्ति पीठ के समीप बैराडोल नामक स्थान पर किया गया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
बीज, खाद तथा कीटनाशक दवाइयों की दुकानें भी खुलेंगी सार्वजनिक स्थानों पर एक मीटर की दूरी नहीं तो होगी एफआईआर कोरोना से जंग में जनप्रतिनिधियों के वेतन भत्ते में कटौती स्वागत योग्य कदम एक्टिव केस फाईंडिंग अभियान के तहत 23 लाख व्यक्तियों की स्वास्थ्य जानकारी प्राप्त शहीद बालकृष्ण का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर ने शोक जताया, गोविंद सिंह ठाकुर ने दी श्रद्धांजलि मीडिया में कोविड-19 बारे अप्रमाणिक समाचारों को रोकने का आग्रह देश के करोड़ों देशवासी लॉकडाउन का पालन कर देश को बचाने में लगे हैं तब्लीगी जमात में भाग लेने वालों की दें त्वरित सूचना राज्यपाल ने की कुलपतियों के साथ चर्चा पुलिस को पीपीई किट व एन-95 मास्क के लिए एक करोड़ रुपये की स्वीकृति