ENGLISH HINDI Friday, April 10, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19:सर्वश्रेष्ठ साबित करने के लिए लॉरेट फार्मेसी संस्थान ने अपने छात्रों को दिया मौका 30 अप्रैल तक सरचार्ज या ब्याज सहित सभी बकायों पर नहीं लगेगा विद्यार्थियों को तनाव और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए हेल्पलाइन लांचरात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी: रणजीत सिंहकोविड आइसोलेशन वार्डों में कार्यरत डॉक्टरों, नर्सों, पैरा मेडिकल, ड्राइवरों को कोरोना पीरियड के दौरान वेतन दोगुना मिलेगा  रबी फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिए, 24&7 टोल-फ्री हेल्पलाइन सुविधा जिला बरनाला में कोरोना वायरस से हुई पहली मौतकोरोना का करंट! औसत बिजली बिल आने से भड़के शहर वासी, जब काम धंधा नहीं कहा से भरेंगे बिल
हिमाचल प्रदेश

मैं जीना सिखाता हूॅं’ अब पंजाबी में उपलब्ध

March 12, 2020 05:20 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) वरिष्ठ साहित्यकार तथा प्रदेश के सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय, धर्मशाला में बतौर उप निदेषक तैनात अजय पाराशर की एड्स पीड़ितों की व्यथा को दर्शाता हिन्दी कहानी संग्रह “मैं जीना सिखाता हूॅं“ अब पाठकों के लिए पंजाबी में उपलब्ध है। जालन्धर के प्रकाषक पॉंच आब द्वारा प्रकाषित इस पुस्तक का अनुवाद प्रसिद्ध पंजाबी एवं हिन्दी साहित्यकार डॉ0 धर्मपाल साहिल ने किया है।
ग़ौरतलब है कि अजय पाराषर की मूल पुस्तक में एड्स पीड़ितों की मनोव्यथा को प्रदर्षित करती 16 कहानियॉं शामिल हैं। इनमें स्त्री विमर्ष पर आधारित एक कहानी “नाराज़गी“ पर विख्यात साहित्यकार एवं फिल्म निर्माता-निर्देषक राजेन्द्र राजन डॉक्यूमेंट्री बना चुके हैं।
अजय पाराषर ने बताया कि वह आजकल ड्रग्स प्रभावितों और पौंग बॉंध विस्थापितों की व्यथाओं पर आधारित कहानियों के अलावा व्यंग्य संग्रह “तेरी डफली मेरा राग“ पर काम कर रहें हैं। इन तीनों पुस्तकें के इस साल के अंत तक प्रकाशित होने की सम्भावना है।
राष्ट्रपति पदक से अलंकृत डॉ0 धर्मपाल साहिल अब तक 35 पुस्तकों का अनुवाद कर चुके हैं। आठ उपन्यास, चार कहानी तथा चार कविता संग्रह, यात्रा संस्मरण एवं दो षोध कार्य के अलावा वह हिन्दी-पंजाबी शब्दकोष के अध्येयता के रूप में विख्यात हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
कोविड-19:सर्वश्रेष्ठ साबित करने के लिए लॉरेट फार्मेसी संस्थान ने अपने छात्रों को दिया मौका 15000 लोगों को होम क्वारंटीन के निर्देश होम क्वारंटीन की उल्लंघना करने पर एक के खिलाफ एफआईआर: डीसी तबलीगी जमात के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के नजदीकी लोगों का पता लगाने निर्देश बीज, खाद तथा कीटनाशक दवाइयों की दुकानें भी खुलेंगी सार्वजनिक स्थानों पर एक मीटर की दूरी नहीं तो होगी एफआईआर कोरोना से जंग में जनप्रतिनिधियों के वेतन भत्ते में कटौती स्वागत योग्य कदम एक्टिव केस फाईंडिंग अभियान के तहत 23 लाख व्यक्तियों की स्वास्थ्य जानकारी प्राप्त शहीद बालकृष्ण का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर ने शोक जताया, गोविंद सिंह ठाकुर ने दी श्रद्धांजलि मीडिया में कोविड-19 बारे अप्रमाणिक समाचारों को रोकने का आग्रह