ENGLISH HINDI Friday, April 10, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोविड-19:सर्वश्रेष्ठ साबित करने के लिए लॉरेट फार्मेसी संस्थान ने अपने छात्रों को दिया मौका 30 अप्रैल तक सरचार्ज या ब्याज सहित सभी बकायों पर नहीं लगेगा विद्यार्थियों को तनाव और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए हेल्पलाइन लांचरात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी: रणजीत सिंहकोविड आइसोलेशन वार्डों में कार्यरत डॉक्टरों, नर्सों, पैरा मेडिकल, ड्राइवरों को कोरोना पीरियड के दौरान वेतन दोगुना मिलेगा  रबी फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिए, 24&7 टोल-फ्री हेल्पलाइन सुविधा जिला बरनाला में कोरोना वायरस से हुई पहली मौतकोरोना का करंट! औसत बिजली बिल आने से भड़के शहर वासी, जब काम धंधा नहीं कहा से भरेंगे बिल
हरियाणा

अधिकारी जनहित को सामने रखकर काम करें: मुख्यमंत्री

March 17, 2020 12:12 PM

गुरूग्राम, फेस2न्यूज:
नवचयनित हरियाणा सिविल सेवा-2020 के अधिकारी जनहित को सामने रखकर काम करें। उन्होंने इन अधिकारियों को तीन आई अर्थात् इंटीग्रिटी, इन्वोल्वमेंट तथा इन्नोवेशन का मंत्र देते हुए कहा कि उनकी भर्ती ‘बिना पर्ची, बिना खर्ची’ से हुई है इसलिए उनसे शुद्धता की अपेक्षा की जाती है।
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल गुरूग्राम के हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान (हिपा) में हरियाणा सिविल सेवा 2020 के चयनित अधिकारियों के ज्वाइंट फाउंडेशन कोर्स के समापन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। हिपा में एचसीएस के चयनित अधिकारियों का यह पहला ज्वाइंट फाउंडेशन कोर्स आयोजित किया गया था जिसमें 136 अधिकारी शामिल हैं। इनमें 45 एचसीएस एग्जीक्यूटिव, 7डीएसपी, 12 ईटीओ, 34 एईटीओ , 19 तहसीलदार, 4 एआरसीएस, 8 बीडीपीओ, 2 ट्रैफिक मैनेजर, 5 डीएफएसओ शामिल हैं। इनका यह कोर्स 27 जनवरी को शुरू हुआ था जिसका सोमवार को समापन हुआ।
मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों से कहा कि पहले भर्तियों में भ्रष्टाचार हुआ करता था लेकिन अब मैरिट के आधार पर ‘बिना पर्ची-बिना खर्ची’ आपकी भर्ती हुई है । उन्होंने कहा कि आप इंटीग्रिटी अर्थात् सच्चे मन से जनता के लिए ईमानदारी से काम करें और इन्वोल्वमेंट अर्थात् टीम को शामिल करते हुए कार्य करें। टीम का अर्थ समझाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने कार्यालय के कार्यों की लिस्ट बनाकर टीम में बांट दें और जहां कमजोरी दिखाई देती हो वहां पर स्वयं लीड लें। इससे कार्यालय के कर्मचारियों में उनके प्रति विश्वास बढ़ेगा कि हमारा ऑफिसर हमारा ध्यान रखता है। तीसरा मंत्र इन्नोवेशन का देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि नए नए विषय जैसे आईटी का प्रयोग आदि इन दिनों आ रहे हैं, उनका प्रयोग करते हुए जनता की बेहतर ढंग से सेवा करें।
उन्होंने कहा कि अधिकारी के तौर पर सेवा करते हुए उनके सामने कई प्रकार की परिस्थितियां आएंगी परंतु उन परिस्थितियों में अपने आप पर कंट्रोल रखते हुए नियम और नीतियों के तहत काम करें। आप शुद्धता व स्वच्छ प्रशासन में आगेे बढ़े। जन आंकाक्षाओं को पूरा करने के लिए नियम और नीतियों का पालन करते हुए रास्ता निकालने की कोशिश करें।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
30 अप्रैल तक सरचार्ज या ब्याज सहित सभी बकायों पर नहीं लगेगा विद्यार्थियों को तनाव और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए हेल्पलाइन लांच रात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी: रणजीत सिंह कोविड आइसोलेशन वार्डों में कार्यरत डॉक्टरों, नर्सों, पैरा मेडिकल, ड्राइवरों को कोरोना पीरियड के दौरान वेतन दोगुना मिलेगा   रबी फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिए, 24&7 टोल-फ्री हेल्पलाइन सुविधा जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठित मंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजर कोविड-19 संक्रमण की भ्रामक सूचना पर साइबर सेल की पैनी नज़र, गलत पोस्ट पर हो सकती है सजा एक आईएएस अधिकारी स्थानांत्रित निजी विद्यालयों को निर्देश: फीस जमा करवाने पर तत्काल प्रभाव से रोक