ENGLISH HINDI Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19 के विरुद्ध जंग में महान योगदान के लिए मैडीकल समुदाय की प्रशंसाबकरियां चराने गये बुजुर्ग पर जंगली सूअर का आक्रमण, बुजुर्ग की हुई मौतट्राईडेंट उद्योग समूह जिला के सेहत विभाग को देगा 10 हजार मेडीकल सूटकोरोना वायरस से मारे गए लोगों की अंतिम रस्में निभाने संबंधी हिदायतें जारी हों : ग्रेवाल जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठितमंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजरनिजामूद्दीन मरकज़ में तबलीगी जमात में भाग लेने वालों को दी 24 घंटों की अंतिम समय-सीमाकोरोना से बिना हथियार सीधी लड़ाई लड़ रहे योद्धा सेहत कर्मियों को आज मिलीं बचाव किट्टें
राष्ट्रीय

दिल्ली के स्कूलों में रोबोट पढ़ायेंगे बच्चों को स्वच्छता का पाठ

February 23, 2020 07:50 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा संचालित 19 गुरु हरिकृष्ण पब्ल्कि स्कूलों के बच्चों को स्वच्छता, आरोग्यता तथा स्वास्थय विज्ञान के प्रति सजग करने के लिए स्कूल परिसरों में विभिन्न स्थानों पर ‘‘हैंड वाशिंग’’ मशीनें स्थापित की जायेंगे ताकि स्कूली बच्चे खाना खाने से पहले खेलों तथा शौच जाने के बाद प्रयाप्त तरीके से हाथ धोने की आदत डाल सकें जिससे उन्हें संक्रमण रोगों, अतिसार तथा अन्य रोगों से प्रतिरक्षा प्रदान की जा सके।
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि इस समय स्कूलों में साफ-सफाई के प्र्याप्त प्रबंध उपलब्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि कमेटी प्रत्येक विद्यालय की भौगोलिक तथा बाहरी परिस्थितियों के मद्देनजर विभिन्न स्थानों पर हैंड वाशिंग मशीनें स्थापित करेगी तांकि अधिकतम विद्यार्थियों को निकटतम स्थान पर हैंड वाशिंग सुविधा प्रदान की जा सके।
श्री सिरसा ने बताया कि बच्चों को शारीरिक स्वच्छता के प्रति प्रेरित करने के लिए कमेटी ग्लासगो विश्वविद्यालय स्काटलैंड तथा अमृता विश्वा विद्यापीठम विश्वविद्यालय तमिलनाडू द्वारा विकसित ‘‘पेपे’’ रोबट का सहारा लेगी। उन्होंने बताया कि सात हज़ार रूपये प्रति रोबट की औसतम कीमत के इस रोबोट को हैंड वांशिग स्टेशन के ऊपर दीवार पर लगाया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस जीवन्त लगने वाले रोबोट द्वारा बच्चों से वार्तालाप करके उन्हें स्वच्छता के प्रति प्रेरित किया जायेगा तथा जीवन में स्वच्छता को अपनाने पर उत्साहित किया जायेगा।
श्री सिरसा ने बताया कि इस अभियान में 10 साल से नीचे के गरीब तथा पिछड़े वर्ग के परिवारों के बच्चों को विशेष रूप से जोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान की सफलता की निगरानी के लिए एक विशेष ‘‘एैप’’ बनाया जायेगा। सभी स्कूलों के अध्यापकों को स्कूल परिसर में बच्चों द्वारा स्वच्छता व्यवहार तथा अनुशासन से जुड़ी सभी वीडिया, फोटो इस विशेष ‘‘एैप’’ पर अपलोड करने के निर्देश दिये जायेंगे ताकि कमेटी बच्चों के व्यवहार, स्वास्थय तथा प्रतिरोधात्मक क्षमता का नियमित रूप से आंकलन कर सके। इस अभियान के अंर्तगत स्कूली अध्यापक स्कूल परिसर के विभिन्न स्थानों जैसे क्लासरूम, खेल के मैदान, स्कूली परिसर, शौचालय आदि के फोटो मोबाईल ‘‘एैप’’ पर अपलोड करेंगे जिससे अभियान की सफलता को नियमित रूप से आंका जा सकेगा ताकि बच्चों को अतिसार, वायु प्रदुषण, संक्रमण रोगों आदि से सुरक्षित रखा जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
बकरियां चराने गये बुजुर्ग पर जंगली सूअर का आक्रमण, बुजुर्ग की हुई मौत भारतीय रेल अत्यंत तेज गति से पीपीई-पोशाक का निर्माण करेगी कोविड-19: लोगों को राहत प्रदान करने के कार्यों में पूर्व-सैनिक अपनी भूमिका निभाने को एकजुट हुए ‘विश्व स्वास्थ्य दिवस’ पर प्रधानमंत्री श्री मोदी का संदेश पूर्ण बंदी के बाद भी जन स्वास्थ्य को आर्थिक विकास की तुलना में प्राथमिकता दी जाएगी: उपराष्ट्रपति कोरोना एवं भविष्य की चुनौतियां: मानव ससांधन मंत्रालय ने की "समाधान" चैलेंज की शुरुआत कुपवाड़ा शहीद जवानों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की एम्स ऋषिकेश ने पोर्टेबल वेंटीलेटर सिस्टम प्राणवायु विकसित किया कर्मचारी भविष्य निधि संगठन का जन्म रिकार्ड ठीक करने सम्बन्धी संशोधित निर्देश जारी नौसेना दक्षिणी कमान ने गैर चिकित्‍साकर्मियों के लिए प्रशिक्षण कैप्‍सूल तैयार किया