ENGLISH HINDI Friday, April 10, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19:सर्वश्रेष्ठ साबित करने के लिए लॉरेट फार्मेसी संस्थान ने अपने छात्रों को दिया मौका 30 अप्रैल तक सरचार्ज या ब्याज सहित सभी बकायों पर नहीं लगेगा विद्यार्थियों को तनाव और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए हेल्पलाइन लांचरात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी: रणजीत सिंहकोविड आइसोलेशन वार्डों में कार्यरत डॉक्टरों, नर्सों, पैरा मेडिकल, ड्राइवरों को कोरोना पीरियड के दौरान वेतन दोगुना मिलेगा  रबी फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिए, 24&7 टोल-फ्री हेल्पलाइन सुविधा जिला बरनाला में कोरोना वायरस से हुई पहली मौतकोरोना का करंट! औसत बिजली बिल आने से भड़के शहर वासी, जब काम धंधा नहीं कहा से भरेंगे बिल
हरियाणा

नगर निगम पंचकुला—रची गई साज़िश, आर टी आई कार्यकर्ता को पुलिस के हवाले किया

March 12, 2020 12:18 PM

पंचकुला, संजय मिश्रा:
पंचकुला नगर निगम के ऑफिस में सूचना अधिकार कानून के तहत आधी अधुरी सूचना देने पर प्रथम अपील अधिकारी ने सुनवाई के लिए आवेदक को बुलाया और फिर एक साजिश के तहत प्रथम अपील अधिकारी गायब हो गए और उस अधिकारी की निजी महिला सहायक ने आवेदक को अपने साथ दुर्व्यवहार का आरोप लगाकर पुलिस के हवाले कर दिया।
हिमसिखा कोलीनी पिंजौर निवासी राजीव सचदेवा को पंचकुला नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर सह प्रथम अपील अधिकारी ने सुनवाई के लिए 6 मार्च को अपने ऑफिस में बुलाया लेकिन जब सचदेवा उनके ऑफिस में पहुंचे तो देखा कि साहब ऑफिस में नहीं थे, कुछ देर इंतजार के बाद सचदेवा ने साहब की निजी महिला सहायक को साहब के बारे में पूछा कि आज इनको प्रथम अपील की सुनवाई के लिए बुलाया गया था तो वे कब तक में ऑफिस में उपलब्ध होंगे। तब महिला सहायक द्वारा इंतजार करने को बोला गया। कुछ देर और इंतजार के बाद सचदेवा ने उस महिला सहायक से एक सादे कागज की मांग की जिसपर मिस्टर सचदेवा अपना एक आवेदन लिख कर दे सके ताकि इस सुनवाई में उसकी उपस्थिति दर्ज की जा सके, तो इस पर महिला सहायक भड़क गईं और कहने लगी कि साहब तुम्हारे नौकर नही है जो कि तुम्हारे हिसाब से चलेंगे। इसी बात पर बहस और बढ़ गई जिसपर उस महिला सहायक ने पहले अपने कार्यालय के बाहर मौजूद होमगार्ड को बुलाया फिर पुलिस को बुलाया और सचदेवा के ऊपर अपने साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाकर पुलिस के हवाले कर दिया।
सेक्टर 14 के थाना इंचार्ज ने पुलिस जीप में सचदेवा को एक मुजरिम की तरह थाने लाए और 5 घंटे तक थाने में बिठाकर रखा और फिर छोड़ दिया इस शर्त के साथ कि वह हर सप्ताह थाने में आकर अपनी हाजिरी दर्ज करवाएगा।
मिस्टर सचदेवा ने 6 मार्च को अपने साथ हुई इस घटना की जानकारी 9 मार्च को लिखित रूप में पंचकुला नगर निगम के आयुक्त को देकर मांग की है कि उसके साथ हुए इस दुर्व्यवहार की जांच कराई जाए एवं दोषी कर्मचारी या अधिकारी को कानूनी रूप से दण्डित किया जाए। और ये भी सुनिश्चित किया जाए कि भविष्य में किसी भी सूचना आवेदक के साथ इस तरह के घटना कि पुनरावृत्ति ना हो।
इसके साथ ही सचदेवा ने हमारे संवाददाता को बताया कि वो इस मुद्दे को हरियाणा सूचना आयेाग में भी उठाएंगे और मांग करेंगे कि जिस दस्तावेज का निरीक्षण पंचकुला नगर निगम के कार्यालय में की जानी थी वो निरीक्षण अब सूचना आयोग के कार्यालय में करवाई जाए जिसके लिए संबंधित लोक सूचना अफसर को सभी संबंधित दस्तावेज लेकर आयोग के ऑफिस में आने का आदेश दिया जाये।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
30 अप्रैल तक सरचार्ज या ब्याज सहित सभी बकायों पर नहीं लगेगा विद्यार्थियों को तनाव और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए हेल्पलाइन लांच रात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी: रणजीत सिंह कोविड आइसोलेशन वार्डों में कार्यरत डॉक्टरों, नर्सों, पैरा मेडिकल, ड्राइवरों को कोरोना पीरियड के दौरान वेतन दोगुना मिलेगा   रबी फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिए, 24&7 टोल-फ्री हेल्पलाइन सुविधा जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठित मंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजर कोविड-19 संक्रमण की भ्रामक सूचना पर साइबर सेल की पैनी नज़र, गलत पोस्ट पर हो सकती है सजा एक आईएएस अधिकारी स्थानांत्रित निजी विद्यालयों को निर्देश: फीस जमा करवाने पर तत्काल प्रभाव से रोक