ENGLISH HINDI Thursday, January 28, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
एसबीपी हाउसिंग प्रोजेक्ट के आनंद टावर की नौवीं मंजिल में लगी आग मां भारती के पाठ के पश्चात कांग्रेस पूर्वांचल सेल ने लहराया तिरंगागणतन्त्र दिवस पर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो के 30 अधिकारियों व कार्मिकों को विशिष्ट सेवा तथा सराहनीय सेवा पदक30,000 रु. की कथित धूसखोरी मामले में क्षेत्रीय श्रम आयुक्त तथा एक व्यक्ति गिरफ्तारध्वजारोहण करने बरनाला पहुंचे स्वास्थय मंत्री सिद्धू को दिखाये काले झंडेदिल्ली में कुछ अराजक तत्वों द्वारा हिंसा असहनीय, किसानों को दिल्ली की सरहदों पर लौटने की अपीलसीटीयू वार्षिक चुनाव : रेल इंजन पैनल ने शेर पार्टी को करारी शिकस्त दी धरमिंदर सिंह राही बने प्रधानचंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस और ओंकार चैरिटेबल ट्रस्ट ने चलाया ट्रैफिक रूल्स एंड रेगुलेशन अवेयरनेस ड्राइव
हिमाचल प्रदेश

महामारी के कठिन समय में सरकार के साथ खड़े हों, दलगत राजनीति से उठकर कार्य करें

March 30, 2020 07:29 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा) भाजपा नेता एवं सरकार के मुख्य सचेतक नरेंद्र बरागटा ने कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और कांग्रेस के विभिन्न नेतागण को सलाह देते हुए कहा कि इस वैश्विक महामारी कारोना वायरस के कठिन समय पर सरकार के साथ खड़े हो और दलगत राजनीति से उठकर कार्य करें बेबुनियाद बयानबाजी करके ध्यान ना भटकाए।
उन्होंने कहा कांग्रेस के कुछ नेता यह समझ नहीं पा रहे हैं कि जो युद्ध महामारी कोरोना वायरस के विरुद्ध चल रहा है वह निर्णायक समय पर पहुंच गया है अगर इस युद्ध को जीतना है तो इस दलगत राजनीति से ऊपर उठना पड़ेगा और तभी हम इस वैश्विक महामारी पर काबू पा सकते हैं। उन्होंने कहा कांग्रेस के नेता अपने गिरेबान में झांके और देखें कि सरकार किस प्रकार सकारात्मक कार्य कर रही है उन्होंने कहा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाथ जोड़कर सभी से निवेदन किया था कि लक्ष्मणरेखा बनाएं और उसको ना तोड़े, तो इस समय हम लोगों को किस प्रकार से राज्य में ला सकते हैं, अगर वह लोग राज्य में आते हैं तो कारोना वायरस का बहुत बड़ा जोखिम प्रदेशवासियों के लिए बढ़ जाता है। यह निर्णय हमें प्रशासन और जिला के डिप्टी कमिश्नरो के ऊपर छोड़ देना चाहिए जब उन्हें उचित समय लगेगा तो उन लोगों को राज्य में लाया जाएगा। ऐसा नहीं है कि सरकार को उनकी चिंता नहीं है तभी तो सरकार ने हिमाचल भवन दिल्ली और चंडीगढ़ में इस प्रकार के लोगों की व्यवस्था भी की है।
उन्होंने कहा हमें लगता है कि प्रदेश की जनता को किसी भी प्रकार के जोखिम में नहीं डालना चाहिए, वैसे भी प्रशासन किसी भी बड़े हादसे के समय जनता को छूट दे रहा है और उचित माध्यम से परमिशन भी दे रहा है।
उन्होंने कहा करोना की लड़ाई में देश एवं प्रदेश की सरकार जोरों से कार्य कर रही है, मुख्यमंत्री और उनकी समस्त टीम प्रदेश के कोने-कोने में अधिकारियों से संपर्क में है और लोगों से सीधे संवाद कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार अपने निर्णय समय-समय पर बदलती है क्योंकि हर रोज धरातल पर रिव्यू बैठके होती है और जिस प्रकार के फीडबैक बैठक में आते हैं उसी के हिसाब से निर्णय किए जाते हैं।
देश में हिमाचल प्रदेश ऐसा राज्य है जिसमें कोरोना वायरस के कम से कम मरीज़ सामने आए हैं और जो मरीज़ आए भी है वह ठीक हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार हर वर्ग के लोगों का ध्यान रख रही है गरीबों के घर राशन पहुंचा रही है ,सभी समस्याएं सुन रही है और किसी भी प्रकार की चिकित्सा सहायता की आवश्यकता हो तो वह भी घर द्वार पहुंचा रही है इसके लिए जयराम सरकार बधाई के पात्र है ।
उन्होंने कहा मुख्यमंत्री रोज प्रदेश की स्थिति को रिव्यू कर रहे हैं और जिस प्रकार से रिपोर्ट आ रही है उसी के हिसाब से निर्णय ले रहे हैं कि जनता में किसी भी प्रकार का त्रास ना बने।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
गुड सेमेरिटन किसी सिविल/आपराधिक दायित्व के लिए जिम्मेवार नहीं: आरटीओ पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय डरोह को देशभर में प्रथम स्थान प्राप्त: डॉ. फुलझेले कोरोना पर अंतिम वार : दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान :अनुराग ठाकुर पंचायतों के पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिए पोलिंग पार्टियां रवाना हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल के निर्णय सियासत: कांगड़ा की राजनीति में ऊफान, संजय रतन ही कांग्रेस के रतन जुर्माने के रूप में 1300 वाहनों से वसूले 18 लाख रुपये पौंग डैम में एच5एन1 वायरस से हुई प्रवासी पक्षियों की मृत्यु कुफरी में भारत का पहला स्की पार्क विकसित करने के लिए समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित ‘बर्ड फलू’ से बचाने के लिए लोगों से प्रांरभिक रोकथाम व नियंत्रण के उपाय करने की अपील